महंगे हैंडबैग की वजह से तुर्की की प्रथम महिला हुईं आलोचनाओं की शिकार, देश पर है गहरा मुद्रा संकट

तुर्की की प्रथम महिला एमिनी एर्दोगन शाही खर्चे को लेकर निंदा की शिकार हो गईं. एमिनी को एक महंगे हैंडबैग के साथ देखा गया

महंगे हैंडबैग की वजह से तुर्की की प्रथम महिला हुईं आलोचनाओं की शिकार, देश पर है गहरा मुद्रा संकट

तुर्की की प्रथम महिला के हैंड बैग की चारों तरफ हो रही है चर्चा

अंकारा, तुर्की:

तुर्की की प्रथम महिला एमिनी एर्दोगन शाही खर्चे को लेकर निंदा की शिकार हो गईं. एमिनी को एक महंगे हैंडबैग के साथ देखा गया, जिसकी कीमत 50 हजार डॉलर यानी की करीब 35 लाख रुपये आंकी गई है.एमिनी, तुर्की के राष्ट्रपति रेसेप एर्दोगन के साथ जापाना यात्रा पर थीं. इसी दौरान एक तस्वीर में उनके हाथ में यह खास बैग देखा गया. जिसके बाद वो चर्चाओं में आ गईं. सबसे पहले उनके बैग पर नजर एक सोशल मीडिया यूजर की पड़ी. इस यूजर ने ही अपने अकाउंट के जरिए जानकारी दी कि एमिनी के बैग की कीमत 50 हजार डॉलर है. 

धोनी को रिटायर होने की जो सलाह दी जा रही है, वह कितनी जायज़ है?

सोशल मीडिया पर महंगे बैग की खबरे फैलते ही लोगों की नाराजगी सामने आने लगी. एक यूजर ने सोशल मीडिया पर लिखा देश के 11 लोगों की साल भर की न्यूनतम आय के बराबर की कीमत का हैंडबैग ले कर वह घूम रही हैं. यह हाल तब है, जब देश मुद्रा संकट का सामना कर रहा है. 

इजराइल की शराब कंपनी ने बोतलों पर छापी 'बापू' की तस्वीर, अब मांगनी पड़ी मांफी

Newsbeep

यह पहला मौका नहीं है जब राष्ट्रपति या उनकी पत्नी पर आलीशान जीवन शैली के लिए आरोप लगे हों. इससे पहले भी एर्दोगन दंपत्ति अपने लाइफस्टाल के लिए आलोचनाओं का सामना कर चुके हैं. उनके आलोचकों का कहना है कि राष्ट्रपति अपने विनम्र स्वभाव के विपरित व्यवहार कर रहे हैं. लोगों का कहना है कि एक तरफ देश भयंकर आर्थिक आपदा से गुजर रहा है तो वहीं दूसरी तरफ राष्ट्रपति और उनकी पत्नी लग्जरी लाइफ से समझौता नहीं कर पा रहे हैं. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


Video: गिरते रुपया का आम आदमी पर क्या होगा असर?