NDTV Khabar

पश्चिम बंगाल में BJP कार्यकर्ताओं की हत्या की CBI जांच की मांग वाली याचिका SC ने की खारिज, कहा- HC जाएं

सुप्रीम कोर्ट ने पश्चिम बंगाल में पंचायत चुनावों के बाद पुरुलिया में हुई दो भाजपा कार्यकर्ताओं की हत्या की जांच सीबीआई से करवाने की मांग करने वाली याचिका को खारिज कर दिया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
पश्चिम बंगाल में BJP कार्यकर्ताओं की हत्या की CBI जांच की मांग वाली याचिका SC ने की खारिज, कहा- HC जाएं

सुप्रीम कोर्ट (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

सुप्रीम कोर्ट ने पश्चिम बंगाल में पंचायत चुनावों के बाद पुरुलिया में हुई दो भाजपा कार्यकर्ताओं की हत्या की जांच सीबीआई से करवाने की मांग करने वाली याचिका को खारिज कर दिया है. साथ ही सुप्रीम कोर्ट ने हत्याओं की जांच सीबीआई से कराने की मांग करने वालों को कलकत्ता उच्च न्यायालय जाने को कहा है. न्यायमूर्ति ए . के . गोयल और न्यायमूर्ति अशोक भूषण की अवकाशकालीन पीठ ने याचिका दायर करने वाले से इस सबंध में राहत के लिए कलकत्ता उच्च न्यायालय जाने को कहा. याचिकाकर्ता की ओर से पेश हुए अधिवक्ता गौरव भाटिया ने कहा कि यह गंभीर मुद्दा है क्योंकि पुरूलिया जिले में भाजपा कार्यकर्ताओं की हत्या पंचायत चुनाव समाप्त होने के बाद हुई है. पुरूलिया जिले के बलरामपुर गांव के भाजपा कार्यकर्ता 18 वर्षीय त्रिलोचन महतो का शव 30 मई को पेड़ से लटकता हुआ मिला था. महतो की पीठ पर बांग्ला में लिखा एक पोस्टर चिपकाया हुआ था. उसपर लिखा था कि पंचायत चुनाव में भाजपा का समर्थन करने के कारण उसकी हत्या की गयी है. पुरूलिया में ही इसी अवस्था में दो जून को अन्य भाजपा कार्यकर्ता दुलाल कुमार का शव मिला था. याचिका दुलाल के पिता ने याचिका दायर कर हत्याओ की जांच सीबीआई से कराने की मांग की थी.

पुरुलिया मामला: बीजेपी कार्यकर्ता ने टावर से लटक कर की थी आत्महत्या, पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में दावा


बता दें कि बीते दिनों एक सप्ताह के भीतर पुरुलिया में दो बीजेपी कार्यकर्ता की हत्या कर दी गई थी. एक का शव जहां पेड़ से लटका मिला था, वहीं दूसरे का शव बिजली के पोल से लटका मिला था. इन दोनों युवकों की बत्या को बीजेपी ने अपना कार्यकर्ता बताया था और इसके लिए सीबीआई की मांग की थी. पुरुलिया में एक सप्ताह के भीतर बीजेपी के दो कार्यकर्ताओं की हत्या के बाद इस घटना से आक्रोशित स्थानीय लोगों ने विरोध प्रदर्शन किया. इस घटना के पीछे बीजेपी ने टीएमसी के कार्यकर्ता को जिम्मेवार ठहराय था. हालांकि तृणमूल कांग्रेस ने इन आरोपों से इनकार किया और इसे निराधार बताया. भाजपा ने आरोप लगाया कि ये मौतें ‘ राजनीतिक हत्याएं ’ है और उन्होंने इन दोनों घटनाओं की सीबीआई जांच की मांग की थी. 

भाजपा कार्यकर्ता की हत्या के खिलाफ में BJP का पुरुलिया बंद, पुलिस ने एक आरोपी को किया गिरफ्तार

इस मामले पर बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने कथित ‘राजनीतिक हत्याओं ’ के मद्देनजर पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर निशाना साधा. शाह ने ट्वीट किया‘पश्चिम बंगाल के बलरामपुर में भाजपा कार्यकर्ता दुलाल कुमार की हत्या के बारे में जानकर परेशान हूं. पश्चिम बंगाल की भूमि पर यह क्रूरता और हिंसा शर्मनाक तथा अमानवीय है. ममता बनर्जी की सरकार राज्य में कानून व्यवस्था को बनाए रखने में पूरी तरह असफल रही है.’

पुरुलिया में BJP कार्यकर्ता की हत्या पर कैलाश विजयवर्गीय ने मानवाधिकार आयोग को लिखा पत्र, जांच की मांग की

टिप्पणियां

हालांकि, पहले एडीजी (कानून व्यवस्था) अनुज शर्मा ने पश्चिम बंगाल सरकार ने महतो की मौत के मामले में आपराधिक जांच विभाग (सीआईडी) से जांच कराने के आदेश दिये हैं थे. साथ ही कुमार की मौत को आत्महत्या बताने के लिए पुरुलिया के एसपी पर निशाना साधते हुए भाजपा के राष्ट्रीय सचिव और पार्टी की प्रदेश इकाई के पूर्व अध्यक्ष राहुल सिन्हा ने इन दोनों घटनाओं की सीबीआई जांच की मांग की.

VIDEO: भाजपा कार्यकर्ता की हत्या के खिलाफ में BJP का पुरुलिया बंद



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement