उन्नाव रेप के आरोपी विधायक कुलदीप सेंगर को भाजपा ने पार्टी से निकाला, यूपी BJP अध्यक्ष ने की पुष्टि

उन्नाव रेप (Unnao Rape) के आरोपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर (Kuldeep Singh Sengar) को BJP ने पार्टी से निकाल दिया है. यूपी बीजेपी के अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह (Swatantra Dev Singh) ने इस खबर की पुष्टि की.

खास बातें

  • BJP ने उन्नाव रेप के आरोपी विधायक को पार्टी से निकाला
  • यूपी BJP अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने सेंगर को निकाले जाने की पुष्टि की
  • उन्नाव रेप पीड़िता की दुर्घटना मामले में भी सेंगर पर हत्या का है आरोप
नई दिल्ली:

उन्नाव रेप (Unnao Rape) के आरोपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर (Kuldeep Sengar) को BJP ने पार्टी से निकाल दिया है. यूपी बीजेपी के अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह (Swatantra Dev Singh) ने इस खबर की पुष्टि की. स्वतंत्र देव सिंह ने कहा कि केंद्रीय नेतृत्व ने विधायक कुलदीप सेंगर को पार्टी से निष्कासित कर दिया है. बता दें कि कुलदीप सेंगर को पार्टी ने पहले ही निलंबित कर दिया था. बता दें कि बीते रविवार को बलात्कार पीड़िता की कार में ट्रक ने टक्कर मार दी थी. टक्कर में रेप पीड़िता की चाची और मौसी की मौत हो गई थी. वहीं, पीड़िता लखनऊ के अस्पताल में जिंदगी और मौत से लड़ रही है. सीबीआई ने पीड़िता के सड़क दुर्घटना मामले में कुलदीप सिंह सेंगर और 9 अन्य के खिलाफ हत्या के आरोपों के तहत मामला दर्ज किया है.

इससे पहले मामले की जांच करने के लिए एजेंसी की तरफ से गठित विशेष टीम रायबरेली जिले के गुरबख्शगंज इलाके में हादसा स्थल पर पहुंची. टीम ने अपराध स्थल, मारूति स्विफ्ट कार को टक्कर मारने वाले ट्रक का निरीक्षण किया.  दुर्घटना के बाद घटनास्थल पर सबसे पहले पहुंचे पुलिस अधिकारियों से भी सीबीआई की टीम ने बातचीत की. एजेंसी के सूत्रों ने बताया कि टीम महिला की सुरक्षा में तैनात पुलिस अधिकारियों से भी बातचीत करेगी और उनसे पूछेगी कि रविवार को वे पीड़िता के साथ क्यों नहीं थे, जब दुर्घटना हुई.

उन्नाव रेप केस: पीड़िता की सुरक्षा में लगे 3 पुलिसवाले सस्पेंड, ड्यूटी में लापरवाही बरतने को लेकर हुई कार्रवाई

गौरतलब है कि कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने भाजपा विधायक कुलदीप सिंह सेंगर को पार्टी से निष्कासित करने की मांग को लेकर बुधवार को उपवास किया. पार्टी आलाकमान के निर्देश पर कांग्रेस कार्यकर्ता सुबह से जीपीओ पार्क में उपवास पर बैठे. कांग्रेस नेता अजय कुमार ‘लल्लू' ने कहा कि उपवास विधायक को निष्कासित करने की मांग को लेकर है क्योंकि केवल निलंबन से काम नहीं चलेगा. पार्टी बलात्कार पीड़िता और उसके वकील के अच्छे से अच्छे इलाज की भी मांग कर रही है. दोनों इस समय अस्पताल में भर्ती हैं. 

उन्नाव मामले पर बोलीं प्रियंका गांधी, यूपी की हर लड़की के मन में यही सवाल है कि उसकी आवाज सुनी जाएगी या नहीं

लल्लू ने कहा, ‘‘हमने यह भी मांग की है कि परिवार के जिन सदस्यों की जान गई है, उनके परिजनों को एक-एक करोड़ रुपए की आर्थिक मदद तथा महेश सिंह को एक महीने का पैरोल दिया जाए ताकि वह अपने परिवार की ठीक से देखभाल कर सकें. कांग्रेस नेता ने बताया कि बलात्कार पीड़िता की हालत अभी भी गंभीर है जबकि वकील की हालत में मामूली सुधार है. 

उन्नाव रेप मामला: सुप्रीम कोर्ट चार केस करेगा दिल्ली ट्रांसफर, कहा- सुनवाई के वक्त कोर्ट में मौजूद हो CBI अधिकारी

VIDEO: जानिए उन्नाव मामले में कब क्या हुआ?

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com