NDTV Khabar

महाराष्ट्र के राज्यपाल ने सोचा नहीं कि 'रात है ऐसी मतवाली तो सुबह का आलम क्या होगा', NDTV से बोले वरिष्ठ वकील

वरिष्ठ वकील और संविधान के जानकार संजय हेगड़े ने कहा कि अभी मैच जारी है, राज्यपाल के फैसले को अनुचित कह सकते हैं, गैरकानूनी नहीं

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां

खास बातें

  1. राज्यपाल थोड़ा सा वेरीफाई कर लेते तो मामला इतना गड़बड़ नहीं होता
  2. फ्लोर टेस्ट को ज़्यादा वक़्त तक टाला नहीं जा सकता
  3. बीजेपी के कहने पर कानून या संविधान नहीं बदल जाता है
नई दिल्ली:

सुप्रीम कोर्ट के महाराष्ट्र (Maharashtra) को लेकर फैसले के बाद वरिष्ठ वकील और संविधान के जानकार संजय हेगड़े ने कहा कि अभी मैच जारी है, यह कह सकते हैं कि कल पता लगेगा. सारे पत्र को देखकर कार्यवाही होगी. उन्होंने कहा कि राज्यपाल भगतसिंह कोश्यारी के फैसले को अनुचित कह सकते हैं, गैरकानूनी नहीं है. फैसला बाद में बदला जा सकता है. संजय हेगड़े ने NDTV से कहा कि इमरजेंसी तो थी नहीं, पर पुराना गाना है... 'रात है ऐसी मतवाली तो सुबह का आलम क्या होगा.' शायद राज्यपाल ने सुबह का आलम नहीं देखा है.

उन्होंने कहा कि राज्यपाल थोड़ा सा गौर कर लेते वेरीफाई कर लेते तो मामला इतना गड़बड़ नहीं होता. फ्लोर टेस्ट को ज़्यादा वक़्त तक टाला नहीं जा सकता है. तुरंत नहीं हो सकता है, पर जल्द हो सकता है.

महाराष्ट्र में कैसे पलट गई बाजी, कैसे फिर से सीएम की कुर्सी पर पहुंचे फडणवीस? यह है पर्दे के पीछे का खेल


हेगड़े ने कहा कि अजीत पवार अब एनसीपी के नेता नहीं हैं, उनको विहप जारी करने का अधिकार नहीं है. नए नेता का नाम ऐलान कर चुके हैं. इसमें कोई दो राय नहीं है, अजीत पवार इस फैसले को कोर्ट में जाकर चुनौती दें.

महाराष्ट्र में दोहराया जा रहा 41 साल पुराना इतिहास, अब चाचा की जगह भतीजा हुआ बागी

उन्होंने कहा कि मैं नहीं मानता कि बीजेपी के कहने पर कानून या संविधान बदल जाता है. आज का फैसला यही कह सकते हैं कि समझदार के लिए इशारा काफी है. आप फ्लोर टेस्ट टाल नहीं सकते हैं.

अजित पवार ने Tweet कर PM मोदी का धन्यवाद किया और 'स्थिर सरकार देने का' भरोसा जताया

टिप्पणियां

VIDEO : 30 तारीख को फिर से हमारी विजय होगी : अहमद पटेल



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... NDTV Exclusive: NPR को लेकर कपिल सिब्बल का बड़ा बयान, कहा - सरकार लोगों की नागरिकता छीनने के लिए ही तो...

Advertisement