NDTV Khabar

आरबीआई गवर्नर उर्जित पटेल का इस्तीफा, अर्थव्यवस्था के लिए बड़े झटके की तरह है : मनमोहन सिंह

उन्होंने कहा कि मैं उम्मीद करता हूं कि उर्जित पटेल का इस्तीफा पीएम मोदी (PM Modi) द्वारा देश की अर्थव्यवस्था की संस्थागत नींव को नष्ट करने के प्रयासों की वजह से ना आया हो.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
आरबीआई गवर्नर उर्जित पटेल का इस्तीफा, अर्थव्यवस्था के लिए बड़े झटके की तरह है : मनमोहन सिंह

मनमोहन सिंह ने उर्जित पटेल के इस्तीफे पर की टिप्पणी

खास बातें

  1. पूर्व पीएम ने कहा- अर्थव्यवस्था अब संकट में है
  2. उर्जित पटेल ने निजी कारणों से दिया था इस्तीफा
  3. सरकार और आरबीआई के बीच थी खींचतान
नई दिल्ली:

देश के पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह (Manmohan singh) ने आरबीआई गवर्नर उर्जित पटेल (RBI Governor Urjit Patel)  के इस्तीफे को अर्थव्यवस्था के लिए एक बड़ा झटका बताया है. उन्होंने कहा कि मैं उम्मीद करता हूं कि उर्जित पटेल का इस्तीफा पीएम मोदी (PM Modi) द्वारा देश की अर्थव्यवस्था की संस्थागत नींव को नष्ट करने के प्रयासों की वजह से ना आया हो. इतना ही नहीं उन्होंने कहा कि अल्पकालिक राजनीतिक लाभ के लिए किसी संस्थान के साथ इस तरह से कुछ करना पूरी तरह से मूर्खतापूर्ण निर्णय होगा. बता दें कि सरकार से मतभेद की चर्चाओं के बीच आरबीआई के गवर्नर उर्जित पटेल (RBI Governor Urjit Patel)  ने सोमवार को अपने पद से इस्तीफा दे दिया था. बता दें कि उर्जित पटेल ने निजी कारणों को अपने इस्तीफे की वजह बताया है. उन्होंने एक पत्र के माध्यम से कहा कि आरबीआई के साथ इतने बड़े पद पर काम करना उनके लिए सौभाग्य की तरह था.

यह भी पढ़ें: पूर्व प्रधानमंत्री बोले, PM मोदी को अपने आचरण के जरिये उदाहरण स्थापित करना चाहिए


बता दें कि मनमोहन सिंह ने इससे पहले भी पीएम मोदी और उनकी सरकार पर हमला बोला था. इससे पहले मध्य प्रदेश के इंदौर में मीडिया से बातचीत में पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने मोदी सरकार पर जमकर हमला बोला था. पूर्व प्रधानमंत्री डॉ मनमोहन सिंह ने केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार पर हमला बोलते हुए कहा था कि दो करोड़ नौकरियों का वादा जुमला बनकर रह गया... राफेल में 'दाल में काला है', इसलिए JPC नहीं बनाई जा रही है..."

यह भी पढ़ें: पूर्व पीएम मनमोहन सिंह की सलाह: PM मोदी को सार्वजनिक भाषणों में संयम बरतना चाहिए

टिप्पणियां

मनमोहन सिंह ने कहा कि राष्ट्रीय संस्थानों को ख़त्म किया जा कहा है. यहां हर पांच घंटे में एक किसान आत्महत्या करता है. राज्य में बेरोजगारी की वजह से खुदकुशी के मामले बढ़े हैं. उन्होंने नोटबंदी को लेकर भी सरकार पर निशाना साधा और कहा कि नोटबंदी का कोई मकसद पूरा नहीं हुआ. इंदौर में प्रेस वार्ता के दौरान मनमोहन सिंह ने कहा कि मेरी सरकार ने एमपी सरकार को हर संभव मदद दिया, अगर विश्वास न हो तो शिवराज सिंह जी से पूछ लीजिए. इस सरकार में भी सेंटर स्टेट संबंध होना चाहिए.  उन्होंने कहा कि मोदी सरकार के चंद महीने शेष रह गए.

VIDEO: अमित शाह ने किया कांग्रेस पर हमला.

मुझे यह कहते शर्म नहीं आती कि मोदी सरकार ने कोई वादा पूरा नहीं किया. मनमोहन सिंह ने कहा था कि पीएम मोदी को शोभा नहीं देता कि वे विपक्षी दलों के नेताओं के साथ गाली गलौज करें. साथ ही उन्होंने कहा कि मेरी सरकार रिमोट से चलने का आरोप बेबुनियाद. 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement