NDTV Khabar

केरल: वायनाड में बोले राहुल गांधी- देश को बांटने के लिए नफरत के जहर का प्रयोग करते हैं पीएम मोदी

राहुल ने कहा, मैं कांग्रेस पार्टी से हूं लेकिन हमारे दरवाजे वायनाड के हर नागरिक के लिए हमेशा खुले रहेंगे.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
केरल: वायनाड में बोले राहुल गांधी- देश को बांटने के लिए नफरत के जहर का प्रयोग करते हैं पीएम मोदी

खास बातें

  1. राहुल ने कहा- राष्ट्रीय स्तर पर हम जहर के साथ लड़ रहे हैं
  2. 'पीएम मोदी देश को विभाजित करने के लिए नफरत के जहर का प्रयोग करते हैं'
  3. 'पीएम मोदी चुनाव जीतने के लिए झूठ का प्रयोग करते हैं'
केरल:

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) केरल के तीन दिन के दौरे पर हैं. इस मौके पर उन्होंने शनिवार को वायनाड जिले के कालपेट्टा में रोडशो किया. इस दौरान राहुल ने पीएम मोदी (Narendra Modi) पर भी निशाना साधा. उन्होंने कहा, 'राष्ट्रीय स्तर पर हम जहर के साथ लड़ रहे हैं. पीएम मोदी जहर का प्रयोग करते हैं. मैं कड़े शब्दों का प्रयोग कर रहा हूं लेकिन पीएम मोदी देश को विभाजित करने के लिए नफरत के जहर का प्रयोग करते हैं. वह इस देश के नागरिक को विभाजित करने के लिए गुस्सा और नफरत का प्रयोग करते हैं. वह चुनाव जीतने के लिए झूठ का प्रयोग करते हैं.'

पूर्व केंद्रीय मंत्री ने रखा कांग्रेस अध्यक्ष बनने का प्रस्ताव, पत्र लिखकर जाहिर की इच्छा


राहुल ने कहा, 'मैं कांग्रेस पार्टी से हूं लेकिन हमारे दरवाजे वायनाड के हर नागरिक के लिए हमेशा खुले रहेंगे. इसका उनकी उम्र, स्थान, विचारधारा से कोई मतलब नहीं होगा.' उन्होंने कहा, 'प्रधानमंत्री मोदी देश की सबसे बुरी भावना का प्रतिनिधित्व करते हैं. वह गुस्सा, नफरत, असुरक्षा और झूठ का प्रतिनिधित्व करते हैं.' राहुल ने यह भी कहा, 'पीएम मोदी का लोकसभा चुनाव प्रचार अभियान झूठ, जहर और नफरत से भरा था और इसने लोगों को बांटने का काम किया. 

टिप्पणियां

केरल: पीएम मोदी ने गुरुवायूर श्रीकृष्ण मंदिर में की पूजा, 112 किलो कमल के फूलों से हुआ 'तुलाभारम'

राहुल गांधी शनिवार को वायनाड के जिला कलेक्ट्रेट स्थित सांसद सुविधा केन्द्र पहुंचे और लोगों से ज्ञापन लिए और शिकायतें सुनीं. गांधी शुक्रवार से वायनाड के तीन दिन के दौरे पर हैं. किसानों, आदिवासियों और अन्य वंचित तबकों के प्रतिनिधियों ने गांधी से भेंट कर अपनी समस्याएं सुनाईं. कांग्रेस अध्यक्ष ने स्थानीय प्रतिनिधियों, पार्टी नेताओं और जिले के अधिकारियों से बातचीत की तथा संसदीय क्षेत्र की समस्याएं जानीं. गांधी सुबह केपीसीसी अध्यक्ष मुल्लापल्ली रामचन्द्रन और केरल विधानसभा में विपक्ष के नेता रमेश चेन्नीतला के साथ जिला मुख्यालय पहुंचे. कांग्रेस के वरिष्ठ नेता के. सी. वेणुगोपाल ने बाद में संवाददाताओं को बताया कि गांधी करीब 22 शिष्टमंडलों से मिले और उन्हें आश्वासन दिया कि शिकायतों पर कार्रवाई की जाएगी. (इनपुट: भाषा)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement