NDTV Khabar

2014 में कांग्रेस की टिकट से चुनाव लड़ चुके रवि किशन को इस बार BJP ने गोरखपुर सीट से क्यों उतारा, जानें उन्हीं की जुबानी

साल 2014 में रवि किशन ने जौनपुर सीट से कांग्रेस के टिकट पर लोकसभा चुनाव लड़ा था. इस सीट से उन्हें केवल चार फीसदी वोट मिले थे.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
2014 में कांग्रेस की टिकट से चुनाव लड़ चुके रवि किशन को इस बार BJP ने गोरखपुर सीट से क्यों उतारा, जानें उन्हीं की जुबानी

सीएम योगी के साथ रवि किशन.

लखनऊ:

भोजपुरी सुपरस्टार रवि किशन (Ravi Kishan) और हिंदी फिल्मों के जाने-माने चेहरे रवि किशन इस बार यूपी की गोरखपुर लोकसभा सीट (Gorakhpur Lok Sabha Seat) से चुनाव लड़ रहे हैं. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi) की सीट रही गोरखपुर को भाजपा (BJP) पिछले साल उपचुनाव में हार गई थी. गोरखनाथ मंदिर के महंत योगी आदित्यनाथ दो दशक तक इस सीट से सांसद रहे हैं. उपचुनाव में भाजपा को उस वक्त तगड़ा झटका लगा था, जब समजावादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी गठबंधन के उम्मीदवार प्रवीण निषाद ने यहां से जीत हासिल की थी. 

साल 2014 के लोकसभा चुनाव में कांग्रेस की टिकट से चुनाव लड़ने वाले रवि किशन को भाजपा ने इस बार गोरखपुर से क्यों उम्मीदवार बनाया है. इस पर रवि किशन ने बताया, 'हां, मैं भी सोच रहा था कि मैं ही क्यों. 2007 से पूरे भारत में मैं भाजपा के लिए प्रचार कर रहा हूं. हो सकता है कि मैं जौनपुर का हूं, एक पुजारी का बेटा हूं और सामान्य परिवार से आता हूं. मेरा परिवार गोरखपुर से ताल्लुक रखता है. भाजपा को मेरी मेहनत का पता चल गया होगा. मैं भाग्यशाली हूं. मैं अवाक हूं.'

PM मोदी के खिलाफ योगी के मंत्री राजभर की पार्टी ने सिद्धार्थ राजभर को दिया टिकट, देखें 39 उम्मीदवारों की लिस्ट


साथ ही अभिनेता ने स्वीकार किया कि उन्हें अभी भी भरोसा नहीं हो रहा कि "उच्च कमान" ने उन पर ऐसा विश्वास दिखाया. उन्होंने कहा, 'मैं अभी पूरी तरह से खाली हूं. मैं कैसे सब का सामना करने जा रहा हूं... यह बहुत बड़ा युद्ध है. मैं अपने पीएम के बारे में सीधे बात करने जा रहा हूं.'

उपचुनाव में गोरखपुर सीट से चुनाव जीतने वाले प्रवीण निषाद ने भारतीय जनता पार्टी ज्वाइन कर ली है. ऐसे में समाजवादी पार्टी ने रामभुआल निषाद को इस सीट से उतारा हैं. इस क्षेत्र में निषाद समुदाय से ताल्लुक रखने वाले मतदाताओं की काफी तादाद है. 

BJP ने 'जूता चलाने' वाले शरद त्रिपाठी का काटा टिकट, संतकबीर नगर से ये होंगे उम्मीदवार, देखें पूरी LIST

साल 2014 में रवि किशन ने जौनपुर सीट से कांग्रेस के टिकट पर लोकसभा चुनाव लड़ा था. इस सीट से उन्हें केवल चार फीसदी वोट मिले थे. 

रवि किशन ने बताया, 'उस वक्त मोदी लहर बहुत मजबूत थी. कल्पना कीजिए इस बार सुनामी है. जौनपुर में कांग्रेस की कोई पहचान नहीं है. यह मेरा बिना सोचे-समझे हुए फैसला था. मैं शूटिंग से गया था और चुनाव लड़ा क्योंकि यह मेरे लिए किसी के लिए भावुक जुड़ाव था. मैंने उसकी कीमत चुकाई. लेकिन उस वक्त मोदी जी-मोदीजी लहर थी. मुझे लगता है कि अब वह सुनामी है.'

CM योगी की गोरखपुर सीट कब्जाने वाले प्रवीण निषाद हुए भाजपा में शामिल, पार्टी बनेगी सहयोगी

उन्होंने कांग्रेस और इसके अध्यक्ष राहुल गांधी के बारे में बात करने से मना कर दिया, उन्होंने कहा, 'मैं किसी के लिए बुरा नहीं बोलूंगा. अब सब मोदी जी के बारे में है. मुझे बहुत खेद है लेकिन मैं बहुत ईमानदार रहूंगा... मैं मोदी-जी के बारे में बात कर सकता हूं, मैं किसी और के बारे में बात नहीं करना चाहता.'

टिप्पणियां

योगी के गढ़ में उन्हीं को मात देने वाली निषाद पार्टी को BJP के साथ जाता देख सपा ने चली ये चाल

Video: प्रवीण निषाद हुए भाजपा में शामिल


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों (Election News in Hindi), LIVE अपडेट तथा इलेक्शन रिजल्ट (Election Results) के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement