NDTV Khabar

अब सिर्फ 112 डायल करने पर होंगे सभी Emergency काम, इन 14 राज्यों में शुरू हो रहा है ये Number, जानिए क्या है खास

लोग आपातकालीन सेवाओं के लिए 112 डायल कर सकते हैं या फिर अपने स्मार्टफोन के पावर बटन को 3 बार प्रेस कर सकते हैं. इसके अलावा नॉर्मल मोबाइल में 5 या फिर 9 नंबर को लॉन्ग प्रेस करें, इससे ये इमरजेंसी नंबर (Emergency Number 112) एक्टिवेट हो जाएगा.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
अब सिर्फ 112 डायल करने पर होंगे सभी Emergency काम, इन 14 राज्यों में शुरू हो रहा है ये Number, जानिए क्या है खास

112 डायल करने पर होंगे अब सभी Emergency काम

खास बातें

  1. 112 डायल करने होंगे सभी Emergency काम
  2. 14 राज्यों में शुरू हो रहा है ये Number
  3. ये इमरजेंसी नंबर हिमाचल और नागालैंड में चालू है
नई दिल्ली:

अभी तक आप पुलिस (100), अस्पताल (108), वुमन हेल्पलाइन नंबर (1090) और फायर स्टेशन (101) जैसे जरूरी नंबरों को अलग-अलग सेव किया करते थे. ताकि किसी भी आपातकालीन स्थिति में तुंरत सहायता मिल सके. लेकिन अब आपको इन नंबरों से फोन और डायरी भरने की जरुरत नहीं, क्योंकि अब ये सारी सुविधाएं आपको 112 नबंर डायल करने से मिल जाएंगी.

जी हां, 112 नंबर डायल करने पर ये सभी सर्विसेस आपको 19 फरवरी से उपलब्ध कराई जाएंगी. इस सिंगल इमरजेंसी नंबर (Emergency Number) की सेवा उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, पंजाब, राजस्थान, मध्य प्रदेश, तमिलनाडु, केरल, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना और केंद्र शासित प्रदेशों में मिलेंगी. फिलहाल ये इमरजेंसी नंबर हिमाचल और नागालैंड में चालू है. 

Pulwama Attack के बाद मुंबई पुलिस ने की मॉक ड्रिल, तो पब्लिक भी हो गई कन्फ्यूज, VIDEO VIRAL


गृह मंत्रालय के अनुसार, "लोग आपातकालीन सेवाओं के लिए 112 डायल कर सकते हैं या फिर अपने स्मार्टफोन के पावर बटन को 3 बार प्रेस कर सकते हैं. इसके अलावा नॉर्मल मोबाइल में 5 या फिर 9 नंबर को लॉन्ग प्रेस करें, इससे ये इमरजेंसी नंबर एक्टिवेट हो जाएगा."

Pulwama Attack: गर्भवती पत्नी ने फूट-फूटकर रोते हुए सुनाए शहीद पति के आखिरी शब्द, कहा था- 'श्रीनगर पहुंचकर कॉल करता हूं...'

वहीं, नंबर के साथ-साथ '112' नाम से गूगल प्लेस्टोर (Google Play Store) और एप्पल स्टोर (Apple Store) पर फ्री में ऐप भी मौजूद है. इसे स्मार्टफोन से डाउनलोड कर सेवा का लाभ उठाया जा सकता है. इस ऐप में महिलाओं और बच्चों को फटाफट मदद पहुंचाने के लिए "SHOUT" नाम से फीचर मौजूद होगा, जिससे एरिया के आस-पास वाले रजिस्टर्ड स्वयंसेवकों को मदद के लिए तुंरत भेजा जाएगा. 

आपको बता दें, US में इस तरह सर्विस '911' पर मिलती है. इस एक नंबर को डायल करने पर सभी इमरजेंसी सुविधाएं तुंरत मुहैया कराई जाती हैं. 

टिप्पणियां

VIDEO: आपातकाल के 40 साल : ...जब कराह उठा था लोकतंत्र



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... निर्भया की मां का इंदिरा जयसिंह पर हमला, बोलीं- ये मानव अधिकारों के नाम पर बिजनेस चलाते हैं और...

Advertisement