NDTV Khabar

किसको मिलेगा रक्षा, वित्त और विदेश मंत्रालय, कौन संभालेगा गृह मंत्रालय? अमित शाह और PM मोदी की 5 घंटे की मीटिंग में मंथन

पीएम मोदी के 30 मई को होने वाले शपथ ग्रहण समारोह की तैयारियां जोरो पर हैं. ऐसे में पीएम के साथ ही जिन नेताओं को मंत्री पद की शपथ लेनी हैं, उनके नाम पर भी चर्चा है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
किसको मिलेगा रक्षा, वित्त और विदेश मंत्रालय, कौन संभालेगा गृह मंत्रालय? अमित शाह और PM मोदी की 5 घंटे की मीटिंग में मंथन

खास बातें

  1. महत्वपूर्ण मंत्रालयों के लिए कैबिनेट मंत्रियों के नाम पर चर्चा
  2. पीएम मोदी और अमित शाह के बीच चली 5 घंटे की मीटिंग
  3. अमित शाह के कैबिनेट में शामिल होने को लेकर अटकलें तेज
नई दिल्ली:

पीएम मोदी के 30 मई को होने वाले शपथ ग्रहण समारोह की तैयारियां जोरो पर हैं. ऐसे में पीएम के साथ ही जिन नेताओं को मंत्री पद की शपथ लेनी हैं, उनके नाम पर भी चर्चा है. पीएम मोदी (Narendra Modi) और बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने मंगलवार को इस मुद्दे पर 5 घंटे तक बैठक की. चर्चा है कि अमित शाह (Amit Shah) भी कैबिनेट का हिस्सा हो सकते हैं हालांकि सूत्रों का कहना है कि इस बात की केवल अटकलें लगाई जा रही हैं. आने वाले समय में महाराष्ट्र, झारखंड और हरियाणा में विधानसभा चुनाव होने हैं. ऐसे में बीजेपी में एक बड़ा वर्ग चाहता है कि शाह ही अध्यक्ष रहें. सूत्रों का कहना है कि दिल्ली में अगले साल विधानसभा चुनाव होना है वहीं बिहार में 2021 में चुनाव हैं, ऐसे में पार्टी पूरी तरह से इन पर फोकस करना चाहती है. 

मिली जानकारी के मुताबिक गृह मंत्रालय, वित्त मंत्रालय, रक्षा मंत्रालय और विदेश मंत्रालय का प्रभार देने में कुछ बदलाव किए जा सकते हैं. वित्त मंत्रालय को लेकर बदलाव के संकेत ज्यादा मिल रहे हैं क्योंकि अरुण जेटली की तबीयत ठीक नहीं है. सूत्रों का कहना है कि इस बात की अटकलें लगाई जा रही हैं कि वह वित्त मंत्री के रूप में दोबारा सेवा नहीं देंगे. हालांकि जेटली ने कुछ दिन पहले वित्त मंत्रालय के अधिकारियों के साथ बैठक की थी. 


ये भी पढ़ें: पीएम मोदी से मिले आंध्र प्रदेश के नामित मुख्यमंत्री जगन मोहन रेड्डी, विशेष राज्य का दर्जा समेत कई मुद्दों पर हुई बात

सूत्रों का कहना है कि मंत्रालय देने में बहुत बदलाव नहीं किए जाएंगे. ज्यादातर पुराने मंत्री ही रहेंगे लेकिन बंगाल, ओडिशा और उत्तर पूर्व में हुए बदलाव के बाद कुछ नए समीकरणों पर विचार किया जा सकता है.बिहार में बीजेपी की गठबंधन पार्टी लोक जनशक्ति पार्टी ने एक प्रस्ताव पास किया है और कहा है कि पार्टी के वरिष्ठ राम विलास पासवान सरकार में इसका चेहरा होंगे. इससे पहले पासवान ने कहा था कि वह अपने बेटे चिराग पासवान को कैबिनेट में देखना चाहते हैं. चिराग पासवान ने एनडीटीवी से कहा था कि उनके पिता ही कैबिनेट में प्रतिनिधित्व करेंगे.

ये भी पढ़ें: पीएम मोदी की नई कैबिनेट में क्या अमित शाह को मिलेगी जगह, पढ़ें 10 बड़ी बातें...

टिप्पणियां

गुरुवार शाम को होने वाले पीएम के शपथ ग्रहण समारोह में BIMSTEC देश शामिल होंगे. इन देशों में बांग्लादेश, म्यांमार, श्रीलंका, थाईलैंड, नेपाल और भूटान शामिल हैं. विदेश मंत्रालय ने बताया कि सभी देशों ने अपनी उपस्थिति की पुष्टि कर दी है. वहीं शपथ ग्रहण समारोह में बंगाल की सीएम ममता बनर्जी और दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल के भी शामिल होने की संभावना है. समारोह में तेलंगाना के सीएम के चंद्रशेखर राव भी शामिल होंगे. 

Video: ​मंत्रिपद को लेकर कयास न लगाएं - पीएम मोदी



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement