उत्पीड़न की वजह से जॉब छोड़ चुके हैं गूगल के कर्मचारी, इससे बचने के लिए कंपनी ने किया ऐसा

कार्यस्थल पर उत्पीड़न को लेकर आलोचना और कैंपस वाकआउट की मार झेल रहे गूगल ने कर्मचारियों को एक वेबसाइट समर्पित किया है. इस पर वे उत्पीड़न की शिकायत आसानी से कर सकते हैं.

उत्पीड़न की वजह से जॉब छोड़ चुके हैं गूगल के कर्मचारी, इससे बचने के लिए कंपनी ने किया ऐसा

कार्यस्थल पर उत्पीड़न को लेकर आलोचना और कैंपस वाकआउट की मार झेल रहे गूगल ने कर्मचारियों को एक वेबसाइट समर्पित किया है. इस पर वे उत्पीड़न की शिकायत आसानी से कर सकते हैं. डाइवर्सिटी, इक्वीटि एंड इंक्ल्यूजन की ग्लोबल डायरेक्टर मिलोनी पार्कर ने गुरुवार को अपने ब्लॉग पर पोस्ट कर बताया, 'कई चैनलों को मिलाकर हमने सरल और स्पष्ट साइट तैयार किया है, जिससे कर्मचारी अपनी समस्याओं को आसानी से बता सकते हैं.'

दिल्ली वाली गर्लफ्रेंड से शादी करना चाहता था लड़का, कहीं और शादी पक्की हुई तो करवा लिया खुद को Kidnap

गूगल ने कहा कि वे अस्थाई और विक्रेता कार्यबल के लिए भी एक ऐसी ही साइट पर काम कर रहा है, जो जून तक पूरा हो जाएगा. बीते नवंबर में दुनियाभर के करीब 20 हजार गूगल कर्मचारियों ने कार्यस्थल पर उत्पीड़न की वजह से इस्तीफा दे दिया था.

16 साल की उम्र में जबरदस्ती करवा रहे थे शादी, घर से भागकर लड़की ने 12वीं में हासिल किए 90% मार्क्स

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

इसके बाद गूगल के सीईओ सुंदर पिचाई ने यह घोषणा की थी कि, कंपनी यौन उत्पीड़न और हिंसा में मध्यस्थता को समाप्त कर देगी, जिससे की कर्मचारी मामले को अदालत में ले जा सकेंगे. गूगल ने कहा कि, कर्मचारियों से संबंधित पांचवें वार्षिक सारांश में दुराचार, भेदभाव, उत्पीड़न और प्रतिशोध संबंधित जांच रिपोर्ट को प्रकाशित (आंतरिक तौर पर) किया गया था. वहीं पार्कर ने कहा, "हम चाहते हैं कि हर एक गूगलर अपने कार्यस्थल पर प्रतिष्ठा और सम्मान के साथ काम करें."

(इनपुट-आईएएनएस)