NDTV Khabar

शिवसेना सांसद गायकवाड़ से जल्द हटेगा 'उड़ान प्रतिबंध', नियमों में होगा बदलाव : सूत्र

614 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
शिवसेना सांसद गायकवाड़ से जल्द हटेगा 'उड़ान प्रतिबंध', नियमों में होगा बदलाव : सूत्र

केंद्र सरकार ने शिवसेना सांसद गायकवाड़ को राहत प्रदान करने की सोच रही है...

खास बातें

  1. शिवसेना सांसद पर खराब बर्ताव के कारण उड़ान पर बैन लगा दिया था
  2. नानुकुर सरकार उन्हें राहत प्रदान करने की सोच रही है
  3. ससंद में गूंजा था मुद्दा, कई दलों के सांसदों ने जताई बैन पर आपत्ति
नई दिल्ली: शिवसेना सांसद रवींद्र गायकवाड़ से उड़ान प्रतिबंध जल्द हटेगा. सरकार नियमों में बदलाव करेगी. शिवसेना सांसद को खराब बर्ताव के कारण छह एयरलाइंस कंपनियों ने उड़ान पर बैन लगा दिया था. सरकार उन्हें राहत प्रदान करने की सोच रही है ताकि वह दोबारा उड़ान भर सकें. यह निर्णय नागरिक उड्डयन मंत्री अशोक गणपति राजू, लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन और शिवसेना के सांसंदों की हुई बैठक के बाद लिया गया. इससे पहले आज राज्यसभा में समाजवादी पार्टी कई दलों के सांसदों ने शिवसेना सांसद के बैन पर आपत्ति जताई और एयए इंडिया को आड़े हाथों लिया.

शिवसेना सांसदों ने सोमवार को कहा कि सभी उड़ान सेवाओं द्वारा पार्टी सांसद रविंद्र गायकवाड़ पर लगाए गए उड़ान प्रतिबंध को हटाया जाना चाहिए. शिवसेना सांसद आनंदराव अडसुल ने लोकसभा में इस मुद्दे को उठाया.

उन्होंने कहा, "कुछ विवाद थे. उन्होंने एयर इंडिया के एक कर्मचारी को पीटा. मैं सहमत हूं, यह गलत है. एयर इंडिया ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है और जो भी नतीजे होंगे, हम उसे स्वीकार करेंगे. यह कोई समस्या नहीं है."

उन्होंने कहा, "समस्या यह है कि सभी विमानन कंपनियों ने उन पर प्रतिबंध लगा दिया है. हमारा संविधान कहता है कि देश के नागरिक को कहीं भी जाने का अधिकार है. यदि कोई घटना होती है और सभी विमानन कंपनियां उन्हें प्रतिबंधित कर देती हैं तो यह गलत है." अडसुल ने हास्य कलाकार कपिल शर्मा का उदाहरण दिया, जिन्होंने ऑस्ट्रेलिया जाने वाले एक विमान में विमानन कंपनी के एक कर्मचारी के साथ दुर्व्यवहार किया था. उन्होंने कहा, "उन्हें प्रतिबंधित नहीं किया गया है, लेकिन एक शख्स जो लोगों का प्रतिनिधित्व करता है, उसे प्रतिबंधित कर दिया गया है."

केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री अशोक गजपति राजू ने कहा कि सांसद भी एक यात्री था और विमान में इस तरह की हिंसा से कोई भी अनहोनी हो सकती है. उन्होंने कहा कि विमानन कंपनियां उचित व्यवहार नहीं करने वाले किसी भी यात्री को उड़ान भरने से रोकने में सक्षम हैं. राजू ने कहा, "एक सांसद यात्री भी होता है. अब एक सांसद ने यह मुद्दा उठाया है. हम विभिन्न वर्गो के लोगों के साथ अलग-अलग बर्ताव नहीं कर सकते. हमें सुरक्षा को ध्यान में रखने की जरूरत है. हम विमानन कंपनियों की सुरक्षा के साथ समझौता नहीं कर सकते."

गौरतलब है कि गायकवाड़ द्वारा पिछले सप्ताह एयर इंडिया के एक कर्मचारी के साथ दुर्व्यवहार के बाद सभी निजी विमानन कंपनियों ने उनकी विमान यात्रा पर प्रतिबंध लगा दिया था.

टिप्पणियां


 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement