आरती और माथे पर तिलक लगाने के बाद कुछ ऐसा था मेलानिया ट्रंप का रिएक्‍शन, शेयर किया Video

मेलानिया ट्रंप (Melania Trump) सर्वोदय स्‍कूल के 'हैप्‍पीनेस कर‍िकुलम' से सबसे ज्‍यादा प्रभावित हुईं हैं. इस बारे में उन्‍होंने एक वीडियो भी शेयर किया है.

आरती और माथे पर तिलक लगाने के बाद कुछ ऐसा था मेलानिया ट्रंप का रिएक्‍शन, शेयर किया Video

दिल्‍ली के सर्वोदय स्‍कूल में मेलानिया ट्रंंप का पारंपरिक अंदाज में स्‍वागत किया गया था

नई दिल्ली:

अमेरिका पहुंचने के बाद से ही फर्स्‍ट लेडी मेलानिया ट्रंप (Melania Trump) भारत यात्रा से जुड़ी अपनी यादों को ट्विटर पर शेयर कर रही हैं. अमेरिकी राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप (Donald Trump) पत्‍नी मेलानिया ट्रंप, बेटी इवांका ट्रंप  (Ivanka Trump)और दामाद जेरेड कुशनर के साथ 24 और 25 फरवरी को भारत दौरे पर आए थे. 

यह भी पढ़ें: मेलानिया ट्रंप ने शेयर किया खूबसूरत ताजमहला का वीडियो 

अपने भारत दौरे के दौरान मेलानिया राजधानी दिल्‍ली के सर्वोदय स्‍कूल भी गईं थीं, जहां उन्‍होंने स्‍टूडेंट्स और टीचरों के साथ काफी वक्‍त बिताया. स्‍कूल में मेलानिया का पारंपरिक भारतीय अंदाज में स्‍वागत किया गया. इस दौरान बच्‍चों ने उन्‍हें तिलक लगाया, माला पहनाई और आरती भी उतारी. 

mg6m08q8

मेलानिया ने इस बारे मे अपने ट्विटर पर एक वीडियो शेयर करते हुए लिखा, "तिलक और आरती से मेरा पारंपरिक स्‍वागत करने के लिए सर्वोदय स्‍कूल का शुक्रिया." 

मेलानिया ने एक और वीडियो शेयर करते हुए लिखा, "असाधारण स्‍टूडेंट्स और फैकल्‍टी के बीच होना सम्‍मान की बात है."

हालांकि मेलानिया ट्रंप सर्वोदय स्‍कूल के 'हैप्‍पीनेस कर‍िकुलम' से सबसे ज्‍यादा प्रभावित हुईं. इस बारे में एक वीडियो शेयर करते हुए उन्‍होंने लिखा, "मैं दिल्‍ली के सर्वोदय स्‍कूल के 'रीडिंग क्‍लासरूम' और 'हैप्‍पीनेस करिकुलम' से बहुत ज्‍यादा प्रेरित हुईं हूं. मैं इस सिद्धांत से खुश हूं कि बेस्‍ट होना सिर्फ अमेरिका तक ही सीमित नहीं है, बल्‍कि यह दुनिया में कहीं भी हो सकता है."

आपको बता दे कि 'हैप्‍पीनेस करिकुलम' की शुरुआत 2018 में की गई थी, जिसका मकसद नंबर आधारित शिक्षा से कला आधारित शिक्षण पद्धति पर फोकस करना था. यह करिकुलम न सिर्फ अच्‍छी बातें बताता है, बल्‍कि रोजमर्रा के तनाव से निपटने में भी मदद करता है.

डोनाल्‍ड ट्रंप पत्‍नी मेलानिया, बेटी इवांका और दामाद जेरेड कुशनर के साथ 24 फरवरी को अहमादाबाद के सरदार वल्‍लभ भाई पटेल अंतरराष्‍ट्रीय हवाई अड्डे पर उतरे थे, जहां उनका भव्‍य स्‍वागत किया गया. इसके बाद वे साबरमती आश्रम गए, जहां ट्रंप दंपति ने चरखा भी चलाया. फिर मोटेरा स्‍टेडियम में सवा लाख लोगों की मौजूदगी में उन्‍होंने 'नमस्‍ते ट्रंप' कार्यक्रम में भाग लिया. अपने भाषण में ट्रंप ने कहा कि भारत उनका दोस्‍त है और वो यहां आकर काफी खुश हैं. इसके बाद उन्‍होंने आगरा में दुनिया के सातवें अजूबे ताजमहल का दीदार किया था. आगरा से दिल्‍ली पहुंचकर अगले दिन राष्‍ट्रपति भवन में डिनर का आयोजन किया गया था.

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com