NDTV Khabar

SP-BSP गठबंधन पर आदित्यनाथ का हमला, कहा- नंदी बाबा सपा की सभाओं में पूछते हैं कसाइयों के मित्र कहां हैं?

योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने कहा कि नंदी बाबा भी सपा की सभा में पूछते हैं कि कसाइयों के मित्र कहां हैं, उन्हें ठीक कर देता हूं?

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
SP-BSP गठबंधन पर आदित्यनाथ का हमला, कहा- नंदी बाबा सपा की सभाओं में पूछते हैं कसाइयों के मित्र कहां हैं?

कन्नौज लोकसभा क्षेत्र के तिरवा में अखिलेश यादव और मायावती की जनसभा में एक सांड ने उत्पात मचाया था.

नई दिल्ली:

लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Elections 2019) के छह चरण पूरे हो चुके हैं. 7वें और अंतिम चरण से पहले सभी पार्टियां पूरे दमखम से प्रचार में जुटी हुई हैं. आखिरी चरण में कुल 59 सीटों पर मतदान होने हैं. नतीजे 23 मई को आएंगे. इन सबके बीच आरोप-प्रत्यारोप का दौर भी लगातार जारी है. इसी कड़ी में यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने सोमवार को कुशीनगर में सपा-बसपा गठबंधन (SP-BSP Alliance) पर जमकर हमला बोला. हाल ही में कन्नौज में सपा-बसपा गठबंधन की रैली में सांड घुसने की घटना का जिक्र करते हुए योगी आदित्यनाथ ने कहा कि नंदी बाबा भी सपा की सभा में पूछते हैं कि कसाइयों के मित्र कहां हैं, उन्हें ठीक कर देता हूं?

अखिलेश यादव बोले-कल रैली में सांड ज्ञापन देने घुस आया,BJP सरकार का गुस्सा सिपाही पर निकाला डाला


बता दें कि बीते 25 अप्रैल को समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव की पत्नी डिंपल के चुनाव क्षेत्र कन्नौज में एक सांड ने मुसीबत खड़ी कर दी थी. सांड ने ऐसा उत्पात मचाया कि अखिलेश यादव और मायावती का हेलीकॉप्टर नीचे नहीं उतर पाने के कारण काफी देर तक आसमान में ही मंडराता रहा. उग्र सांड ने एक व्यक्ति को घायल भी कर दिया. आखिरकार अखिलेश को यूपी के डीजीपी को फोन करके मदद मांगनी पड़ी.   

जब सांड आ धमका मैदान में, भगाने के लिए अखिलेश यादव को DGP को फोन करना पड़ा...

इस पर चुटकी लेते हुए यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सपा-बसपा पर हमला बोला. योगी आदित्यनाथ 
ने कहा कुशीनगर में एक जनसभा को संबोधित करते हुए योगी आदित्यनाथ ने कहा, 'नंदी सपा की रैलियों में जा रहे हैं और पूछ रहे हैं कि कसाइयों के दोस्त कहां है? इनको मैं ठीक कर देता हूं. मैंने नंदी बाबा से कहा कि चुनाव चल रहे हैं, चुनावी आचार संहिता लागू है. कृपया इस बार इन्हें बख्श दीजिए. आप चुनाव के बाद अपना काम जारी रख सकते हैं.' 

बता दें कि इसे लेकर यूपी के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने उस समय एक के बाद एक कर कई ट्वीट किए थे. अखिलेश यादव ने ट्वीट किया था, '21 महीनों में हमने एक्सप्रेसवे बनाया था, लेकिन पिछले 2 सालों में जनता 5 करोड़ आवारा पशुओं से परेशान हो गई है. अगर सरकार राजनीतिक कार्यक्रमों में सांड को घुसने से नहीं रोक पा रही है, तो ग़रीब किसानों का क्या हाल हो रहा होगा यह बस वही जानते होंगे.

टिप्पणियां

इसके अलावा अखिलेश ने एक और ट्वीट किया था, 'विकास' पूछ रहा है: आजकल आप देख रहे हैं कि नहीं कि किस तरह अनाथ सांडों का गुस्सा बढ़ता जा रहा है? कल रैली में एक सांड अपना ज्ञापन देने घुस आया और भाजपा सरकार का गुस्सा बेचारे सिपाही पर निकाल डाला, जब उसे बताया कि ये उनको बेघर करने वालों की रैली नहीं है, तब जाकर वो शांत हुआ.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement