NDTV Khabar

JK Election Results: महबूबा ने मानी हार, कहा- मेरी नाकामियों के लिए गुस्सा कर सकते हैं लोग

JK Elections Result 2019: जम्मू-कश्मीर की 6 लोकसभा सीटों में ऊधमपुर-डोडा, जम्मू-पुंछ, लद्दाख, बारामुला, श्रीनगर और अनंतनाग शामिल हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
JK Election Results: महबूबा ने मानी हार, कहा- मेरी नाकामियों के लिए गुस्सा कर सकते हैं लोग

JK Lok Sabha Election Results 2019: जम्मू-कश्मीर में पांच चरणों में चुनाव संपन्न हुए हैं.

नई दिल्ली:

जम्मू-कश्मीर में लोकसभा चुनाव 2019 (JK Lok sabha Election Results 2019) के नतीजों में महबूबा मुफ्ती (Mehbooba Mufti) की पार्टी पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) को करारी हार मिली है. पिछली बार तीन सीटों पर काबिज रहने वाली पीडीपी (PDP) इस बार रेस से बाहर हो चुकी है. यहां की 6 सीटों में श्रीनगर और बारामूला से जम्मू कश्मीर नेशनल कॉन्फ्रेंस (JKNC) के उम्मीदवार आगे हैं, तो जम्मू, ऊधमपुर और अनंतनाग (Anantnag) में बीजेपी (BJP) के उम्मीदवार निर्णायक बढ़त बना चुके हैं. लद्दाख सीट पर निर्दलीय उम्मीदवार सज्जाद हुसैन लीड कर रहे हैं. महबूबा मुफ्ती (Mehbooba Mufti) कहीं नहीं है. ऐसे में महबूबा मुफ्ती ने ट्वीट कर अपनी हार स्वीकार कर ली है. उन्होंने लोगों का धन्यवाद करते हुए कहा ट्विटर पर लिखा, 'मैं भाग्यशाली हूं, जो मुझे अपने लोगों से प्यार और स्नेह मिला. उन्हें मेरी नाकामियों के लिए अपना गुस्सा जाहिर करने का पूरा अधिकार है. उनके फैसले को विनम्रता के साथ स्वीकार करती हूं. नेशनल कांग्रेस के विजयी उम्मीदवारों को बधाई. मैं अपने पार्टी कार्यकर्ताओं और सहयोगियों की आभारी हूं.'

यह भी पढ़ें: क्या कारण रहे जो अपना गढ़ अनंतनाग भी नहीं बचा सकीं महबूबा?


इससे पहले एक अन्य ट्वीट में महबूबा मुफ्ती ने बीजेपी और नरेंद्र मोदी को जीत के लिए बधाई दी. उन्होंने ट्विटर पर लिखा, 'ऐतिहासिक जनादेश के लिए नरेंद्र मोदी जी को शुभकामनाएं. आज का दिन निश्चित रूप से भाजपा और उसके सहयोगियों का है.' उन्होंने इसी ट्वीट में कांग्रेस को भी एक राय दी है. उन्होंने लिखा, 'कांग्रेस के लिए समय अब एक अमित शाह लाने का है.' 

टिप्पणियां

यह भी पढ़ें: महबूबा मुफ्ती का BJP पर हमला- मुझे 'देशद्रोही' कहलाने पर गर्व

बता दें 2014 चुनाव में पीडीपी ने बारामुला, श्रीनगर और अनंतनाग सीट पर जीत हासिल की थी जबकि बीजेपी ने ऊधमपुर-डोडा, जम्मू-पुंछ औऱ लद्दाख सीट जीती थीं. महबूबा मुफ्ती ने खुद अनंतनाग सीट से जीत हासिल की थी. बाद में 2016 में बीजेपी के साथ गठबंधन सरकार में मुख्यमंत्री बनने के चलते उन्होंने ये सीट छोड़ दी थी. इस बार वे ये सीट नहीं जीत सकीं, जबकि ये उनकी पारंपरिक सीट है और वे लगातार यहां से जीततीं आईं हैं. 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement