NDTV Khabar

चीन ने कहा, डोकलाम गतिरोध से सबक ले भारत

बयान में वू ने कहा, 'भारत-चीन सीमा पर शांति और स्थिरता क्षेत्रीय शांति और स्थिरता के साथ ही सीमा के दोनों ओर लोगों के समान हितों के साथ भी जुड़ी हुई है.'

12 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
चीन ने कहा, डोकलाम गतिरोध से सबक ले भारत

खास बातें

  1. सोमवार को दोनों देशों ने पीछे हटने का फैसला लिया.
  2. पीएलए ने भारत को डोकलाम गतिरोध से सबक लेने के लिए कहा है.
  3. दोनों देशों के बीच 75 दिनों से चल रहा सीमा विवाद सोमवार को खत्म हो गया.
बीजिंग: भारत और चीन के बीच पिछले ढाई महीने से जारी सीमा विवाद पर सोमवार को दोनों देशों ने अपनी अपनी सेनाओं की टुकड़ियों को पीछे हटाने का फैसला लिया. चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) ने भारत को डोकलाम गतिरोध से सबक लेने के लिए कहा है. सिक्किम सेक्टर में पिछले ढाई महीने से जारी गतिरोध के बाद इस मुद्दे पर सोमवार को दोनों पक्षों ने पीछे हटने का फैसला लिया. पीएलए के वरिष्ठ कर्नल वू कियान ने एक बयान में कहा, 'चीन और भारत के बीच सैन्य गतिरोध होने के बाद चीनी सेना अपनी सतर्कता बनाए रखेगी और दृढ़ता के साथ देश की सीमाओं और संप्रभुता की रक्षा करेगी.'
 
बयान में वू ने कहा, 'भारत-चीन सीमा पर शांति और स्थिरता क्षेत्रीय शांति और स्थिरता के साथ ही सीमा के दोनों ओर लोगों के समान हितों के साथ भी जुड़ी हुई है.'

 यह भी पढे़ं : लद्दाख में भारतीय सेना ने चीनी घुसपैठ को रोका, VIDEO में देखें उसके बाद कैसे शुरू हुई पत्‍थरबाजी...

वू ने कहा, 'हम भारत को याद दिलाते हैं कि उसे इस गतिरोध से सबक लेना चाहिए और स्थापित संधियों और अंतरराष्ट्रीय कानून के बुनियादी सिद्धांतों का पालन करते हुए सीमा पर शांति और स्थिरता की रक्षा के लिए चीन के साथ काम काम चाहिए.'
 
VIDEO : देखें चीनी सैनिकों के पत्थरबाजी का वीडियो ​
भारत, भूटान और चीन के बीच तिराहे से लगे डोकलाम में दोनों देशों के बीच 75 दिनों से चल रहा सीमा विवाद सोमवार को खत्म हो गया.(इनपुट आईएएनएस से)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement