NDTV Khabar

PMC बैंक के ग्राहक गुजारे के लिए गहने गिरवी रखने को मजबूर, दिन-रात करेंगे प्रदर्शन

पीएमसी खाताधारकों पर बैंक से 25 हजार से ज्यादा रकम निकालने पर पाबंदी का मुंबई में ग्राहकों पर बुरा असर

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
PMC बैंक के ग्राहक गुजारे के लिए गहने गिरवी रखने को मजबूर, दिन-रात करेंगे प्रदर्शन

मुंबई में पीएमसी बैंक के ग्राहक नकदी न मिलने से परेशान हैं.

खास बातें

  1. बीमारों के पास दवाइयों के लिए भी नहीं हैं पैसे
  2. कई पीड़ित परिवार गहने बेचकर चला रहे हैं घर
  3. जरूरतें पूरी करने के लिए कर्ज लेना मजबूरी
मुंबई:

आरबीआई की ओर से पीएमसी खाताधारकों पर बैंक से 25 हजार से ज्यादा रकम निकालने पर पाबंदी का ग्राहकों पर बुरा असर हो रहा है. लोग अपना गुजारा नहीं कर पा रहे हैं. फीस और दवाइयों के लिए भी लोगों के पास पैसे नहीं हैं. किसी परिवार में शादी है और वह पैसा न होने के कारण परेशान है. किसी परिवार में गंभीर बीमारी से पीड़ित सदस्य के इलाज के लिए पैसे नहीं हैं. बैंक में पैसा होने के बावजूद रकम निकालने पर रोक के कारण बैंक के खाताधारक जरूरतें पूरी करने के लिए दर-दर पर जाकर कर्ज लेने, गहने गिरवी रखने के लिए मजबूर हैं.         

पीड़ित बाल अहलूवालिया ने कहा कि 'हमने देख लिया कोई हमारा नहीं है. हमने दुनिया के सामने खड़े होकर कहा था मैं भी चौकीदार, चौकीदार साहब जागिए, आपके आंखों के नीचे से चोरी हुई है.'


करीब 41 साल काम करने के बाद अपनी पूरी जमा पूंजी पीएमसी बैंक में रखने वाले बाल अहलूवालिया पिछले दो हफ्तों से बैंक में रोज़ चक्कर लगा रहे हैं. इस साल इनके बेटे को मास्टर्स की पढ़ाई करने के लिए कनाडा जाना है, लेकिन पैसे नहीं होने के कारण अब एडमिशन कैंसिल होने की आशंका है. खुद का पैसा होने के बाद दूसरी जगह से कर्ज लेना पड़ रहा है. बाल अहलूवालिया कहते हैं कि 'बेटे का एडमिशन कनाडा में हुआ है. अब वहां से संदेश आया है कि फीस नहीं भरा तो एडमिशन रद्द. आप बताइए मैं क्या करूं?'

वित्त मंत्री ने की PMC के नाराज ग्राहकों से मुलाकात, कांग्रेस ने कुछ यूं कसा तंज

61 वर्षीय विश्वनाथ शेट्टी की बेटी की जनवरी में शादी है. बैंक से लेन-देन बंद होने के दो दिन पहले ही उन्होंने लाखों रुपये बैंक में जमा करवाए. अब जब शादी में खर्च करने के लिए पैसे निकालने हैं तो बैंक केवल 25 हजार रुपये दे रहा है. विश्वनाथ शेट्टी की आंखें नम हैं और उन्हें नहीं सूझ रहा कि आगे क्या करें. विश्वनाथ शेट्टी ने कहा कि मेरी बेटी मुझसे कहती है पापा आप चिंता मत करो हम कुछ कर लेंगे. मैं उनसे कहता हूं कि तेरी शादी मैं ही करवाऊंगा.

PMC बैंक घोटाले में ED की बड़ी कार्रवाई, HDIL के प्रवर्तक का बंगला किया सील

पीएमसी बैंक की ओर से पैसों के लेनदेन पर लगी रोक के बाद से ही लोग परेशान हैं और अपने भविष्य को लेकर चिंतित. मंजुला कोटियान का सारा पैसा पति के इलाज पर खर्च हो गया. कुछ पैसा उन्होंने बेटी की शादी और भविष्य के लिए जमा किया था. लेकिन अब गहने गिरवी रखकर गुजारा करना पड़ रहा है. हार्ट सर्जरी कराने वाले मरीजों के पास दवाइयों के भी पैसे नहीं हैं. मंजुला कोटियान ने कहा कि 'परसों हमने दो गहनों को गिरवी रखा तब हमारा गुजारा हुआ. हमारे पास कैश नहीं है. अब क्या करें?' पीड़ित शंकर कोटियान ने कहा कि 'परसों से हम लोगों ने खाना नहीं खाया, ऐसी हालात है.'

PMC बैंक केस में एक और बड़ा खुलासा, HDIL के प्रमोटर्स राकेश और सारंग वाधवा की लंदन और दुबई में भी अकूत संपत्ति

एक पीड़ित ने कहा कि 'एक डॉक्टर की फीस पांच हजार रुपये है. दवाई महंगी हैं. हमारी बेटी की किडनी ट्रांसप्लांट हुई है. उसकी दवाई के लिए भी पैसे लगते हैं. हमारा ही पैसा हमें नहीं मिलता है. मोदीजी क्या कर रहे हैं?'

PMC बैंक क्राइसिस पर एक्ट्रेस का छलका दर्द, बोलीं- गहने बेचकर चलाना पड़ रहा है खर्च...

आर्थिक हालात से तंग आकर अंधेरी में पीएमसी ग्राहकों ने इस बार की दिवाली को काली दिवाली का नाम दिया है और इसके लिए सरकार को जिम्मेदार ठहराया है. अब यह लोग दिन-रात बैंकों के बाहर प्रदर्शन करके अपना पैसा सरकार से मांगेंगे.

VIDEO : पीएमसी बैंक के खाताधारक परेशान

टिप्पणियां



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement