NDTV Khabar

चौकीदार बनने पर मजबूर हुआ ये एक्टर, अनुराग कश्यप बोले- 'भीख मांगने से तो अच्छा है कि...'

बॉलीवुड एक्टर सावी सिद्धू (Savi Siddhu) पैसों की तंगी के चलते मलाड में चौकीदार (Chaukidar) के रूप में काम कर रहे हैं. सावी (Savi Siddhu) ने अपने संघर्ष के दिनों के बारे में बताया, जिसके बाद वो चर्चा में आ गए हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
चौकीदार बनने पर मजबूर हुआ ये एक्टर, अनुराग कश्यप बोले- 'भीख मांगने से तो अच्छा है कि...'

चौकीदार बनने पर मजबूर हुआ ये एक्टर.

बॉलीवुड एक्टर सावी सिद्धू (Savi Sidhu) पैसों की तंगी के चलते मलाड में चौकीदार (Chaukidar) के रूप में काम कर रहे हैं. फिल्म कंपेनियन द्वारा यूट्यूब पर शेयर किए गए एक वीडियो में सावी (Savi Sidhu) ने अपने संघर्ष के दिनों के बारे में बताया, जिसके बाद वो चर्चा में आ गए हैं.  'ब्लैक फ्राईडे', 'गुलाल' और 'पटियाला हाउस' जैसी फिल्मों में नजर आ चुके सावी सिद्धू (Savi Sidhu) यहां मलाड में एक चौकीदार (सुरक्षा गार्ड) के रूप में काम कर रहे हैं. उन्होंने कहा, 'मेरे जीवन का सबसे कठिन दौर वह था जब मेरी पत्नी की मौत हो गई. उसके बाद मेरे पिता की भी मौत हो गई और फिर मेरी मां और बाद में सास-ससुर भी चल बसे. मैं अकेला रह गया, मैं बिल्कुल अकेला हूं.'

अक्षय कुमार के साथ किया था काम, हालात से मजबूर होकर बनना पड़ा चौकीदार


उनकी ये कहानी सुनकर फिल्म डायरेक्टर अनुराग कश्यप (Anurag Kashyap) और एक्टर राजकुमार राव (Rajkummar Rao) सपोर्ट में आ गए हैं. राजकुमार राव (Rajkummar Rao) ने उनकी मदद करने का भरोसा दिया है. वहीं अनुराग कश्यप (Anurag Kashyap) ने कहा- 'मुझे सावी पर गर्व है. इंडस्ट्री में कई लेखक और अन्यों के पास काम नहीं होता तो वो उधार मांगते हैं. कई फिल्ममेकर्स तो खाने के लिए पैसे मांगते हैं. सावी सिद्धू चौकीदार के रूप में काम कर रहे हैं. मुझे ये काम छोटा या बड़ा नहीं लगता. लेकिन भीख मांगने से तो अच्छा ही है. मुझे लगता है कि चैरिटी करके आर्टिस्ट को आर्टिस्ट नहीं बनाया जा सकता है.'

‘मेड इन हेवन' से फिर धमाल मचाने आ रहीं कल्कि कोचलीन, खुद के बारे में कही ये बात

 

टिप्पणियां

 

अभिनेता ने सुरक्षा गार्ड की नौकरी करने के बारे में कहा, 'यह 12 घंटे की एक कठिन नौकरी है. यह एक मशीनी काम है. मेरे पास बस का टिकट खरीदने के लिए भी पैसे नहीं हैं. अब थिएटर में फिल्म देखना तो एक सपने जैसा है. मेरी माली हालत ठीक नहीं है.' सुरक्षा गार्ड की नौकरी करने और आर्थिक तंगी के बावजूद उन्हें उम्मीद है कि जल्द ही फिल्मों में काम मिलने लगेगा और उनका अच्छा बैंक बैलेंस होगा. उन्होंने कहा, 'मुझे उम्मीद है कि वे (निर्माता और निर्देशक) मुझे मौका देंगे. मुझे पता है कि वे ना नहीं कहेंगे. मुझे हमेशा उनसे सकारात्मक जवाब मिला है. वे मेरा इंतजार कर रहे हैं. मैं आ रहा हूं."



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement