NDTV Khabar

बीजेपी घोषणापत्र के लिए देश की जनता से मांगेगी सुझाव, एक महीने में इकट्ठे होंगे दस करोड़ सुझाव

एक महीने तक चलने वाले इस अभियान में विभिन्न माध्यमों से देश की जनता से दस करोड़ सुझाव मांगने का लक्ष्य रखा गया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
बीजेपी घोषणापत्र के लिए देश की जनता से मांगेगी सुझाव, एक महीने में इकट्ठे होंगे दस करोड़ सुझाव

बीजेपी की बैठक में पीएम मोदी, अमित शाह व पार्टी के अन्‍य नेता

नई दिल्‍ली:

बीजेपी 2019 के लोकसभा चुनाव के लिए अपना घोषणा पत्र बनाने का काम रविवार से शुरू कर रही है. बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह और गृह मंत्री राजनाथ सिंह ‘भारत के मन की बात, मोदी के साथ' अभियान शुरू कर रहे हैं. एक महीने तक चलने वाले इस अभियान में विभिन्न माध्यमों से देश की जनता से दस करोड़ सुझाव मांगने का लक्ष्य रखा गया है. बीजेपी के राज्यसभा सदस्य और मीडिया प्रभारी अनिल बलूनी ने बताया कि अगले पांच साल में राष्ट्र निर्माण का एजेंडा तय करने लिए यह सहकारी प्रयास होगा. यह प्रत्येक भारतीय को भारत ढालने के अभियान में शामिल करने का प्रयास है.

अगर गठबंधन की सरकार बनी तो रविवार के दिन देश छुट्टी पर चला जाएगा : अमित शाह


बीजेपी ने 2019 के लोकसभा चुनाव के लिए अपने संकल्प पत्र को बनाने के लिए कई उपसमितियां बनाई हैं. गृह मंत्री राजनाथ सिंह को इसका ज़िम्मा सौंपा गया है. कृषि विषय पर संकल्प पत्र की उपसमिति का काम शिवराज सिंह चौहान के पास है. अर्थव्यवस्था का अरुण जेटली, महिला विषयों की ज़िम्मेदारी स्मृति ईरानी, शिक्षा व कौशल प्रकाश जावड़ेकर, राष्ट्रीय सुरक्षा उपसमिति बी सी खंडूरी के पास है. कुल 12 उपसमितियां बनाई गई हैं.

क्या बसपा ने लोकसभा चुनाव के लिए जारी कर दी है उम्मीदवारों की सूची? यह है सच्चाई

'वोट मेरा मोदी को' कैंपेन

लोकसभा चुनाव की तैयारियों में एक और कदम आगे बढ़ाते हुए भाजपा दिल्ली प्रदेश पूर्वांचल मोर्चा ने बीते 15 जनवरी को एक नया कैम्पेन शुरू किया था. दीन दयाल उपाध्याय मार्ग स्थित महामना मालवीय मिशन सभागार में आयोजित एक कार्यक्रम में यह कैम्पेन लॉन्च किया गया था.भाजपा द्वारा निर्धारित दिल्ली के पूरे 14 जिलों से आए कार्यकर्ताओं ने यहां एक सुर में 'वोट मेरा मोदी को' का संकल्प लिया था. इस कैम्पेन के अंतर्गत सभी 14 जिलों में दो-दो कार्यकर्ता चुने गए हैं. इनके नीचे 10-10 लोगों की टोली बनाई गई है. इनकी जिम्मेदारी होगी कि ये अपने-अपने जिलों में जमीनी स्तर पर कैम्पेन चलाकर लोगों को 'वोट मेरा मोदी को' कैम्पेन से जोड़े

कार्यकर्ताओं को दिया '6 सूत्रीय मंत्र'

भाजपा ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में चुनावी अखाड़े में उतरने का ऐलान करते हुए बीते 13 जनवरी को अपने कार्यकर्ताओं को जीत के लिए '6 सूत्रीय मंत्र' दिया था. कार्यकर्ताओं को पूरे दमखम के साथ मैदान में उतरने का निर्देश दिया गया था और चुनावी एजेंडे को पीएम मोदी के निर्णायक नेतृत्व, पांच साल की उपलब्धियों, मतदाताओं से सघन सम्पर्क, संगठन शक्ति के भरपूर उपयोग, विपक्ष के दुष्प्रचार का आक्रामक जवाब और संवेदनशील मुद्दों पर सुविचारित प्रतिक्रिया के इर्द गिर्द रखने को कहा था. बीजेपी की राष्ट्रीय कार्यकारी की बैठक में कार्यकर्ताओं को एक मार्गदर्शिका पुस्तिका भी दी गई थी और गया था कि ‘चुनाव में एजेंडा वह हो जो हम तय करें और इसे आक्रामकता से आगे बढ़ायें'.

अरविंद केजरीवाल बोले, कांग्रेस को वोट देने का मतलब है भाजपा को जिताना, हम दिल्ली की सातों सीट जीतेंगे

राजनाथ व अरुण जेटली को संकल्प पत्र और प्रचार की कमान

भाजपा ने लोकसभा चुनावों के लिए वरिष्ठ नेता और गृह मंत्री राजनाथ सिंह को संकल्प पत्र (घोषणापत्र) कमेटी का प्रमुख नियुक्त किया था. तो वहीं, वित्त मंत्री अरुण जेटली को प्रचार शाखा का प्रमुख बनाया गया था. दरअसल, बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने आम चुनाव की तैयारियों के लिए 17 समूहों का गठन किया है. एक बयान के मुताबिक 20 सदस्यीय संकल्प पत्र कमेटी के सदस्यों में केंद्रीय मंत्री निर्मला सीतारमण, रवि शंकर प्रसाद, पीयूष गोयल और मुख्तार अब्बास नकवी तथा मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान शामिल हैं.

लोकसभा चुनाव से पहले बीजेपी को बड़ा झटका, अब इस दल ने छोड़ा साथ

कब घोषित होंगी लोकसभा चुनाव की तारीखें

टिप्पणियां

भारतीय चुनाव आयोग के सूत्रों ने बीते दिनों बताया था कि 2019 के लोकसभा चुनाव की तारीखों की घोषणा मार्च के पहले सप्ताह में हो सकती है. चुनाव छह से सात चरणों में हो सकते हैं.उधर, पिछले कुछ दिनों से सोशल मीडिया पर चुनाव की फर्जी तारीखों की पोस्ट वायरल हो रही है. इसे संज्ञान में लेते हुए दिल्ली के मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने आईपीसी की विभिन्न धाराओं में केस दर्ज कराया है. मुख्य निर्वाचन अधिकारी कार्यालय ने फेसबुक और ट्विटर को संबंधित कंटेट के लिए भी कहा है. सोशल मीडिया पर सिर्फ चुनाव की तारीख ही नहीं, बल्कि पार्टियों के प्रत्याशियों की फर्जी सूची भी वायरल होने का मामला सामने आ चुका है.

VIDEO: फिर यूपी के दम पर मोदी सरकार- अमित शाह



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement