NDTV Khabar

खत्म नहीं हुई लालू परिवार में 'कलह': तेजप्रताप ने तेजस्वी से की शिवहर प्रत्याशी बदलने की मांग, बताया BJP नेताओं का करीबी

पार्टी अध्यक्ष लालू यादव ने शिवहर लोकसभा सीट (Sheohar Lok Sabha Seat) से फैसल अली को उम्मीदवार बनाया हैं, तेजप्रताप ने अपने छोटे भाई तेजस्वी (Tejashwi Yadav) से उस उम्मीदवार को बदलने की मांग की है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
खत्म नहीं हुई लालू परिवार में 'कलह': तेजप्रताप ने तेजस्वी से की शिवहर प्रत्याशी बदलने की मांग, बताया BJP नेताओं का करीबी

लालू यादव के बड़े बेटे तेज प्रताप यादव.

पटना:

राजद (RJD) प्रमुख लालू प्रसाद यादव (Lalu Yadav) के परिवार में अभी कलह खत्म नहीं हुई है. यादव में चल रही अंतर्कलह ने एक नया मोड ले लिया है. पार्टी अध्यक्ष लालू यादव ने शिवहर लोकसभा सीट (Sheohar Lok Sabha Seat) से फैसल अली को उम्मीदवार बनाया हैं, तेजप्रताप ने अपने छोटे भाई तेजस्वी (Tejashwi Yadav) से वहां से उम्मीदवार बदलने की मांग की है. मंगलवार को तेजप्रताप (Tej Pratap) मीडिया के सामने आये और कहा कि उनका काम पार्टी को जोड़ने का हैं. उन्होंने शिवहर के प्रत्याशी फैसल अली के भाजपा नेताओं खासकर केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी से करीबी होने का आरोप लगाया. तेज प्रताप ने मीडिया वालों को कुछ फोटो भी दिखाए, जिसमें वह मुख्तार अब्बास नकवी के साथ होली खेलते हुए दिख रहे हैं. 

बता दें, शिवहर लोकसभा सीट से तेज प्रताप यादव (Tej Pratap Yadav) के करीबी को टिकट नहीं मिलने के बाद तेज प्रताप ने दो ट्वीट किए थे. पहले ट्वीट में उन्होंने किसी को 'दुर्योधन' कहकर संबोधित किया है तो वहीं दूसरी ट्वीट में लिखा है कि हमारे परिवार के बीच कोई भी आएगा, उसका सर्वनाश होगा. उन्होंने कहा था कि ट्वीट किया, 'दुर्योधन वह भी दे ना सका, आशीष समाज की ले न सका, उलटे, हरि को बांधने चला, जो था असाध्य, साधने चला. जब नाश मनुज पर छाता है, पहले विवेक मर जाता है.' इस ट्वीट को तेज प्रताप के करीबी को शिवहर सीट से टिकट न दिए जाने पर विरोध के रूप में देखा जा रहा था.


लालू यादव परिवार में 'कलह': सर्वनाश की धमकी देते हुए किसे 'दुर्योधन' बता रहे हैं तेज प्रताप?

लेकिन मंगलवार को तेजप्रताप ने साफ किया कि उन्होंने दुर्योधन अपने छोटे भाई तेजस्वी के लिए नहीं बल्कि उनके आस पास के लोगों के लिए कहा था. उन्होंने कहा कि फिलहाल तेजस्वी से उनकी बातचीत नहीं हुई हैं. उन्होंने साफ किया कि वो अपने दीदी मीसा भारती के लिए प्रचार करेंगे लेकिन अपने ससुर चंद्रिका राय के लिए प्रचार करने नहीं जाएंगे. तेज प्रताप ने फिर दोहराया कि वो अपने भाई के लिए कृष्ण की भूमिका में रहेंगे.

क्यों मचा है लालू यादव परिवार में घमासान? आखिर बगावत पर क्यों उतरे बड़े बेटे तेज प्रताप

गौरतलब है कि तेज प्रताप इन दिनों लोकसभा चुनाव में पार्टी की ओर से सीट बंटवारे को लेकर नाराज चल रहे हैं. तेज प्रताप ने पिछले दिनों राजद से अलग होकर 'लालू-राबड़ी मोर्चा' का गठन किया है. इस दौरान उन्होंने राजद से दो सीटों की मांग की है. तेज प्रताप ने सारण लोकसभा सीट से अपने ससुर चंद्रिका राय को भी टिकट देने पर नाराजगी जाहिर की है.

टिप्पणियां

RJD से बागी हुए तेजप्रताप को मिला BJP और JDU का साथ, डिप्टी CM सुशील मोदी ने कही यह बात...

Video: लालू यादव के कुनबे में कलह



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement