NDTV Khabar

महाराष्ट्र में शिवसेना के साथ मिलकर सरकार बनाने पर NCP का बड़ा बयान, कहा -हम वैकल्पिक सरकार के लिए तैयार

उन्होंने कहा कि अगर शिवसेना विधानसभा में खुदको बीजेपी से अलग कर ले और बीजेपी के पक्ष में मत न दे तो हम वैकल्पिक सरकार बनाने पर विचार कर सकते हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
महाराष्ट्र में शिवसेना के साथ मिलकर सरकार बनाने पर NCP का बड़ा बयान, कहा -हम वैकल्पिक सरकार के लिए तैयार

NCP नेता ने महाराष्ट्र में सरकार बनाने को लेकर दिया बड़ा बयान

नई दिल्ली:

महाराष्ट्र में विधानसभा चुनाव के बाद अभी तक यह स्थिति साफ नहीं है कि राज्य में कौन सी पार्टी या कौन सा गठबंधन सरकार बनाएगी. राज्य में बीजेपी और शिवसेना के बीच आपसी खींचतान के बीच NCP के नेता नवाब मलिक ने बड़ा बयान दिया है. उन्होंने कहा कि अगर शिवसेना विधानसभा में खुदको बीजेपी से अलग कर ले और बीजेपी के पक्ष में मत न दे तो हम वैकल्पिक सरकार बनाने पर विचार कर सकते हैं. उन्होंने बताया कि एनसीपी ने 12 नवंबर को अपने सभी विधायकों की बैठक बुलाई है. इस बैठक में पार्टी अध्यक्ष शरद पवार भी मौजूद रहेंगे. 

कहीं BJP-शिवसेना की तनातनी में राष्ट्रपति शासन ही न लग जाए महाराष्ट्र में...

कुछ दिन पहले ही कांग्रेस नेता अशोक चव्हाण ने बुधवार को कहा कि अगर भाजपा और शिवसेना महाराष्ट्र में सरकार नहीं बनाती हैं तो उनकी पार्टी और राकांपा संयुक्त रूप से आगे की कार्रवाई का फैसला करेंगी. महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री ने मीडिया से कहा 21 अक्टूबर के चुनाव में कांग्रेस और राकांपा को विपक्ष में बैठने का जनादेश मिला था. चव्हाण ने कहा था कि विधानसभा चुनाव में किसी भी पार्टी को बहुमत नहीं मिला और यही वजह है कि कांग्रेस का मानना है कि भाजपा को सत्ता में नहीं होना चाहिए.


संजय राउत से मुलाकात के बाद बोले NCP चीफ शरद पवार- हम विपक्ष में ही रहेंगे, शिवसेना से नहीं मिला कोई प्रस्ताव

नांदेड़ जिले में भोकर से नवनिर्वाचित विधायक ने कहा था पिछले पांच साल में राज्य को बहुत नुकसान हुआ है. किसान संकट में हैं. आर्थिक हालत ठीक नहीं है.' उनकी पार्टी के शिवसेना नीत सरकार को समर्थन देने की संभावना के बारे में पूछे जाने पर पूर्व एमपीसीसी अध्यक्ष ने कहा था कि अगर आने वाले दिनों में भाजपा और शिवसेना सरकार नहीं बना पाती हैं तो कांग्रेस और राकांपा साथ मिलकर मुद्दे पर फैसला लेंगी. राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) लगातार कह रही है कि राकांपा और कांग्रेस को विपक्ष में बैठने का जनादेश मिला है.

महाराष्‍ट्र के इस नेता ने कहा, शिवसेना के पास बीजेपी के साथ सरकार बनाने के अलावा कोई विकल्प नहीं

चव्हाण ने कहा था कि महाराष्ट्र में शिवसेना के नेतृत्व वाली सरकार को समर्थन के संबंध में कोई भी फैसला उनकी पार्टी और उसकी सहयोगी राकांपा साथ मिलकर लेगी. महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि जब तक कांग्रेस और राकांपा एक साथ राजी नहीं होती है, मुद्दे पर आगे नहीं बढ़ा जाएगा. 21 अक्टूबर को हुए विधानसभा चुनाव में किसी भी पार्टी को बहुमत नहीं मिला और यही वजह है कि कांग्रेस का मानना है कि भाजपा को सत्ता में नहीं होना चाहिए.

महाराष्ट्र में शिवसेना और आरपीआई के साथ सरकार बनाने की कोशिश करेगी बीजेपी : सुधीर मुनगंटीवार

टिप्पणियां

वहीं,  महाराष्ट्र में सत्तारूढ़ भाजपा और शिवसेना को जल्द से जल्द सरकार बनाने का सुझाव देने के साथ ही राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) प्रमुख शरद पवार ने कहा कि उनकी पार्टी और सहयोगी पार्टी कांग्रेस ‘जिम्मेदर विपक्ष' की तरह काम करेंगी. पवार ने शिवसेना के वरिष्ठ नेता एवं राज्यसभा सांसद संजय राउत से बुधवार सुबह मुलाकात के बाद संवाददाता सम्मेलन में उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाली पार्टी को सरकार बनाने के लिए समर्थन देने की अटकलों को खारिज कर दिया.

VIDEO: खबरों की खबर: महाराष्ट्र में सत्ता पर जारी है महा संग्राम



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement