NDTV Khabar

प्रज्ञा ठाकुर को संसद भेजने के लिए शरद पवार ने की बीजेपी की आलोचना, पीएम मोदी पर लगाया देश को बांटने का आरोप

प्रज्ञा के नाम पर रजिस्टर्ड एक बाइक मालेगांव बम विस्फोट में इस्तेमाल होने के चलते 2008 में उनकी इस मामले में गिरफ्तारी हुई थी. 

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
प्रज्ञा ठाकुर को संसद भेजने के लिए शरद पवार ने की बीजेपी की आलोचना, पीएम मोदी पर लगाया देश को बांटने का आरोप

शरद पवार ने प्रधानमंत्री पर धर्म के आधार पर देश को बांटने का आरोप लगाया है.

नई दिल्ली:

राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) प्रमुख शरद पवार (Sharad Pawar) ने मालेगांव बम विस्फोट कांड में अभियुक्त प्रज्ञा सिंह ठाकुर (Pragya Singh Thakur) को लोकसभा चुनावों में टिकट देने की आलोचना करते हुये कहा कि यह कदम किसी राजनीतिक दल या लोकतंत्र के लिए अनुकूल नहीं है. पूर्व केंद्रीय मंत्री अपनी पार्टी की 20वीं वर्षगांठ के अवसर पर आयोजित एक कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे. उन्होंने कहा कि संसद का सत्र शुरू होने जा रहा है. दोनों सदनों के सदस्य राष्ट्रपति के संयुक्त संबोधन में हिस्सा लेंगे. इनमें से बड़ी संख्या ऐसे लोगों की होगी जो भगवा विचारधारा में विश्वास रखते हैं. इनमें से कुछ लोगों के खिलाफ गंभीर मामले चल रहे हैं. 

पीएम मोदी के शपथ ग्रहण समारोह में शामिल नहीं हुए थे शरद पवार, अब सामने आई बड़ी भूल


पवार ने कहा, ‘एक व्यक्ति जिस पर गंभीर आरोप हैं वह मध्य प्रदेश से चुना गया और अब सत्ता में है. उसके खिलाफ (प्रज्ञा सिंह ठाकुर) मालेगांव बम धमाके, जोशी नाम के बीजेपी कार्यकर्ता की हत्या और अन्य तरह के आरोप हैं. किसी राजनीतिक दल और लोकतंत्र के लिए ऐसे व्यक्ति को टिकट देना उपयुक्त नहीं है.' मालूम हो पूर्व आरएसएस प्रचारक सुनील जोशी  की 29 दिसंबर, 2007 को देवास जिले में गोली मारकर हत्या कर दी गई थी. ठाकुर और सात अन्य आरोपियों को एक अदालत ने 2017 में सबूतों के अभाव में इस मामले में बरी कर दिया था.

शरद पवार से मिले राहुल गांधी तो बॉलीवुड प्रोड्यूसर ने कसा तंज, बोले- सर दर्द बढ़ रहा है...

राकांपा प्रमुख ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला बोलते हुये कहा, ‘जाने-अनजाने  प्रधानमंत्री ने दुर्भाग्यपूर्ण तरीके से धार्मिक आधार पर देश को बांटने का प्रयास किया. यह देश के हित में नहीं है. उनको (बीजेपी) इसका राजनीतिक फायदा शायद मिला है.' पवार ने कहा, ‘लेकिन यह ठीक नहीं है कि धार्मिक विचारधारा के प्रसार के लिए सत्ता का प्रयोग किया जाए. क्योंकि यह बाबा साहब अंबेडकर के संविधान के माध्यम से दिये वैचारिक ढांचे में फिट नहीं बैठता है. पर आज का सत्ता पक्षा इस तरीके से नहीं सोचता है.'

मैं डरा हुआ हूं, कोई नहीं जानता पीएम मोदी क्या करेंगे: एनसीपी प्रमुख शरद पवार

बता दें साध्वी प्रज्ञा ठाकुर इस लोकसभा चुनाव में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह को बड़े अंतर से हराकर भोपाल से संसद पहुंची हैं. प्रज्ञा के नाम पर रजिस्टर्ड एक बाइक मालेगांव बम विस्फोट में इस्तेमाल होने के चलते 2008 में उनकी इस मामले में गिरफ्तारी हुई थी. 

वीडियो: शपथ ग्रहण में शरद पवार को सीट देने पर आई सफाई

टिप्पणियां



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement