NDTV Khabar

देश में बढ़ रहे आक्रोश को लेकर सोनू निगम ने दिया बयान, कहा- हमें मुस्कुराने और संयम रखने की जरूरत है

सोनू निगम (Sonu Nigam) ने एक मीडिया सम्मेलन में अनु मलिक का समर्थन किया था. उस दौरान उन्होंने (Sonu Nigam) कहा था कि जो सम्माननीय महिला ट्विटर पर ऊटपटांग बातें कर रही हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
देश में बढ़ रहे आक्रोश को लेकर सोनू निगम ने दिया बयान, कहा- हमें मुस्कुराने और संयम रखने की जरूरत है

सोनू निगम ने देश के हालात पर की यह टिप्पणी

खास बातें

  1. देश में बढ़ रहा आक्रोश सही नहीं- सोनू निगम
  2. सभी को अपनी मर्यादा का ख्याल रखना चाहिए- निगम
  3. सोनू निगम ने कहा सभी रख सकते हैं अपनी बात
मुंबई :

नसीरुद्दीन शाह के बाद अब बॉलीवुड गायक सोनू निगम (Sonu Nigam) ने देश में हालात को लेकर बड़ा बयान दिया है. उन्होंने कहा है कि मैं देश के आक्रोश को लेकर काफी चिंतित हूं. उन्होंने कहा कि लोगों में शिष्टाचार की आवश्यकता है. जिस तरह की भाषा का उपयोग लोग करते हैं वह आश्चर्यजनक है. मैंने अपने हर बयान में मर्यादा बनाए रखी. हमें मुस्कुराने और संयम रखने की जरूरत है. कुछ समय पहले सोनू निगम (Sonu Nigam) ने एक मीडिया सम्मेलन में अनु मलिक का समर्थन किया था. उस दौरान उन्होंने (Sonu Nigam) कहा था कि जो सम्माननीय महिला ट्विटर पर ऊटपटांग बातें कर रही हैं, वह एक ऐसे व्यक्ति की पत्नी हैं जिन्हें मैं बेहद करीब मानता हूं. हालांकि वह इस संबंध को भूल चुकी हैं. मैं शिष्टाचार बनाए रखना चाहूंगा. इस पर गायिका सोना महापात्रा ने मलिक को ‘लगातार उत्पीड़न' करने वाला व्यक्ति बताया था.

यह भी पढ़ें: नसीरुद्दीन शाह बोले- गाय की मौत को पुलिस अधिकारी की हत्या से ज्यादा तवज्जो दी गई


इस पर सफाई देते हुए सोनू ने कहा कि इससे पहले सोनू सनसनीखेज हेडलाइन के कारण लोगों के निशाने पर आ गए थे. इस बारे में सोनू ने कहा कि जब मुझे कुछ कहना होगा तो मैं वह कहूंगा जिस पर मुझे विश्वास है. मैं सच कहूंगा. आंख के बदले आंख ... यह मेरा चीजों से निपटने का तरीका नहीं है. इससे केवल मॉब लिंचिंग (भीड़ द्वारा पीट पीटकर हत्या), रोड रेज (सड़क पर चालकों द्वारा हिंसक रोष व्यक्त करना) जैसी घटनाएं ही होती हैं. गौरतलब है कि सोनू ने एक कार्यक्रम के दौरान कहा था कि वह पाकिस्तान से होते तो उन्हें भारत में काम करने के अधिक अवसर मिलते. हालांकि बाद में इस बयान पर सफाई देते हुए उन्होंने कहा था कि यह बयान उन्होंने संगीत जगत में मौजूदा रॉयल्टी के संदर्भ में दिया था.

यह भी पढ़ें: अनुपम खेर का नसीरुद्दीन शाह पर निशाना, पूछा- आपको और कितनी ज्यादा आजादी चाहिए

बता दें कि कुछ दिन पहले अभिनेता नसीरुद्दीन शाह ने प्रत्यक्ष तौर पर हाल ही में भीड़ द्वारा की गई हिंसा का हवाला देते हुए कहा था कि कई जगहों पर एक गाय की मौत को एक पुलिस अधिकारी की हत्या से ज्यादा तवज्जो दी गई. अभिनेता ने अपने बच्चों की सुरक्षा को लेकर भी चिंता जताई थी. उनका कहना था कि उन्होंने अपने बच्चों को किसी खास धर्म की शिक्षा नहीं दी है. नसीरुद्दीन शाह 'कारवां-ए-मोहब्बत इंडिया' द्वारा किए गए वीडियो साक्षात्कार में यह टिप्पणी कर रहे थे. इस संगठन ने यूट्यूब चैनल पर यह वीडियो पोस्ट किया था.

टिप्पणियां

यह भी पढ़ें: अभिनेता नसीरुद्दीन शाह के बयान पर क्या बोले गृहमंत्री राजनाथ सिंह ?

अभिनेता नसीरुद्दीन शाह का कहना था कि जहर फैलाया जा चुका है' और अब इसे रोक पाना मुश्किल होगा. उन्होंने कहा था कि इस जिन्न को वापस बोतल में बंद करना मुश्किल होगा. जो कानून को अपने हाथों में ले रहे हैं, उन्हें खुली छूट दे दे गई है. कई क्षेत्रों में हम यह देख रहे हैं कि एक गाय की मौत को एक पुलिस अधिकारी की मौत से ज्यादा तवज्जो दी गई.'' अभिनेता की पत्नी रत्ना पाठक हैं. शाह ने कहा था कि उन्होंने तय किया था कि वे अपने बच्चों इमाद और विवान को धार्मिक शिक्षा नहीं देंगे क्योंकि उनका मानना है कि 'खराब या अच्छा होने का किसी धर्म से कोई लेना-देना नहीं है.'' 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों (Election News in Hindi), LIVE अपडेट तथा इलेक्शन रिजल्ट (Election Results) के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement