NDTV Khabar

पेंटर अचानक बना करोड़पति, बस स्टैंड से खरीदी लॉटरी टिकट, जीतते ही बोला- 'दुख भरे दिन बीत गए अब...'

हिमाचल प्रदेश के उना जिले के एक गांव चुरूरू के पेंटर संजीव कुमार के जीवन में पंजाब की लाटरी, पंजाब राज्य मां लक्ष्मी दिवाली पूजा बंपर 2019, ने खुशियां भर दी हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
पेंटर अचानक बना करोड़पति, बस स्टैंड से खरीदी लॉटरी टिकट, जीतते ही बोला- 'दुख भरे दिन बीत गए अब...'

पेंटर अचानक बना करोड़पति, बस स्टैंड से खरीदी लॉटरी टिकट

हिमाचल प्रदेश के उना जिले के एक गांव चुरूरू के पेंटर संजीव कुमार के जीवन में पंजाब की लाटरी, पंजाब राज्य मां लक्ष्मी दिवाली पूजा बंपर 2019, ने खुशियां भर दी हैं. कुमार की ढाई करोड़ रुपये की लॉटरी लगी है. एक लड़के और एक लड़की के पिता कुमार ने कहा कि वह पेंटर, प्लम्बर और इलेक्ट्रिशयन के रूप में काम करता है.

ये भी पढ़ें: TikTok पर वायरल हो रहा है सिंगल लड़कों के लिए 'मेरे बाबू ने खाना खाया' नाम का ये कैफे

उसने बताया कि वह चंडीगढ़ के पीजीआईएमईआर से जब लौट रहा था तब उसने नांगल बस स्टैंड के समीप एक लॉटरी स्टॉल से 1000 रूपये के दो टिकट खरीदे थे. उनमें से एक में जैकपॉट लग गया. वह तब अपने बेटे के मेडिकल चेक अप के लिए पीजीआईएमईआर गया था. 

ये भी पढ़ें: लड़की को रेस्टोरेंट के वॉशरूम में दिखा कैमरा, शिकायत की तो जबरन हटाया Zomato से रिव्यू और रिश्वत...


कुमार की ओर से रविवार को यहां जारी एक आधिकारिक बयान में कहा गया कि उसे आशा है कि लॉटरी की यह रकम उसकी जिंदगी में वित्तीय समस्याएं दूर कर उजियारा लाएगी. अपनी भावी योजना की चर्चा करते हुए उसने कहा कि वह यह पैसा अपने बच्चों की पढ़ाई पर खर्च करेगा.

टिप्पणियां

ये भी पढ़ें: रेलवे ने की 'यमराज' की भर्ती, जो पार करता है पटरी... उसको ले जाता है उठाकर- देखें VIDEO

कुमार घर में आजीविका कमाने वाले एकमात्र सदस्य हैं. उसने पुरस्कार की इस राशि पर दावे के लिए पंजाब सरकार के राज्य लॉटरी विभाग में दस्तावेज सौंपे हैं. विभाग ने यथाशीघ्र यह राशि जारी करने का आश्वासन दिया है. इस लॉटरी लुधियाना में एक नवंबर को निकली थी.



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement