NDTV Khabar

कॉन्सुलर एक्सेस के बाद विदेश मंत्रालय का आया बयान- मुलाकात के समय 'काफी दबाव' में थे कुलभूषण जाधव

कुलभूषण जाधव (Kulbhushan Jadhav) से मुलाकात के बाद भारतीय विदेश मंत्रालय की तरफ से बयान जारी किया गया कि वह काफी दबाव में थे.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
कॉन्सुलर एक्सेस के बाद विदेश मंत्रालय का आया बयान- मुलाकात के समय 'काफी दबाव' में थे कुलभूषण जाधव

कॉन्सुलर एक्सेस के दौरान काफी 'दबाव में' थे कुलभूषण जाधव. (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. कॉन्सुलर ऐक्सेस के दौरान दबाव में थे कुलभूषण जाधव
  2. भारत की तरफ से गौरव अहलुवालिया ने की मुलाकात
  3. भारत जाधव की रिहाई के लिए कृतसंकल्प: MEA
नई दिल्ली:

पाकिस्तान की जेल में बंद पूर्व भारतीय नौसेना अधिकारी कुलभूषण जाधव (Kulbhushan Jadhav) से सोमवार को भारतीय अधिकारी ने मुलाकात की. पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय ने एक दिन पहले ही कुलभूषण जाधव को कॉन्सुलर एक्सेस (Consular Access) देने की बात कही थी, जिसके बाद यह मुलाकात संभव हो सकी. भारतीय अधिकारी गौरव अहलुवालिया ने कुलभूषण जाधव (Kulbhushan Jadhav News) से मुलाकात की. कुलभूषण जाधव (Kulbhushan Jadhav) से मुलाकात के बाद भारतीय विदेश मंत्रालय की तरफ से बयान जारी किया गया. विदेश मंत्रालय ने 'मुलाकात के दौरान कुलभूषण जाधव काफी दबाव में थे.' विदेश मंत्रालय की तरफ से कहा गया कि 'विस्तृत रिपोर्ट मिलने के बाद अगला कदम उठाया जाएगा.'

पाकिस्तान की जेल में बंद कुलभूषण जाधव से भारतीय अधिकारी ने की मुलाकात, ICJ के आदेश के बाद मिला कॉन्‍स्‍यूलर एक्सेस


टिप्पणियां

बता दें कि भारत की ओर से अधिकारी गौरव अहलुवालिया ने कुलभूषण जाधव से करीब 2 घंटे तक बातचीत की. पाकिस्तान ने कॉन्सुलर एक्सेस देने का फैसला अंतरराष्ट्रीय कोर्ट के फैसले के तहत किया. 49 साल के कुलभूषण जाधव भारतीय नौसेना के पूर्व अधिकारी हैं और अप्रैल 2017 में पाकिस्तान की फौजी अदालत ने जासूसी और आतंकवाद के आरोप में उन्हें मौत की सज़ा सुनाई थी.

VIDEO: कुलभूषण जाधव मामले में कॉन्सुलर एक्सेस लेगा भारत



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... शाहरुख खान से फैन ने पूछा 'फिल्में फ्लॉप हो रही हैं, कैसा लग रहा है?', एक्टर ने करारा जवाब देकर किया मुंह बंद

Advertisement