कंगना रनौत vs महाराष्ट्र विवाद को लेकर प्रियंका चतुर्वेदी, NWC की अध्यक्ष के बीच ट्विटर पर छिड़ी 'जंग'

प्रियंका चतुर्वेदी ने कहा, एक राज्यसभा सदस्य के तौर पर मेरा यह कर्तव्य है कि मैं आपको अवगत कराऊं और आपसे उम्मीद करूं कि आप अपने पद की जिम्मेदारी का निर्वहन करें.

कंगना रनौत vs महाराष्ट्र विवाद को लेकर प्रियंका चतुर्वेदी,  NWC की अध्यक्ष के बीच ट्विटर पर छिड़ी 'जंग'

प्रियंका चतुर्वेदी और रेखा शर्मा के बीच जुबानी जंग

नई दिल्ली :

शिवसेना सांसद प्रियंका चतुर्वेदी और राष्ट्रीय महिला आयोग की अध्यक्ष रेखा शर्मा के बीच एक महिला की शिकायत को लेकर मंगलवार को ट्विटर पर जंग छिड़ गई. उत्तराखंड की एक महिला ने आरोप लगाया कि उत्तराखंड पुलिस द्वारा यौन उत्पीड़न का एक मामला निपटाने के लिए उस पर दबाव बनाया जा रहा है. इस विवाद की जड़ में राजनीतिक विवाद है, जो कि कंगना रनौत (Kangana Ranaut) की मुंबई पुलिस को लेकर की गई निगेटिव टिप्पणी से शुरू हुआ और शिवसेना नेता संजय राउत (Sanjay Raut) के तीखे बयानों से इसे हवा मिली. 

विवाद उस समय शुरू हुआ जब प्रियंका चतुर्वेदी ने उत्तराखंड की महिला की शिकायत का स्क्रीनशॉट लेकर महिला आयोग की अध्यक्ष रेखा शर्मा को टैग किया. चतुर्वेदी ने कहा, "मैं राष्ट्रीय महिला आयोग की अध्यक्ष रेखा शर्मा जी से आग्रह करती हूं कि यौन उत्पीड़न मामले में हस्तक्षेप करें और स्वत: संज्ञान लें ताकि दोषी पाए जाने पर वह सजा से बच नहीं सके." 

महिला आयोग की अध्यक्ष रेखा शर्मा ने इस पर कड़ी प्रतिक्रिया जताते हुए कहा कि पुलिस ने केस दर्ज कर लिया है "वैसे मुंबई में कई मामले हैं जिनमें पीड़िता एफआईआर लिखाने के लिए संघर्ष कर रही हैं." 

यह कंगना रनौत मामले की ओर संकेत देता है, जिन्होंने आरोप लगाया था कि मुंबई पुलिस ने हिंदी फिल्म इंडस्ट्री में कथित तौर पर एक धड़े द्वारा ड्रग्स का उपयोग करने को लेकर उनकी शिकायत पर गौर नहीं किया. प्रियंका चतुर्वेदी ने रेखा शर्मा के ट्वीट पर कड़ी प्रतिक्रिया दी. 


प्रियंका चतुर्वेदी ने कहा, एक राज्यसभा सदस्य के तौर पर मेरा यह कर्तव्य है कि मैं आपको अवगत कराऊं और आपसे उम्मीद करूं कि आप अपने पद की जिम्मेदारी का निर्वहन करें, न कि एजेंडा सेटिंग की ओर बढ़ना चाहिए. एफआईआर के बावजूद महिला पर "मामले को निपटाने" का दवाब बनाया जा रहा है. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


उन्होंने अगले ट्वीट में लिखा- चेन्नई में भारतीय जनता युवा मोर्चा के नेता द्वारा एक बुजुर्ग महिला को परेशान करने के संबंध में युवती सेना द्वारा लिखे पत्र का जवाब अब तक नहीं मिला है. खैर उम्मीद करती हूं कि आप एएनआई के स्क्रीनशॉट को हटा देंगी, जो आपने ट्वीट किया था. 

वीडियो: संजय राउत ने कहा, श‍िवसेना का कंगना रनौत से कोई व्यक्तिगत झगड़ा नहीं