NDTV Khabar

PM मोदी ने साधा कांग्रेस पर निशाना- ‘खाता न बही, जो कांग्रेस कहे, वही सही’

पीएम ने कहा कि राजनीतिक दल उस जीवंत संस्था की तरह होते हैं, जहां भिन्न-भिन्न विचारों का सम्मान होता है. लेकिन दुख की बात है कि कांग्रेस का आंतरिक लोकतंत्र में कोई विश्वास ही नहीं है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
PM मोदी ने साधा कांग्रेस पर निशाना- ‘खाता न बही, जो कांग्रेस कहे, वही सही’

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी. (फाइल तस्वीर)

खास बातें

  1. ब्लॉग लिख पीएम मोदी ने साधा कांग्रेस पर निशाना
  2. वंशवादी राजनीति को लेकर किया हमला
  3. कहा- कांग्रेस में लोकतंत्र नहीं है
नई दिल्ली:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) ने बुधवार को एक ब्लॉग लिखकर कांग्रेस (Congress) की 'वंशवादी राजनीति' पर निशाना साधा है. पीएम मोदी ने ब्लॉग (PM Blog) में लिखा है कि वंशवाद की राजनीति से सबसे अधिक नुकसान संस्थाओं को हुआ है. प्रेस से पार्लियामेंट तक, सोल्जर्स से लेकर फ्री स्पीच तक, कॉन्स्टिट्यूशन से लेकर कोर्ट तक कुछ भी नहीं छोड़ा. पीएम ने कहा कि राजनीतिक दल उस जीवंत संस्था की तरह होते हैं, जहां भिन्न-भिन्न विचारों का सम्मान होता है. लेकिन दुख की बात है कि कांग्रेस का आंतरिक लोकतंत्र में कोई विश्वास ही नहीं है. अगर कोई नेता पार्टी अध्यक्ष बनने का सपना भी देखे, तो कांग्रेस में उसे फौरन बाहर का रास्ता दिखा दिया जाता है.

इसके साथ ही पीएम मोदी ने लिखा है, 'कांग्रेस हमेशा से रक्षा क्षेत्र को कमाई के एक स्रोत के रूप में देखती आई है. यही कारण है कि हमारे सशस्त्र बलों को कभी भी कांग्रेस से वह सम्मान नहीं मिला, जिसके वे हकदार थे. 1947 के बाद से ही, कांग्रेस की हर सरकार में तरह-तरह के रक्षा घोटाले होते रहे. घोटालों की इनकी शुरुआत जीप से हुई थी, जो तोप, पनडुब्बी और हेलिकॉप्टर तक पहुंच गई. इनमें हर बिचौलिया एक खास परिवार से जुड़ा रहा है.'


24 मार्च को चुनावी अभियान का आगाज करेगी BJP, दो दिनों में 480 लोकसभा सीटों पर करेगी 500 सभाएं

पीएम ने अपने ब्लॉग में इमरजेंसी का जिक्र भी किया है. उन्होंने लिखा है, '25 जून, 1975 की शाम जब सूरज अस्त हुआ, तो इसके साथ ही भारत के लोकतांत्रिक मूल्यों की भी तिलांजलि दे दी गई. तत्कालीन प्रधानमंत्री द्वारा जल्दबाजी में दिए गए रेडियो संबोधन को सुनें तो स्पष्ट होता है कि कांग्रेस एक वंश की रक्षा करने के लिए किस हद तक जा सकती है. आपातकाल ने देश को रातों-रात जेल की कोठरी में तब्दील कर दिया. यहां तक कि कुछ बोलना भी अपराध हो गया.'

बीजेपी को बड़ा झटका, अरुणाचल प्रदेश में 2 मंत्रियों और 12 विधायकों समेत 15 नेताओं ने पार्टी छोड़ी

इकॉनमी की बात करते हुए प्रधानमंत्री ने लिखा है, 'यह हमारी सरकार की नीतियों और कामकाज का ही असर है कि बीते पांच वर्षों में, भारत दुनिया की शीर्ष अर्थव्यवस्थाओं में शामिल हो गया है. हमारी सरकार के दृढ़संकल्प का ही नतीजा है कि आज भारत ने सेनिटेशन कवरेज में अभूतपूर्व सफलता हासिल की है. 2014 में जहां स्वच्छता का दायरा महज 38% था, वो आज बढ़कर 98% हो गया है. हमारी सरकार के प्रयासों से ही हर गरीब का आज बैंक में खाता है. जरूरतमंदों को बिना बैंक गारंटी के लोन मिले हैं. भविष्य की आवश्यकताओं को देखते हुए इंफ्रास्ट्रक्चर का निर्माण किया गया है. बेघरों को घर उपलब्ध कराए गए हैं. गरीबों को मुफ्त चिकित्सा की सुविधा मिली है और युवाओं को बेहतर शिक्षा और रोजगार के अवसर मिले हैं.'

लोकसभा चुनाव 2019: कभी लोकसभा की सिर्फ दो सीटें जीतने वाली भाजपा ने अपने बल पर तोड़े थे चुनाव के कई 'रिकॉर्ड'

सबसे आखिरी में प्रधानमंत्र मोदी ने ब्लॉग में लिखा कि संस्थाओं को अपमानित करना कांग्रेस का तरीका रहा है. उनकी सोच यही है कि सब गलत हैं, और सिर्फ कांग्रेस सही है. यानि ‘खाता न बही, जो कांग्रेस कहे, वही सही'. जब भी आप वोट देने जाएं, अतीत को एक बार जरूर याद करें कि किस प्रकार एक परिवार की सत्ता की लालसा के चलते देश ने भारी कीमत चुकाई.

रवीश कुमार का ब्लॉग: पहली बार सियासी बातचीत में छाया 'चौकीदार'

टिप्पणियां

VIDEO- प्राइम टाइम: क्या कभी आपने अपने आसपास चौकीदार की सुध ली?

 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement