NDTV Khabar

रवि किशन को सलमान खान की फिल्म से मिली पहचान, जानें सिनेमा से सियासत तक का सफर

भोजपुरी फिल्मों के सुपरस्टार रवि किशन राजनीति में अपनी नई पारी का आगाज कर चुके हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
रवि किशन को सलमान खान की फिल्म से मिली पहचान, जानें सिनेमा से सियासत तक का सफर

गोरखपुर सीट से बीजेपी के प्रत्याशी रवि किशन (Ravi Kishan)

नई दिल्ली:

भोजपुरी फिल्मों के सुपरस्टार रवि किशन राजनीति में अपनी पारी का आगाज कर चुके हैं, 2019 के आम चुनावों में वह बीजेपी के टिकट पर गोरखपुर से चुनाव लड़ रहे हैं. हालांकि 2014 के लोकसभा चुनावों में भी वह अपनी किस्मत आजमा चुके हैं लेकिन अपने उस फैसले को रवि किशन गलती बताते हैं. बता दें कि रवि किशन ने 2014 में जौनपुर लोकसभा सीट से चुनवा लड़ा था. राजनीति में एंट्री मारने से पहले रवि किशन भोजपुरी, हिंदी और दक्षिण भारत की फिल्मों में काफी काम कर चुके हैं. तो आइए, रवि किशन के सिनेमा से लेकर सियासत तक के सफर पर नजर डालते हैं. 

Super Dancer Chapter 3: कोलकाता की रूपसा ने जीता दर्शकों का दिल, इस बिजनेस पर्सन ने उठाया पढ़ाई-लिखाई का सारा खर्च

रवि किशन का जन्म 17 जुलाई 1969 को मुंबई के सांताक्रुज में हुआ था. रवि किशन के पिता का नाम पंडित श्याम नारायण शुक्ला और मां का नाम जदावती देवी है. रवि किशन के कुल 4 भाई बहन हैं. रवि किशन की उम्र जब 10 साल थी तो वो डेयरी व्यवसाय की वजह से उनका पूरा परिवार उत्तर प्रदेश के जौनपुर में आ गया था. रवि किशन को बचपन से ही एक्टिंग और डांसिग का शौक था. एक इंटरव्यू में रवि किशन ने बताया कि उनके पिता को इस तरह डांस करना पसंद नहीं था, इसलिए जब भी वह रवि किशन का डांस करते देखते थे तो पिटाई करते थे. वह चाहते थे कि रवि किशन पंडित बनें. लेकिन रवि ने अपना भविष्य कहीं और ही तय कर रखा था. 17 साल की उम्र में रवि किशन को उनकी मां ने 500 रुपये दिए थे, जिसको लेकर वह मुंबई आ गए थे. 


टिप्पणियां

अक्षय कुमार की नागरिकता पर इस बॉलीवुड एक्टर ने किया ट्वीट, 'खिलाड़ी' ने इस अंदाज में दिया जवाब

6 साल के लंबे संघर्ष के बाद रवि किशन को बॉलीवुड की फिल्म पीताम्बर में एक रोल मिला. इसके बाद उन्होंने कई फिल्मों में छोटे मोटे रोल किए, मुफलिसी के दिनों में बी ग्रेड फिल्मों में भी काम किया, लेकिन उनको असली पहचान साल 2006 में रिलीज हुई फिल्म तेरे नाम से मिली. तेरे नाम में रोल के बाद रवि किशन को लोग पहचानने लगे. इसके बाद साल 2006 में रवि किशन बिग बॉस के घर में दाखिल हुए और वहां से निकलने के बाद उनकी जिंदगी बदल गई. भोजपुरी फिल्मों के ऑफर्स की तो लाइन लग गई साथ ही बॉलीवुड से भी कॉल आने लगी. वहां से शुरू हुआ रवि किशन की सफलता का सफर आज तक जारी है. आज रवि किशन भोजपुरी फिल्मों के सबसे महंगे स्टार बन चुके हैं. वो एक फिल्म के एवज में 50 लाख रुपये फीस लेती है. अब देखना होगा कि सिनेमा जगत में सफलता का स्वाद चख चुके रवि किशन राजनीति की दुनिया में कहां तक जाते हैं. 
 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement