NDTV Khabar

पीएम मोदी के गैर राजनीतिक इंटरव्‍यू पर शत्रुघ्‍न सिन्‍हा ने ली चुटकी, NDTV से कही यह बात...

शत्रुघ्‍न सिन्‍हा से NDTV के मनोरंजन भारती ने बात की जिसमें उन्‍होंने राहुल गांधी के नेतृत्‍व से लेकर अक्षय कुमार को दिए गए पीएम मोदी के गैर राजनीतिक इंटरव्‍यू तक, कई मुद्दों पर अपनी राय रखी.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां

खास बातें

  1. 'पीएम प्रेस कॉन्फ्रेंस क्यों नहीं करते'
  2. 'अटल जी के ज़माने में लोकशाही थी'
  3. 'फेंकू कौन पप्पू कौन पता चल जाएगा'
पटना:

लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Polls 2019) के चार दौर का मतदान संपन्‍न हो चुका है और 6 मई को होने वाले पांचवें चरण के मदतान के लिए सभी राजनीतिक दलों ने अपनी पूरी ताकत झोंक रखी है. बिहार की पटना साहिब सीट (Patna Sahib Lok Sabha Seat) बीजेपी और कांग्रेस के लिए नाक का सवाल बन चुकी है. यहां के मौजूदा सांसद शत्रुघ्न सिन्हा (Shatrughan Sinha) बीजेपी छोड़ कांग्रेस का दामन थाम चुके हैं और उन्हें चुनौती दे रहे हैं केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद जो कि पहली बार लोकसभा चुनाव लड़ रहे हैं. शत्रुघ्‍न सिन्‍हा से NDTV के मनोरंजन भारती ने बात की जिसमें उन्‍होंने राहुल गांधी के नेतृत्‍व से लेकर अक्षय कुमार को दिए गए पीएम मोदी के गैर राजनीतिक इंटरव्‍यू (PM Modi Interview) तक, कई मुद्दों पर अपनी राय रखी. जब उनसे पूछा गया कि इतने लंबे समय तक बीजेपी में रहने बावजूद क्‍या वजह रही कि उन्‍हें कांग्रेस का हाथ थामना पड़ा, तो उन्‍होंने कहा, 'ये तो जग जाहिर है कि जिस तरह से बीजेपी में मुझे दबाया गया, खास कर वन मैन शो और टू मैन आर्मी में जिस तरह से हमें दबाना शुरू किया वो सब जानते हैं. अटल जी के जमाने में बीजेपी में लोकशाही थी लेकिन बाद में तानाशाही हो गई, घमंड और अहंकार आ गया. मैं राष्‍ट्रहित में कहता था उन्‍हें अच्‍छा नहीं लगता था.'

अमित शाह ने शत्रुघ्न सिन्हा पर साधा निशाना, कहा-जैसी पार्टी होती है वैसी ही सोच होती है


जब उनसे पूछा गया कि पटना साहि‍ब को बीजेपी के लिए मजबूत सीट माना जाता है तो क्‍या वो मजबूत चुनौती में फंस गए हैं? इसके जवाब में शत्रुघ्‍न ने कहा, 'कहा जा रहा है कि पटना साहिब 2009 से अगर बीजेपी की सीट है तो 2009 से तो मैं ही हूं. रामकृपाल भी जीत चुके हैं यहां से, कम्‍यूनिस्‍ट पार्टी भी जीत चुकी है. अभी इस देश में परिवर्तन की लहर चल रही है. मोदी लहर तो मोदी कहर के रूप में बदल चुकी है. पिछले चुनाव में अरुण जेटली के लिए क्‍या नहीं हुआ. धन शक्ति से लेकर जनशक्ति तक, फिर भी वो बुरी तरह हारे.'

राहुल गांधी के नेतृत्‍व और सोशल मीडिया में उनको लेकर मजाक बनाए जाने पर शत्रुघ्‍न ने कहा, 'राहुल गांधी का मजाक बनाने वाले ये न भूलें कि ये वही राहुल गांधी हैं जिन्‍होंने अध्‍यक्ष बनने के एक साल के भीतर ही तीन राज्‍यों को जीत लिया. सोशल मीडिया को भी साबित कर दिया कि वो पप्‍पू नहीं हैं. फेंकू कौन है, पप्‍पू कौन है यह पता चल जाएगा.'

बॉलीवुड अभिनेता अक्षय कुमार द्वारा पीएम मोदी के गैर राजनीतिक इंटरव्‍यू पर चुटकी लेते हुए उन्‍होंने कहा, 'जिस अभिनेता ने पीएम का इंटरव्‍यू किया वो बहुत अच्‍छा लड़का है. वो इंटरव्‍यू गैर राजनीतिक नहीं था, बहुत सोची समझी राजनीति के तहत पूर्णत: राजनीतिक इंटरव्‍यू था. इसको लेकर उन्‍होंन NDTV के रवीश कुमार के कार्यक्रम गैर राजनीतिक प्राइम टाइम का भी जिक्र करते हुए कहा कि उन्‍होंने तो उसकी बखिया उधेड़ कर रख दी.

टिप्पणियां

उन्‍होंने पीएम पर निशाना साधते हुए कहा कि आखिर पीएम प्रेस कॉन्‍फ्रेंस क्‍यों नहीं करते. मनमोहन जी ने इतनी प्रेस कॉन्‍फ्रेंस की. सरकारी मानसिकता वाले चैनलों को इंटरव्‍यू दिया है, रागदरबारियों को इंटरव्‍यू दिया है, आप जैसे चैनल पर करें इंटरव्‍यू.' इसको लेकर उन्‍होंने एक शेर भी पढ़ा कि ...

खूब पर्दा है कि चिलमन से लगे बैठे हैं
साफ छुपते भी नहीं सामने आते भी नहीं



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement