जलगांव में 4 मासूमों की जघन्य हत्या की गुत्थी अनसुलझी, आरोपी गिरफ्तारी न होने से आक्रोश

Maharashra :महाराष्ट्र के जलगांव जिले के रावेर इलाके में 4 मासूमों की हत्या की गुत्थी अभी तक अनसुलझी है. पुलिस द्वारा आरोपी युवकों की गिरफ्तारी न करने से ग्रामीणों में आक्रोश है. मृतकों के परिजनों ने आरोपियों को उनके हवाले करने की मांग की है

जलगांव में 4 मासूमों की जघन्य हत्या की गुत्थी अनसुलझी, आरोपी गिरफ्तारी न होने से आक्रोश

महाराष्ट्र के जलगांव के रावेर इलाके में चार मासूम बच्चों की हुई थी हत्या (प्रतीकात्मक फोटो)

मुंबई:

महाराष्ट्र के जलगांव जिले के रावेर इलाके में 4 मासूमों की हत्या की गुत्थी अभी तक अनसुलझी है. पुलिस द्वारा आरोपी युवकों की गिरफ्तारी न करने से ग्रामीणों में आक्रोश है. मृतकों के परिजनों और ग्रामीणों ने आरोपियों को उनके हवाले करने की मांग की है, ताकि वह उन्हें खुद सजा दे सकें.

पुलिस ने केस में बलात्कार और पॉक्सो एक्ट की धाराएं भी जोड़ी हैं. इस मामले में 7 से 8 युवकों को हिरासत में लिया गया है लेकिन अभी उन्हें आरोपी मानने से इनकार कर दिया है. इसको लेकर इलाके में नाराजगी है. वारदात की गंभीरता देख राज्य के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने शनिवार 17 अक्टूबर को खुद मौके पर जाकर पीड़ित परिवार को दिलासा दी थी. मामले में पहले सिर्फ हत्या की धारा लगाने वाली पुलिस ने अब बलात्कार और पाक्सो की धारा भी जोड़ दी है.

Newsbeep

बच्चों को छोड़ परिवार बाहर गया था
पीड़ित परिवार मूल रूप से मध्यप्रदेश का है, जो जलगांव के रावेर बारखेड़ा में बसा है.  15 अक्टूबर को 6 से 13 साल के 4 बच्चों को घर छोड़ परिजन अपने रिश्तेदार के अंतिम संस्कार में हिस्सा लेने गए थे. इन 4 बच्चों में 2 लड़के और 2 लड़कियां थीं. मृतक बच्चों के बड़े भाई ने बताया कि  चारों छोटे थे इसलिए उसने अपने दोस्तों को कहा था कि जरा उनका खयाल रखना लेकिन उन्होंने ही उसके भाई -बहनों की जान ले ली.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


आईजी ने दिया जल्द कार्रवाई का भरोसा
इलाके के आई जी प्रताप दीघावकर ने मामले में ये धाराएं जोड़ने की जानकारी दी. दीघावकर के मुताबिक, मौके के हालात और वैज्ञानिक सबूतों के आधार पर धाराएं लगाई गई हैं. फिर गिरफ्तारी क्यों नही?  ये पूछने पर उन्होंने बताया कि सौ फीसदी तस्दीक होने के बाद उचित कार्रवाई की जाएगी.