Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

महाराष्ट्र पर फैसला आने तक विधायकों को 'संभालने' की कोशिश, इन नेताओं को मिली है जिम्मेदारी

कांग्रेस, एनसीपी और शिवसेना अपने-अपने विधायकों को होटलों में ठहराने की व्यवस्था की है, ताकि भाजपा और एनसीपी का बागी गुट उनकी एकता में सेंध न लगा पाएं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
महाराष्ट्र पर फैसला आने तक विधायकों को 'संभालने' की कोशिश, इन नेताओं को मिली है जिम्मेदारी

Maharashtra News: कांग्रेस, NCP और शिवसेना ने अपने-अपने विधायकों को होटलों में ठहराने की व्यवस्था की है

मुंबई:

कांग्रेस, एनसीपी और शिवसेना अपने-अपने विधायकों को होटलों में ठहराने की व्यवस्था की है, ताकि भाजपा और एनसीपी का बागी गुट उनकी एकता में सेंध न लगा पाएं. शिवसेना ने अपने विधयकों को होटल ललित में, कांग्रेस ने जेडबल्यू मैरिअट में और एनसीपी ने रिनेसां में ठहराया है. शिवसेना नेता सुभाष देसाई शिवसैनिक विधायकों से संपर्क बनाए हुए हैं. होटल की घेराबंदी की गई है और वहां से किसी विधायक को बाहर जाने की अनुमति नहीं है. शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे के निर्देश पर विधायकों की सुरक्षा की जिम्मेदारी मिलिंद नार्वेकर संभाल रहे हैं. 

विरोधियों की 'आधी रात' टिप्पणी पर सुशील मोदी का जवाब, कहा- देश को आजादी भी...

उद्धव के उत्तराधिकारी आदित्य ठाकरे भी विधायकों से मिलकर उनका मनोबल बढ़ाने में जुटे हैं. एनसीपी में विधायकों को संभालने की जिम्मेदारी जितेंद्र अहवद संभाल रहे हैं. वह खासतौर से गणेश नाइक पर नजर रख रहे हैं, जिन्होंने चुनाव से पहले भाजपा से संपर्क साधने की कोशिश की थी. पार्टी प्रमुख शरद पवार स्वयं अपने विधायकों से मिल रहे हैं, जबकि मुंबई इकाई के प्रमुख नवाब मलिक और विधायक दल के नेता जयंत पाटिल होटल रिनेसां का लगातार चक्कर लगा रहे हैं. 


अजित पवार के दावे पर महाराष्ट्र के पूर्व सीएम ने बीजेपी पर साधा निशाना, कहा- अगर आप भरोसा नहीं...

टिप्पणियां

वहीं, कांग्रेस अपने विधायकों की निगरानी के लिए दिल्ली से आए नेताओं पर निर्भर है. पार्टी ने शुरुआत में अपने विधायकों को मुंबई से बाहर किसी होटल में ठहराने की योजना बनाई थी, लेकिन सुप्रीम कोर्ट का आदेश आने की उम्मीद व शरद पवार की सलाह पर पार्टी ने अपने विधायकों को मुंबई में ही ठहराने का निर्णय लिया. कांग्रेस के विधायक खासतौर से पूर्व मुख्यमंत्री अशोक चव्हाण और पृथ्वीराज चव्हाण की निगरानी में हैं. इन दोनों की अनुमति के बिना कोई कांग्रेस विधायकों से नहीं मिल सकता. 

Video: महाराष्‍ट्र में आखिर क्‍या है बीजेपी का गेम प्‍लान?



दिल्ली चुनाव (Elections 2020) के LIVE चुनाव परिणाम, यानी Delhi Election Results 2020 (दिल्ली इलेक्शन रिजल्ट 2020) तथा Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... Bhojpuri Video Song: खेसारी लाल यादव के नए गाने ने मचाई धूम, इंटरनेट पर Video हुआ वायरल

Advertisement