NDTV Khabar

मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से मुलाकात के बाद पश्चिम बंगाल में डॉक्टरों की हड़ताल खत्म

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) से मुलाकात के बाद बंगाल में डॉक्टरों की हड़ताल खत्म हो गई है. डॉक्टरों ने हड़ताल वापस लेने का ऐलान कर दिया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से मुलाकात के बाद पश्चिम बंगाल में डॉक्टरों की हड़ताल खत्म

सीएम ममता बनर्जी से मुलाकात के बाद पश्चिम बंगाल में डॉक्टरों ने हड़ताल खत्म करने का किया ऐलान.

खास बातें

  1. बंगाल में डॉक्टरों की हड़ताल खत्म
  2. एक हफ्ते से जारी थी डॉक्टरों की हड़ताल
  3. CM ममता बनर्जी से मुलाकात से बाद फैसला
कोलकाता:

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) से मुलाकात के बाद बंगाल में डॉक्टरों की हड़ताल खत्म हो गई है. डॉक्टरों ने हड़ताल वापस लेने का ऐलान कर दिया है. डॉक्टरों के संयुक्त मोर्चा के एक प्रवक्ता ने संवाददाताओं से कहा कि डॉक्टर काम पर लौटेंगे, क्योंकि वह राज्य सरकार को वादे लागू करने के लिए कुछ समय देना चाहते हैं. नील रतन सरकार मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल में शासकीय निकाय की बैठक के बाद उन्होंने कहा, 'मुख्यमंत्री के साथ हमारी मुलाकात और चर्चा सफल रही. हर चीज पर विचार करते हुए हमें उम्मीद है कि सरकार चर्चा के मुताबिक मुद्दे का समाधान करेगी.' राज्य सचिवालय में हड़ताली डॉक्टरों के प्रतिनिधियों के साथ बनर्जी की बैठक के कुछ समय बाद यह घोषणा हुई. एनआरएस अस्पताल में पिछले सोमवार को एक रोगी की मौत के बाद उसके रिश्तेदारों द्वारा दो चिकित्सकों की पिटाई करने से क्षुब्ध जूनियर डॉक्टर मंगलवार से हड़ताल पर चले गए थे.


डॉक्‍टरों के साथ बैठक में ममता बनर्जी ने कहा, 'आपकी चिंता दूर करेंगे'

चिकित्सक फोरम के प्रवक्ता ने कहा, 'हमने अपने संचालन समिति की बैठक में निर्णय किया कि हम जल्द से जल्द अपने काम पर लौटेंगे.' उन्होंने कहा, 'हमें समय देने के लिए हम मुख्यमंत्री को धन्यवाद देते हैं. हम राज्य सरकार को कुछ समय देना चाहते हैं ताकि जो वादे उन्होंने किए हैं उसे पूरा कर सकें. हम आम आदमी का भी धन्यवाद करते हैं.  हम उनसे माफी भी मांगते हैं, जिन्हें काफी असुविधा हुई.' जूनियर डॉक्टरों ने घायल चिकित्सक परिबाहा मुखोपाध्याय को देखने अस्पताल में जाने के लिए भी मुख्यमंत्री को धन्यवाद दिया. प्रवक्ता ने कहा, 'हम खुश हैं. उन्होंने हमसे वादा किया था और वह अस्पताल में परिबाहा को देखने गईं.'

बता दें कि पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) और आंदोलन कर रहे जूनियर डॉक्टरों के बीच राज्य सचिवालय में बैठक हुई थी. बैठक में जूनियर डॉक्टरों ने मेडिकल कॉलेज और अस्पताल में उन्हें हो रही दिक्कतों से मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को अवगत कराया था. पश्चिम बंगाल के स्वास्थ्य सचिव, राज्य मंत्री चंद्रिमा भट्टाचार्य और राज्य के अधिकारी, 31 जूनियर डॉक्टर बनर्जी के साथ बैठक में मौजूद रहे. केवल दो क्षेत्रीय न्यूज चैनलों को राज्य सचिवालय में बनर्जी और जूनियर डॉक्टरों के बीच हुई बैठक को कवर करने की अनुमति दी गई थी. ममता बनर्जी ने बैठक में कहा कि राज्य सरकार ने किसी भी डॉक्टर के खिलाफ मामला दर्ज नहीं किया है. वहीं बैठक में जूनियर डॉक्टरों के ज्वाइंट फोरम ने मुख्‍यमंत्री से कहा, 'कहा काम करते हुए हमें डर लगता है, एनआरएस के डॉक्टरों से मारपीट करने वालों को ऐसी सजा दी जाए जो दूसरों के लिए उदाहरण हो.'

मोदी सरकार ने डॉक्टरों की सुरक्षा के लिए नया कानून लाने की कोशिश शुरू की

सरकार द्वारा उठाए गए कदमों की जानकारी देते हुए ममता बनर्जी ने कहा, 'हमने पर्याप्त कदम उठाए हैं, एनआरएस अस्पताल में हुई घटना में कथित तौर पर लिप्त पांच लोगों को गिरफ्तार किया गया है.' उन्‍होंने कहा कि जो घटना हुई उसका उन्‍हें दुख है और सरकार डॉक्‍टरों की चिंता दूर करेगी. मुख्यमंत्री ने जूनियर डॉक्टरों के साथ बैठक में उनके प्रस्ताव के मुताबिक पश्चिम बंगाल के सभी अस्पतालों में शिकायत निपटारा इकाइयों के गठन का निर्देश दिया. ममता बनर्जी ने डॉक्‍टरों से हड़ताल खत्‍म करने की अपील की जिसके जवाब में डॉक्‍टरों ने कहा कि वह साथियों से बात करने के बाद ही इस पर कोई फैसला लेंगे.

डॉक्‍टरों के साथ बैठक में ममता बनर्जी ने कहा, 'आपकी चिंता दूर करेंगे'

दिल्ली के ऑल इंडिया इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस (AIIMS) स्थित ट्रामा सेंटर में रविवार की देर रात मरीज के अटेंडेंट द्वारा डॉक्टर के साथ बदसलूकी का मामला सामने आया है. डॉक्टर का आरोप है मरीज के अटेंडेंट ने दुर्व्यवहार करने के साथ गाली-गलौज भी की. एम्स ट्रामा सेंटर में बीती रात हुई घटना के बारे में डॉक्टरों का कहना है कि जब कोई घायल मरीज अस्पताल आता है तो फिजिशियन की ड्यूटी होती है कि गंभीर मरीज को देखने के बाद उन्हें देखा जाए.

AIIMS के डॉक्टर का दावा: मरीज के अटेंडेंट ने जान से मारने की दी धमकी

टिप्पणियां

आरडीए के प्रमुख डॉ. अमरिंदर सिंह मलही ने कहा, ''ऐसा इसलिए किया गया क्योंकि मरीज की गंभीर स्थिति नहीं थी, लेकिन मरीज के अटेंडेंट ने शराब पी रखी थी जिसने अभद्र भाषा का प्रयोग किया और कहा, अगर तुम इसे अभी नहीं देखेगो तो मैं तुम्हें मार दूंगा.'' इसी वजह से एम्स के रेजिडेंट डॉक्टर सोमवार को दोपहर 12 बजे से लेकर मंगलवार सुबह 6 बजे तक हड़ताल पर रहने का फैसला लिया. एम्स के डॉक्टरों ने सुबह 8 से 9 बजे तक पश्चिम बंगाल के डॉक्टरों की मांग के समर्थन में मार्च भी किया. फिलहाल अस्पताल में केवल आपातकालीन सेवाएं ही उपलब्ध रहेंगी.

VIDEO: ममता बनर्जी ने हड़ताली डॉक्‍टरों से की काम पर लौटने की अपील



NDTV.in पर विधानसभा चुनाव 2019 (Assembly Elections 2019) के तहत हरियाणा (Haryana) एवं महाराष्ट्र (Maharashtra) में होने जा रहे चुनाव से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरें (Election News in Hindi), LIVE TV कवरेज, वीडियो, फोटो गैलरी तथा अन्य हिन्दी अपडेट (Hindi News) हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement