बीजेपी को सदन में हराएंगे, NCP गठबंधन की सरकार बनेगी और हमारा विधानसभा अध्‍यक्ष होगा: नवाब मलिक

एनसीपी नेता नवाब मलिक ने कहा कि शपथ ग्रहण के दौरान अजित पवार के साथ 10 विधायक उनके साथ थे. चार विधायक वापस लौट आए हैं. सभी विधायक वापस लौट आएंगे.

बीजेपी को सदन में हराएंगे, NCP गठबंधन की सरकार बनेगी और हमारा विधानसभा अध्‍यक्ष होगा: नवाब मलिक

एनसीपी नेता नवाब मलिक (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

एनसीपी नेता नवाब मलिक ने कहा कि शपथ ग्रहण के दौरान अजित पवार के साथ 10 विधायक उनके साथ थे. चार विधायक वापस लौट आए हैं. सभी विधायक वापस लौट आएंगे. नवाब मलिक ने कहा कि सदन में देवेंद्र फडनवीस की सरकार को हराएंगे और अपनी सरकार बनाएंगे. नवाब मलिक ने कहा कि विधायकों को फोन कर विचार-विमर्श करने के नाम पर बुलाया गया. उनमें से 4 विधायक वापस लौट आए हैं और अन्‍य विधायक भी वापस लौट आएंगे. नवाब मलिक ने कहा कि हमारी सरकार बनेगी और स्‍पीकर एनसीपी का ही बनेगा.

महाराष्‍ट्र में बीजेपी-एनसीपी की सरकार बनने के बाद कांग्रेस की प्रेस कांफ्रेंस, कही ये 5 बड़ी बातें 

इससे पहले शरद पवार ने अपने प्रेस कांफ्रेंस में कहा कि शिवसेना की अगुआई में हम सभी एकजुट थें और एकजुट रहेंगे. शरद पवार ने कहा कि अजित पवार के पास 54 विधायकों के हस्‍ताक्षर वाली चिट्ठी है. हम अजित के खिलाफ एक्‍शन लेंगे. उन्‍होंने कहा कि अजित पवार से ऐसी उम्‍मीद कतई नहीं थी. पत्रकारों द्वारा पूछे गए एक सवाल के जवाब में शरद पवार ने कहा कि मुझे कोई चिंता नहीं है, मेरे साथ पहले भी ऐसा हो चुका है. पवार ने कहा कि हमारे पास नंबर है, सरकार हम ही बनाएंगे. उन्‍होंने कहा कि ये सरकार सदन में अपना बहुमत साबित नहीं कर पाएगी.  

इससे पहले सुबह 8 बजे बीजेपी नेता देवेंद्र फडनवीस ने एनसीपी के समर्थन से महाराष्‍ट्र के मुख्‍यमंत्री पद की और एनसीपी नेता अजित पवार ने उपमुख्‍यमंत्री पद की शपथ ली.

महाराष्ट्र में बड़े उलटफेर के बाद बोले केंद्रीय मंत्री राम विलास पासवान- सड़क पर वही जानवर मरता है जो...

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

किसी दल को नहीं मिला था बहुमत
आपको बता दें कि महाराष्ट्र विधानसभा की 288 सीटों के लिए 21 अक्टूबर को चुनाव हुए थे और 24 अक्टूबर को परिणाम आए थे. चुनाव में बीजेपी को 105, शिवसेना को 56, एनसीपी को 54 और कांग्रेस को 44 सीटें मिली थीं. किसी भी पार्टी या गठबंधन के सरकार बनाने का दावा पेश नहीं करने के बाद 12 नवंबर को  राज्य में राष्ट्रपति शासन लगा दिया गया था.

Video: देवेंद्र फडणवीस ने ली सीएम पद की शपथ, अजित पवार बने डिप्टी सीएम