महागठबंधन की रैली में कन्नौज पहुंचीं मायावती तो डिंपल यादव ने पैर छूकर लिया आशीर्वाद

उत्तर प्रदेश में सपा और बसपा के बीच सियासी गठबंधन रिश्तों को भी मजबूत करता हुआ नजर आ रहा है.

महागठबंधन की रैली में कन्नौज पहुंचीं मायावती तो डिंपल यादव ने पैर छूकर लिया आशीर्वाद

कन्नौज में डिंपल यादव के लिए वोट मांगने पहुंची मायावती

नई दिल्ली:

उत्तर प्रदेश में सपा और बसपा के बीच सियासी गठबंधन रिश्तों को भी मजबूत करता हुआ नजर आ रहा है. कन्नौज में समाजवादी-बहुजन समाजवादी पार्टी और राष्ट्रीय लोकदल महागठबंधन की रैली के दौरान अखिलेश यादव की पत्नी डिंपल यादव ने मायावती के पैर छूकर उनका आशीर्वाद लिया. पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव की पत्नी डिंपल यादव कन्नौज से सांसद हैं और एक बार फिर यहां से चुनावी समर में हैं. बीएसपी सुप्रीमों मायावती यहां आयोजित रैली में उनके लिए वोट मांगने पहुंची थीं.  

जब सांड आ धमका मैदान में, भगाने के लिए अखिलेश यादव को DGP को फोन करना पड़ा...

यह पहला मौका नहीं था. इससे पहले भी 19 अप्रैल को मैनपुरी में आयोजित रैली में भी दोनों दलों के नेताओं के बीच गर्मजोशी देखने को मिली थी. वह ऐसा मौका था, जब मायावती और एसपी नेता मुलायम सिंह यादव 24 साल बाद एक साथ दिखे थे. यही नहीं इस दौरान मुलायम सिंह यादव के पौत्र और मैनपुरी से मौजूदा सांसद तेजप्रताप यादव ने भी मायावती के पैर छूकर आशीर्वाद लिया था.

यूपी के मंत्री ने मायावती पर किया हमला, बोले- 'ये सब फ्यूज्ड ट्रांसफॉर्मर हैं, अगर कोई इससे तार जोड़ेगा तो...'

वहीं, मायावती के भतीजे आकाश आनंद ने भी जब मुलायम सिंह यादव का अभिवादन किया तो उन्होंने उनके सिर पर हाथ रखकर आशीर्वाद दिया. यही नहीं मैनपुरी और कन्नौज में आयोजित रैलियों में मंच के पीछे लगा बैनर भी बीएसपी के नीले कलर का था. इससे पता चलता है कि समाजवाजी पार्टी किस तरह से बीएसपी चीफ को सीटों के बंटवारे से लेकर रैलियों के आयोजन तक में कितना सम्मान दे रही है. 

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com