NDTV Khabar

क्या है सारदा चिटफंड घोटाला और कोलकाता पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार का कनेक्शन

वहीं कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने ट्वीट कर बताया है, 'ममता दी से रात में बात हुई है, हमने उनसे कहा है कि कंधे से कंधा मिलाकर साथ खड़े हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
क्या है सारदा चिटफंड घोटाला और कोलकाता पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार का कनेक्शन

कोलकाता पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार

खास बातें

  1. कोलकाता पुलिस कमिश्नर हैं राजीव कुमार
  2. 4 हजार करोड़ का रुपये का है सारदा चिटफंड घोटाला
  3. सबूतों से छेेड़छाड़ का है आरोप
नई दिल्ली:

सारदा चिटफंड घोटाले  के लेकर कोलकाता के पुलिस कमिश्नर से पूछताछ करने पहुंची सीबीआई की टीम को लेकर सियासी ड्रामा जारी है. रविवार की शाम को जहां कोलकाता पुलिस ने सीबीआई को ही हिरासत में ले लिया और इसके बाद पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री धरने पर बैठ गई हैं उनके साथ पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार भी बैठे हुए हैं. दूसरी ओर इस मुद्दे को लेकर राजनीतिक खेमेबंदी भी तेज हो गई है.  उन्हें कई विपक्षी दलों का साथ मिल रहा है. सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू, तेजस्वी यादव, फारुख अब्दुल्ला, देवेगौड़ा और शरद पवार भी ममता के साथ हैं. वहीं कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने ट्वीट कर बताया है, 'ममता दी से रात में बात हुई है, हमने उनसे कहा है कि कंधे से कंधा मिलाकर साथ खड़े हैं. बंगाल में जो कुछ भी हो रहा है वह मोदी और बीजेपी की ओर संस्थानों पर हमला  है. पूरा विपक्ष खड़ा होगा और फासिस्ट ताकतों को हराएगा'. 

 


 

कौन हैं कोलकाता पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार? जिनके समर्थन में आधी रात धरने पर बैठ गईं CM ममता

क्या है सारदा चिटफंड घोटाला?
ये घोटाला 40,000 करोड़ रुपये का है. इसमें 34 गुना ज्यादा वापस करने के वादे का साथ क़रीब 10 लाख लोगों से पैसे लिए गए. जिसमें  पश्चिम बंगाल, ओडिशा, असम के लोग शामिल थे. बाद में कंपनी के लोग पैसे लेकर फरार हो गए. इसमें कई राजनीतिक दलों के नेताओं का नाम सामने आए. साल 2014 में सुप्रीम कोर्ट ने दिया CBI जांच के आदेश दिए.

क्या कोलकाता हाईवोल्टेज ड्रामे का कनेक्शन योगी आदित्यनाथ से है?

क्यों हुआ कोलकाता पुलिस कमिश्नर को लेकर विवाद
राजीव कुमार कोलकाता पुलिस कमिश्नर हैं. वो 2016 में कोलकाता के पुलिस कमिश्नर बनाए गए. राजीव कुमार 1989 बैच के IPS अफ़सर हैं. वो 2013 में सारदा और रोज़ वैली चिटफंड घोटाले की जांच के लिए बनाई  गई SIT के चीफ़ रहे. बीजेपी का आरोप है कि राजीव कुमार ने जांच की गति धीमी की, और सूबतों से छेड़छाड़ की. CBI इन्हीं चिटफंड घोटाले के सिलसिले में उनसे पूछताछ करने पहुंची थी. सीबीआई का कहना है कि वो पूछताछ में सहयोग नहीं कर रहे हैं. फिलहाल अब सीबीआई सुप्रीम कोर्ट में रविवार को हुई घटना पर याचिका दाखिल करेगी. मिली जानकारी के मुताबिक सीबीआई सुप्रीम कोर्ट में बंगाल के चीफ सेकेट्री, DGP और कोलकाता के पुलिस आयुक्त राजीव कुमार के खिलाफ अवमानना की अर्जी दाखिल करेगी. इसके साथ ही एक अर्जी में सीबीआई राजीव कुमार को जांच में शामिल होने के निर्देश की मांग करेगी.

टिप्पणियां

Top News @ 8AM: CBI और कोलकाता पुलिस में टकराव, CM ममता धरने पर​

 



NDTV.in पर विधानसभा चुनाव 2019 (Assembly Elections 2019) के तहत हरियाणा (Haryana) एवं महाराष्ट्र (Maharashtra) में होने जा रहे चुनाव से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरें (Election News in Hindi), LIVE TV कवरेज, वीडियो, फोटो गैलरी तथा अन्य हिन्दी अपडेट (Hindi News) हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement