NDTV Khabar

विरासत की जंग : रैली में बोले तेज प्रताप- मैं हूं बिहार का दूसरा लालू यादव

आपको बता दें कि सारण लोकसभा सीट से जैसे ही तेज प्रताप यादव के ससुर चंद्रिका राय को सारण से टिकट दिया गया उसी दिन से दोनों भाइयों को मनमुटाव और बढ़ गया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
विरासत की जंग : रैली में बोले तेज प्रताप- मैं हूं बिहार का दूसरा लालू यादव

तेज प्रताप यादव ने जहानाबाद में आयोजित रैली में कई हमले किए

नई दिल्ली:

लोकसभा चुनाव अब धीरे-धीरे अंतिम दौर में पहुंच रहा है लेकिन बिहार में चुनाव में फीका सा लग रहा है. पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव की गैर मौजूदगी से चुनाव में बार उनके चुटेले भाषण गायब हैं. लेकिन दूसरी ओर उनके परिवार में विरासत को लेकर खींचतान जारी है. बिहार के जहानाबाद में आयोजित रैली में तेज प्रताप यादव ने खुद को बिहार का दूसरा लालू प्रसाद यादव घोषित कर दिया है. तेज प्रताप का यह ऐलान एक तरह से अपने पिता लालू प्रसाद यादव की विरासत में दावा ठोकने के बराबर है. गौरतलब है कि लालू की गैरमौजूदगी में एक तरह से पार्टी का काम काजकाज देख रहे तेजस्वी के ऊपर तेज प्रताप कई हमले कर चुके हैं. हालांकि कैमरे के सामने दोनों भाई हमेशा गले मिलते हुए नजर आते हैं. रैली में तेज प्रताप यादव ने अपने पिता की तारीफ करते हुए कहा, 'वह बहुत ही ऊर्जावान हैं. वह एक दिन में 10-12 कार्यक्रमों हिस्सा लेते हैं. लेकिन अब नेता ही दो चार कार्यक्रमों में हिस्सा लेने के बाद थक जाते हैं. आपको बता दें कि तेज प्रताप जहानाबाद में आरजेडी प्रत्याशी चंद्र प्रकाश के समर्थन में रैली करने आए थे. 

तेजस्वी यादव ने बड़े भाई तेज प्रताप के जन्मदिन पर काटा केक, ट्विटर पर यूं आया रिएक्शन


हालांकि उन्होंने अपने भाषण में भाई का नाम तो नहीं लिया है लेकिन उन्होंने इशारों-इशारों में ही उन पर निशाना साधा है क्योंकि तेजस्वी यादव ने बीमार होने के चलते कई रैलियों को कैंसिल कर दिया है. तेज प्रताप के भाषण से आप समझ सकते हैं कि वह कहां और किस पर निशान साध रहे हैं. उन्होंने कहा, 'मैं लालू प्रसाद यादव का खून हूं. वह हमारे आदर्श और गुरू हैं. मैं ही बिहार का दूसरा लालू प्रसाद यादव हूं.' तेज प्रताप यादव यही नहीं रुके उन्होंने कहा कि आरजेडी के टिकट कुछ चापलूसों को बांटे गए हैं. उन्होंने कहा कि उन्हें विश्वास है कि उनका प्रत्याशी जहानाबाद में एक लाख से अधिक वोटों से जीतेगा.

खत्म नहीं हुई लालू परिवार में 'कलह': तेजप्रताप ने तेजस्वी से की शिवहर प्रत्याशी बदलने की मांग, बताया BJP नेताओं का करीबी

टिप्पणियां

आपको बता दें कि सारण लोकसभा सीट से जैसे ही तेज प्रताप यादव के ससुर चंद्रिका राय को सारण से टिकट दिया गया उसी दिन से दोनों भाइयों को मनमुटाव और बढ़ गया है. सारण लोकसभा सीट से लालू प्रसाद यादव कई बार चुनाव जीत चुके हैं. तेज प्रताप यादव ने शादी के कुछ ही महीने बाद ही तलाक दे दिया था. तेज प्रताप इस बात भी नाराज हैं कि पिता की सीट को परिवार के ही किसी सदस्य को क्यों नहीं दी गई. 

लालू यादव के कुनबे में कलह​



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement