NDTV Khabar

हरियाणा गृह सचिव ने कहा, पंचकुला में शाम से क़ानून व्यवस्था क़ायम है

गृह सचिव ने कहा कि पंचकूला में शाम से कानून व्यवस्था कायम है और मीडिया अपना बयान दर्ज करवाए. 

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
हरियाणा गृह सचिव ने कहा, पंचकुला में शाम से क़ानून व्यवस्था क़ायम है

फाइल फोटो

नई दिल्ली: डेरा सच्चा सौदा के चीफ राम रहीम को लेकर शुक्रवार को आए कोर्ट के फैसले के बाद पंचकूला और सिरसा में फैली हिंसा के बाद आज हरियाणा के गृह सचिव दीपेदर सिंह धेसी ने कहा है कि यह एक अधिकारी की गलती है. उन्होंने कहा कि इस अधिकारी ने वक्त रहते आदेश नहीं दिया. उन्होंने कहा कि परसों के लिए पूरे इंतजाम कर दिए गए हैं. उन्होंने कहा कि पंचकूला में शाम से कानून व्यवस्था कायम है.

पढ़ें: जानें, रेप के दोषी बाबा राम रहीम की रोहतक जेल में कैसे बीती पहली रात

गृह सचिव ने कहा कि पंचकूला में शाम से कानून व्यवस्था कायम है और मीडिया अपना बयान दर्ज करवाए. बता दें कि डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम को बलात्‍कार के मामले में दोषी करार दिए जाने के बाद उनके समर्थकों के उपद्रव पर हरियाणा और पंजाब हाई कोर्ट ने हरियाणा की मनोहर लाल खट्टर सरकार का जमकर फटकार लगाई है.

पढ़ें- यही है वह 'गुमनाम' चिट्ठी, जिससे उजागर हुई गुरमीत राम रहीम के अत्याचार की दास्तां

टिप्पणियां
हाई कोर्ट ने कहा कि अपने राजनीतिक स्वार्थ के लिए सरकार ने पंचकूला को जलने के लिए छोड़ दिया. फुल बेंच ने सुनवाई के दौरान कहा कि हालात के सामने सरकार ने सरेंडर कर दिया. इसके साथ ही फ़ैसले के बाद राम रहीम की गिरफ़्तारी के वक़्त करनाल के आईजी को थप्पड़ मारने वाले राम रहीम के 6 सुरक्षा गार्ड और दो समर्थकों के ख़िलाफ़ देशद्रोह का मामला दर्ज कर लिया गया है.


इसके अलावा सरकारी काम में बाधा पहुंचाने समेत कुल तीन धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है. दरअसल ये लोग आईजी से इस बात पर उलझ गए कि वो राम रहीम को अपनी गाड़ी में ले जाएंगे.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement