योगी आदित्यनाथ ने किया ताजमहल का दीदार और विरोधियों पर यूं किया वार

विवादित बयानों की पृष्ठभूमि में आज योगी आदित्यनाथ ने ‘मोहब्बत की जीती-जागती’ मिसाल कहलाने वाली, 17वीं सदी की इस इमारत का दीदार किया

योगी आदित्यनाथ ने किया ताजमहल का दीदार और विरोधियों पर यूं किया वार

योगी आदित्यनाथ ने किया ताजमहल का दीदार और विरोधियों पर वार

खास बातें

  • यूपी में विकास के नाम पर अपराधियों का विकास हुआ : योगी
  • फसली ऋण माफ करने का काम यूपी सरकार ने किया
  • विवादों के बीच ताजमहल का दीदार करने पहुंचे थे योगी आदित्यनाथ
आगरा:

योगी आदित्यनाथ आज आगरा के दौरे पर हैं. ताजमहल का दीदार करने के बाद योगी आदित्यनाथ ने कहा कि आगरा आने पर उन्हीं लोगों को ऐतराज है जिन्होंने यूपी को बांट रखा है. उस समय विकास का काम नहीं करवाया अब पीड़ा सामने आ रही है. योगी आदित्यनाथ कर रहे थे ताजमहल का दीदार, मगर विधायक के बयान ने करवा दी फजीहत

योगी आदित्यनाथ की कही खास बातें

  1. यहां कुछ योजनाएं लंबे समय से अटकी पड़ी थीं
  2. यूपी में विकास के नाम पर अपराधियों का विकास हुआ
  3. केंद्र सरकार की योजना पहले की सरकार ने लागू नहीं होने दी
  4. फसली ऋण माफ करने का काम यूपी सरकार ने किया
  5. ताजमहल के वेस्ट गेट पर स्वच्छता अभियान चलाना पड़ा
'प्रेम के प्रतीक' ताजमहल के बारे में कितना जानते हैं आप...?

इससे पहले विवादित बयानों की पृष्ठभूमि में आज योगी आदित्यनाथ ने ‘मोहब्बत की जीती-जागती’ मिसाल कहलाने वाली, 17वीं सदी की इस इमारत का दीदार किया.प्रदेश की पर्यटन मंत्री रीता बहुगुणा जोशी, अधिकारियों और उत्साहित समर्थकों/कार्यकर्ताओं के साथ योगी आदित्यनाथ ताजमहल पहुंचे.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

विवादों के बीच योगी आदित्यनाथ ने किया ताजमहल का दीदार, सैलानियों के साथ खिंचवाई तस्वीरें

ताजमहल आने वाले उत्तर प्रदेश से भाजपा के पहले मुख्यमंत्री आदित्यनाथ ने विरासत भवन परिसर में प्रवेश करने से पहले उसके पश्चिमी दरवाजे पर समर्थकों के साथ झाडू लगाकर सफाई की. स्वच्छ भारत अभियान को बढ़ावा देने के लक्ष्य से योगी ने स्वयं प्रदेश के विधायकों, अधिकारियों और पार्टी के 500 से ज्यादा कार्यकर्ताओं के साथ मिलकर पार्किंग में सफाई की. पीले दस्ताने, सफेद टोपी और प्रदूषण रोधी मास्क पहने योगी ने खुद भी झाडू लगाई. आज सुबह आगरा पहुंचे मुख्यमंत्री की सुरक्षा के लिए शहर में 14,000 से ज्यादा पुलिसकर्मियों को तैनात किया गया है.ऐसा माना जा रहा है कि अपनी पार्टी के नेताओं की टिप्पणियों के कारण उपजे विवादों को शांत करने के प्रयास में आदित्यनाथ यहां आए हैं.