कर्नाटक के इतिहास में केवल तीन मुख्यमंत्रियों ने ही पूरा किया अपना कार्यकाल, देखें LIST

कर्नाटक (Karnataka) का सियासी नाटक अब खत्म हो चुका है. कर्नाटक में बीते कई दिनों से जारी राजनीतिक उठापटक के बीच कांग्रेस-जेडीएस (Congress-JDS) सरकार गिर गई. कर्नाटक के इतिहास में केवल तीन मुख्यमंत्री ही अब तक पांच साल का कार्यकाल पूरा कर पाए हैं.

कर्नाटक के इतिहास में केवल तीन मुख्यमंत्रियों ने ही पूरा किया अपना कार्यकाल, देखें LIST

कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धारमैया. (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

कर्नाटक (Karnataka) का सियासी नाटक अब खत्म हो चुका है. कर्नाटक में बीते कई दिनों से जारी राजनीतिक उठापटक के बीच 14 महीने पुरानी कांग्रेस-जेडीएस (Congress-JDS) सरकार गिर गई. मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी (HD Kumaraswamy) विधानसभा में बहुमत साबित नहीं कर सके. फ्लोर टेस्ट के दौरान सरकार के पक्ष में 99 और विरोध में 105 वोट डाले गए. बता दें कि कर्नाटक के इतिहास में केवल तीन मुख्यमंत्री ही अब तक पांच साल का अपना कार्यकाल पूरा कर पाए हैं.

यह भी पढ़ें: विश्वास मत में गिरी कर्नाटक की कांग्रेस-JDS सरकार, पक्ष में 99 और विरोध में 105 वोट डाले गए

एस निजलिंगप्पा (1962-68), डी देवराजा उर्स (1972-77) और सिद्धारमैया (2013-2018) ऐसे मुख्यमंत्री हैं, जिन्होंने  अपना कार्यकाल पूरा किया. तीनों कांग्रेस के नेता हैं. भाजपा से कोई भी मुख्यमंत्री या जेडीएस के कुमारस्वामी अपना कार्यकाल पूरा नहीं कर पाए. पहली बार भाजपा नीत गठबंधन सरकार में कुमारस्वामी दो साल से भी कम समय तक फरवरी, 2006 से अक्टूबर 2007 तक मुख्यमंत्री रहे. उनका सत्ता साझेदारी को लेकर भाजपा से मतभेद हो गया और उन्होंने राज्य में भगवा पार्टी नीत सरकार का समर्थन करने से इनकार कर दिया.

यह भी पढ़ें: कर्नाटक : येदियुरप्पा के लिए मुख्यमंत्री बनने का अंतिम मौका, जिसे वे खोना नहीं चाहते

कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन सरकार में मुख्यमंत्री के रूप में उनका दूसरा कार्यकाल मई, 2018 में शुरू हुआ. चुनाव के बाद त्रिशंकु विधानसभा अस्तित्व में आई थी, तब यह गठबंधन सरकार बनी. भाजपा के मामले में बीएस येदियुरप्पा 2007 में पहली बार मुख्यमंत्री बने, लेकिन वह 7 दिन तक ही पद पर रहे क्योंकि जदएस ने समर्थन वापस ले लिया था और राज्य में राष्ट्रपति शासन लगा दिया गया.

यह भी पढ़ें: कांग्रेस-JDS सरकार गिराने के बाद बोले येदियुरप्पा, यह लोकतंत्र की जीत- कुमारस्वामी की सत्ता से तंग आ चुके थे लोग

मई, 2008 में येदियुरप्पा की अगुवाई में भाजपा ने राज्य में ऐतिहासिक जीत दर्ज की और वह दूसरी बार मुख्यमंत्री बने लेकिन कथित भ्रष्टाचार के चलते उन्हें जुलाई, 2011 में कुर्सी छोड़नी पड़ी. मुख्यमंत्री के रूप में उनका तीसरा कार्यकाल 2018 में महज छह दिन 17 मई, से लेकर 23 मई रहा और उन्होंने बहुमत के अभाव में इस्तीफा दे दिया. कर्नाटक 1956 में बना था. तब से राज्य ने 25 मुख्यमंत्री देखें जिनमें ज्यादातर कांग्रेस से थे.

Newsbeep

VIDEO:  कर्नाटक की एचडी कुमारस्वामी सरकार गिरी 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


(इनपुट: भाषा)