NDTV Khabar

समस्‍तीपुर में तेजस्‍वी यादव ने कहा, नीतीश कुमार हैं नैतिक भ्रष्‍टाचार के 'भीष्‍म पितामह'

तेजस्‍वी यादव ने कहा कि नीतीश कुमार राज्‍य की जनता को धोखा देकर गांधी के हत्‍यारों से मिल गए हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
समस्‍तीपुर में तेजस्‍वी यादव ने कहा, नीतीश कुमार हैं नैतिक भ्रष्‍टाचार के 'भीष्‍म पितामह'

आरजेडी नेता तेजस्वी यादव 'जनादेश अपमान यात्रा' निकालकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर वादाखिलाफी का आरोप लगा हरे हैं.

खास बातें

  1. आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने सीएम नीतीश कुमार पर किया जमकर हमला
  2. कहा, नीतीश उस मोदी से मिल गए हैं जो आरक्षण खत्म कराना चाहते हैं
  3. कहा, नीतीश कुमार ही छापेमारी करवाकर मेरे परिवार को परेशान कर रहे थे
नई दिल्ली: 'मिट्टी में मिल जाऊंगा, लेकिन भाजपा में नहीं जाऊंगा' कहने वाले नीतीश कुमार अब बीजेपी के साथ हैं. जिस जनता ने उनको वोट दिया था अब वो उसके मुख्‍यमंत्री नहीं है बल्‍कि सत्ता के मुख्‍यमंत्री हैं. उन्‍होंने राज्‍य की जनता को धोखा देने का काम किया. 'जनादेश अपमान यात्रा' पर निकले राष्‍ट्रीय जनता दल के नेता तेजस्‍वी यादव ने समस्‍तीपुर में कहा कि नीतीश कुमार नैतिक भ्रष्‍टाचार के भीष्‍म पितामह हैं.

ये भी पढ़ें: तेजस्‍वी यादव ने पूछा, नीतीश कुमार का DNA पहले खराब था या अब है

तेजस्‍वी यादव ने कहा कि नीतीश कुमार राज्‍य की जनता को धोखा देकर गांधी के हत्‍यारों से मिल गए हैं. राज्‍य की जनता ने किसी व्‍यक्‍ति को वोट नहीं दिया था, बल्‍कि गठबंधन को वोट दिया था, लेकिन नीतीश कुमार ने जनता के जनादेश को दरकिनार कर उन लोगों के साथ हाथ मिला लिया जिसके खिलाफ हमलोगों ने लड़ाई लड़ी थी. तेजस्‍वी ने कहा कि हमारी पार्टी ने काफी संघर्ष के बाद आरक्षण को लागू करवाया, राज्‍य की जनता के साथ न्‍याय करने का काम किया लेकिन नीतीश कुमार अब मोदी के साथ मिल गए हैं और आरक्षण को समाप्‍त कराना चाहते हैं.

ये भी पढ़ें: तेजस्वी ने लिखा, 'अब याचना नहीं रण होगा', ...तो यूजर्स ने कुछ यूं दिए जवाब

समस्‍तीपुर में तेजस्‍वी यादव ने कहा कि यही वह धरती है जहां लालू जी ने आडवाणी के कमंडल वाले रथ को रोककर पूरे देश को शांति और भाईचारे का संदेश दिया था, लेकिन यहां की जनमत पर जितने वाले नीतीश कुमार यहां की जनता को धोखा देकर बीजेपी के साथ मिल गए. तेजस्‍वी ने कहा कि नीतीश कुमार को बीजेपी में जाना था, वो तो सिर्फ बहाना तलाश रहे थे. तेजस्‍वी का कहना था कि नीतीश कुमार केंद्र के साथ मिलकर उनके परिवार पर छापा डलवा रहे हैं और पेरशान करने का काम कर रहे हैं.

ये भी पढ़ें: नीतीश सरकार के खिलाफ तेजस्वी यादव की 'जनादेश अपमान यात्रा'
 
तेजस्‍वी ने कहा कि हमने नीतीश कुमार से कहा था कि अगर मेरा इस्‍तीफा चाहिए तो बता दीजिए हमलोग गठबंधन के लिए कोई भी त्‍याग करने को तैयार हैं. लेकिन नीतीश कुमार की बीजेपी से पहले से सेटिंग हो गई थी. तभी तो इस्‍तीफे के पांच मिनट के अंदर ही मोदी जी ने बधाई दे दी और अगले दिन सुबह ही वो फिर से बिहार के मुख्‍यमंत्री बन गए. तेजस्‍वी ने कहा कि एक 28 साल का युवा अपने सिद्धांतों से नहीं डिगा लेकिन नीतीश कुमार अपनी कुर्सी के खातिर आरएसएस के सामने घुटने टेक दिए. तेजस्‍वी ने कहा कि नीतीश कुमार और सुशील मोदी पर मुकदमा चल रहा है तो क्‍यों ये मुख्‍यमंत्री और उपमुख्‍यमंत्री बने हुए हैं?

टिप्पणियां
ये भी पढ़ें: तेजस्वी का नीतीश पर करारा वार, बोले - अंतरात्मा नहीं, मोदी आत्मा जगी थी
 
बिहार में बाढ़ के हालात पर तेजस्‍वी ने सरकार को कठघरे में खड़ा किया और कहा कि इस दौरान यहां 50 से ज्‍यादा लोगों की मौत हो गई है. इसके लिए कौन जिम्‍मेदार है? सबको पता है कि बाढ़ के समय में ऐसे हालात बन जाते हैं तो फिर पहले से इसकी तैयारी क्‍यों नहीं की गई?
 
वीडियो: तेजस्वी यादव कर रहे हर जगह नीतीश की वादाख़िलाफ़ी का ज़िक्र


समस्‍तीपुर में भाषण के दौरान तेजस्‍वी ने कहा कि अब अगला पड़ाव भागलपुर होगा जहां मैं एक बड़े घोटाले को पर्दाफांस करने जा रहा हूं. तेजस्‍वी ने कहा कि ये सभी लोग लालू से डरे हुए हैं. बिहार में हमारा महागठबंधन शरद जी के जेडीयू के साथ है और रहेगा. नीतीश कुमार सरकारी जेडीयू के नेता हैं.
 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement