लोकसभा चुनाव की तारीखों के ऐलान से पहले पीएम मोदी ने 30 दिन के अंदर निपटाए 157 काम

आठ जनवरी से सात फरवरी के बीच पीएम मोदी ने करीब 57 प्रोजेक्ट्स लॉन्च किए, अगले तीन सप्ताह में यह आंकड़ा तीन गुना हो गया. ये आंकड़ा पीएमओ की वेबसाइट और आधिकारिक घोषणाओं से लिया गया है.

लोकसभा चुनाव की तारीखों के ऐलान से पहले पीएम मोदी ने 30 दिन के अंदर निपटाए 157 काम

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी. (फाइल तस्वीर)

नई दिल्ली:

चुनाव आयोग द्वारा लोकसभा चुनाव की तारीखों (Lok Sabha Election Date) का एलान करने से पहले पीएम मोदी (PM Modi) ने पिछले महीने पूरे देश में 28 दौरे किए, इस दौरान उन्होंने 157 प्रोजेक्ट्स लॉन्च किए हैं. यह जानकारी एनडीटीवी की पड़ताल में सामने आई है. चुनाव की तारीखों के ऐलान के बाद आचार संहिता लागू हो जाएगी और उसके बाद सरकार कोई बड़ी घोषणा नहीं कर सकती. आठ फरवरी से लेकर 9 मार्च तक पीएम मोदी ने हाईवे, रेलवे लाइन, मेडिकल कॉलेज, अस्पताल, स्कूल, गैस पाइपलाइन, एयरपोर्ट, वाटर कनेक्शन, सीवरेज कनेक्शन, पावर प्लांट सहित ढेरों प्रोजेक्ट्स लॉन्च किए. 

साल 2014 के आंकड़ें देखें तो तत्कालीन प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने अपने दूसरे कार्यकाल के खत्म होने से पहले आचार संहिता लागू होने से एक महीने पहले उन्होंने कोई भी यात्रा नहीं की थी, यह जानकारी सरकारी आंकड़ों से मिली है.

बीजेपी का फैसला: 75 साल से उपर के नेता लड़ सकेंगे चुनाव, लेकिन पार्टी या सरकार में नहीं मिलेगा कोई पद

आठ जनवरी से सात फरवरी के बीच पीएम मोदी ने करीब 57 प्रोजेक्ट्स लॉन्च किए, अगले तीन सप्ताह में यह आंकड़ा तीन गुना हो गया. ये आंकड़ा पीएमओ की वेबसाइट और आधिकारिक घोषणाओं से लिया गया है. इनमें से कुछ ऐसे प्रोजेक्ट्स भी जिन्हें पहले ही लॉन्च किया जा चुका था, लेकिन पीएम मोदी ने उन्हें रीलॉन्च किया है. 

राजनीतिक पार्टियों को निर्वाचन आयोग की सख्त हिदायत: चुनाव प्रचार में सैनिकों और सेना की तस्वीरों का इस्तेमाल न करें

उदाहरण के तौर पर इस महीने की शुरुआत में पीएम मोदी ने यूपी के अमेठी में कलाश्निकोव असाल्ट राइफल बनाने के लिए ज्वाइंट वेंचर इंडो-रशियन राइफल्स प्राइवेट लिमिटेड लॉन्च किया. लेकिन सरकार की प्रेस रिलीज के मुताबिक इस प्लांट का शिलान्यास 2007 में ही कर दिया गया था और कार्बाइन्स, राइफल्स और आईएनएसएएस मशीन गन का प्रोडेक्शन साल 2010 में ही शुरू हो गया था. 

राहुल गांधी ने नीरव मोदी को बताया PM मोदी का 'भाई', कहा- दोनों ने देश को लूटा है, दोनों को न्याय का सामना करना होगा

दूसरे उदाहरण के तौर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बिहार में 17 फरवरी को कर्मलीचक में सीवेज नेटवर्क का शिलान्यास किया. हालांकि, उन्होंने खुद अक्टूबर 2017 में उसी प्रोजेक्टस के तहत कर्मलीचक सीवेज ट्रिटमेंट प्लांट का शिलान्यास किया था. 

लॉन्च किए गए प्रोजेक्टस में करीब 140 ऐसे हैं, जो प्रधानमंत्री द्वारा उद्घाटन लायक भी नहीं थे. उदाहरण के तौर पर चेन्नई मेट्रो के एक सेक्शन के लिए पैसेंजर सर्विस का उद्घाटन, कर्नाटक में चिकजाजुर-मायाकोंडा रेलवे लाइन के दोहरीकरण, विक्रवंदी से लेकर तंजावुर तक एनएच-45सी को चार लेन में बदलने और एनएच-4 के कराईपेट्टाई–वालाजेपेट खंड को छह लेन में तब्दील करने जैसे प्रोजेक्ट्स शामिल हैं.

लोकसभा चुनाव से पहले हो सकता है पुलवामा की तरह एक और आतंकी हमला: राज ठाकरे ने जताई आशंका

प्रधानमंत्री मोदी ने कुछ तो नगर निकाय स्तर के प्रोजेक्ट्स लॉन्च किए हैं, इनमें गाजियाबाद नगर निगम के तहत गऊशाला के नवीनीकरण, 9 हजार घरों के लिए सीवेज लाइन का उद्घाटन शामिल है. 

समय की कमी के चलते पीएम मोदी ने पिछले महीने 17 प्रोजेक्ट्स दूर रहते हुए ही लॉन्च किए. उदाहरण के तौर पर उन्होंने बिहार के बक्सर में एक पावर प्लांट का उद्घाटन उन्होंने यूपी में रहते हुए वीडियो कॉन्फ्रिंस के जरिए किया था. पीएमओ और पीआईबी को भेजे गए सवालों का कोई जवाब नहीं मिला है.

VIDEO: मंत्री साहब बोले- नरेंद्र मोदी हमारे पापा, हिंदुस्तान के पापा

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

VIDEO- पीएम मोदी-राहुल गांधी में वार-पलटवार का दौर