NDTV Khabar

भारतीय नौसेना ने बताया कितना ताकतवर है 'Cyclone Fani', दिखाईं ये 3 तस्वीरें

Cyclone Fani: भारी बारिश और 175 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार की प्रचंड हवाओं के साथ चक्रवाती तूफान 'फानी' (Cyclone Fani) ने शुक्रवार को सुबह ओडिशा (Fani Cyclone In Odisha) तट पर दस्तक दी.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
भारतीय नौसेना ने बताया कितना ताकतवर है 'Cyclone Fani', दिखाईं ये 3 तस्वीरें

भारतीय नौसेना ने बताया कितना ताकतवर है 'Cyclone Fani'

Cyclone Fani: भारी बारिश और 175 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार की प्रचंड हवाओं के साथ चक्रवाती तूफान 'फानी' (Cyclone Fani) ने शुक्रवार को सुबह ओडिशा (Fani Cyclone In Odisha) तट पर दस्तक दी. अधिकारियों ने बताया कि बुधवार तक यह तूफान 'बेहद खतरनाक चक्रवात' का रूप ले सकता है. सरकार ने राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ) और भारतीय तटरक्षक बल को हाई अलर्ट पर रखा है. 1999 के बाद इस तूफान को सबसे खतरनाक बताया जा रहा है. तूफान आने के बाद भारतीय नौसेना ने तीन फोटो जारी की हैं. जिसके जरिए उन्होंने बताया है कि ये तूफान कितना ताकतवर है. 


भारतीय नौसेना की तरफ से तीन फोटो शेयर की गई हैं. जिसमें पहली तस्वीर में जहाज के पिछली भाग में पानी भरा चुका है. वहीं बाकी दो फोटो में बताया गया है कि तूफान फानी की वजह से जहाज 45 डिग्री तक घूम गया. जिसकी तस्वीर उन्होंने शेयर की है. उन्होंने बताया कि ये तूफान इतना तीव्र है कि पानी जहाज के अंदर आने लगा है. बता दें, चक्रवात 'फानी' अगले 12 घंटे में 'भीषण चक्रवाती तूफान' तथा अगले 24 घंटे में 'बेहद भीषण चक्रवाती तू्फान' में तब्दील हो सकता है.  अधिकारियों ने बताया कि ओडिशा में चक्रवाती तूफान फानी से तीन लोगों की मौत हो चुकी है. 

Cyclone Fani का शॉकिंग Video हुआ वायरल, हरभजन सिंह ने कहा- 'सभी के लिए प्रार्थना कर रहा हूं...'

तूफान के कारण कई पेड़ उखड़ गए और झोपड़ियां तबाह हो गई. साथ ही मंदिर शहर पुरी के कई इलाके जलमग्न हो गए. अत्यधिक प्रचंड चक्रवाती तूफान फोनी सुबह करीब आठ बजे पुरी पहुंचा. हालांकि पूर्व चेतावनी के कारण कम से कम 11 तटीय जिलों के निचले एवं संवेदनशील इलाकों से करीब 11 लाख लोगों को बृहस्पतिवार तक हटा लिया गया. 

Cyclone Fani In Odisha: इमरजेंसी हेल्पलाइन नंबर जारी, यहां कॉल कर मांग सकते हैं मदद

फोनी को सबसे खतरनाक चक्रवाती तूफान कहा जा रहा है. साल 1999 के सुपर चक्रवात में 10,000 लोगों की जान चली गई थी और उसने ओडिशा में जमकर तबाही मचाई थी. ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने चक्रवात के दौरान लोगों से घरों में रहने की अपील की है और कहा कि लोगों की सुरक्षा के लिए सभी प्रबंध कर लिए गए हैं. 11 तटीय जिलों में सभी दुकानें, व्यावसायिक प्रतिष्ठान, निजी और सरकारी कार्यालय एहतियाती तौर पर बंद रहेंगे.

देखें VIDEO: 

टिप्पणियां



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement