NDTV Khabar

एयरपोर्ट पर सुरक्षाकर्मी ने की विकलांग महिला के साथ बदसलूकी, CISF प्रमुख ने जताया खेद

अपने मेल में मोदी ने बताया कि जब वह अपनी व्हीलचेयर पर एयरपोर्ट के सुरक्षा परिसर में पहुंची तो सुरक्षा अधिकारी ने उनसे खड़ा होने के लिए कहा.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
एयरपोर्ट पर सुरक्षाकर्मी ने की विकलांग महिला के साथ बदसलूकी, CISF प्रमुख ने जताया खेद

विकलांगता कार्यकर्ता विराली मोदी के साथ दिल्ली एयरपोर्ट पर की गई बदसुलूकी

नई दिल्ली:

दिल्ली हवाई अड्डे पर एक भारतीय-अमेरिकी विकलांगता अधिकार कार्यकर्ता 28 वर्षीय विराली मोदी (Virali Modi) के साथ सुरक्षाकर्मी द्वारा बदसुलूकी करने का मामला सामने आया है, जिसकी शिकायत करते हुए मोदी ने केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (CISF) के प्रमुख को ई-मेल भी लिखा. अपने मेल में मोदी ने बताया कि जब वह अपनी व्हीलचेयर पर एयरपोर्ट के सुरक्षा परिसर में पहुंची तो सुरक्षा अधिकारी ने उनसे खड़ा होने के लिए कहा. इस पर उन्होंने सुरक्षा अधिकारी को बताया कि 2006 में रीढ़ की हड्डी में चोट आने के कारण वह खड़ी नहीं हो सकती हैं. मोदी के इतने कहने पर सुरक्षा अधिकारी ने अपने अफसर को बुला लिया और उनसे कहा कि वह (मोदी) खड़े न हो सकने की एक्टिंग कर रही है और यह केवल एक ड्रामा है. विराली मोदी कथित घटना के समय दिल्ली से मुंबई जा रही थीं.

विकलांग लड़की को उतार दिया था प्लेन से, स्पाइसजेट को देना होगा 10 लाख रुपये हर्जाना


CISF प्रमुख को लिखे अपने ई-मेल में विराली मोदी ने लिखा, 'विकलांगता के कारण मैं अपनी व्हीलचेयर ले जाती हूं जिसे मैंने कार्गो के रूप में चेक-इन काउंटर पर जमा करा दिया था. जहाज में सीट पर बैठने में मदद करने के लिए मैंने एक कुली हायर किया था, लेकिन सुरक्षा परिसर में मुझे आपकी एक सुरक्षा महिला अधिकारी द्वारा सबसे खराब अनुभव का सामना करना पड़ा.' इस शिकायत पत्र का एक स्क्रीन शॉर्ट उन्होंने ट्विटर पर भी शेयर किया. अपनी शिकायत में मोदी ने आगे लिखा, 'उसने मुझे खड़े होने के लिए मजबूर किया. भले ही कुली और मैंने उससे कई बार कहा कि मैं खड़ी नहीं हो सकती, लेकिन उसने मेरी जांच करने से इनकार कर दिया.'

खुर्शीद के खिलाफ केजरीवाल का हल्ला बोल जारी, कांग्रेस उतरी बचाव में

मोदी ने कहा, 'मैंने अधिकारी को अपना पासपोर्ट भी दिखाने की कोशिश की, जो साबित करता है कि मैं व्हीलचेयर उपयोगकर्ता होने के बावजूद अंतरराष्ट्रीय स्तर पर यात्रा करती हूं, लेकिन वह अपने अधिकारी को बुलाने के लिए चली गई और कहने लगी कि मैं एक्टिंग कर रही हूं और यह नाटक है.' उन्होंने कहा, 'जब मैंने उससे संपर्क किया तो उसने मुझ पर चिल्लाना शुरू कर दिया. उसने मुझे अपना नाम बताने से भी इंकार कर दिया. मुझे उसका नाम नहीं मिला, क्योंकि वह इस तरह से खड़ी थी, जहां से मैं उसका नाम टैग नहीं देख सकती थी. आखिरकार एक वरिष्ठ स्टाफ सदस्य आया और उसने एक मैनुअल जांच की और मुझे जाने देने के लिए कहा.'

टिप्पणियां

मुम्बई एयरपोर्ट स्टाफ ने की दिव्यांग लड़की की जबरन चेकिंग, ट्विटर पर यूं निकाला गुस्सा

बाद में विराली मोदी ने कहा कि CISF प्रमुख ने इस घटना पर खेद व्यक्त किया. उन्होंने अपनी फेसबुक वॉल पर लिखा, 'मुझे दिल्ली में CISF के प्रमुख का फोन आया, जिन्होंने इस स्थिति के बारे में खेद व्यक्त किया और कहा कि जब भी मैं दिल्ली में हूं, उनसे मिलूं.' इसके आगे मोदी ने लिखा, 'बेशक, यह स्थिति का हल नहीं हो सकता, लेकिन यह विकलांग लोगों के साथ बेहतर व्यवहार करने की दिशा में एक कदम है.' पिछले साल भी विराली मोदी एयरपोर्ट पर ही बदसलूकी को लेकर सुर्खियों में आई थीं जब उन्होंने आरोप लगाया था कि मुंबई हवाई अड्डे पर CISF के एक जवान ने उन्हें जबरदस्ती व्हीलचेयर से उठा लिया था. हालांकि CISF ने ऐसी किसी भी घटना को खारिज कर दिया था. 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement