NDTV Khabar

अपने एम्प्लॉय के शरीर में चिप लगाएगी यह कंपनी

चिप से वेंडिंग मशीन पर भुगतान भी कर सकेंगे: 300 डॉलर (19 हजार रुपए) से अधिक कीमत की इस चिप को लगाने में महज कुछ सेकंड का वक्त लगता है.

2 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
अपने एम्प्लॉय के शरीर में चिप लगाएगी यह कंपनी

अमेरिकी कंपनी अपने कर्मचारियों के शरीर में लगाएगा चिप. तस्वीर: प्रतीकात्मक

खास बातें

  1. ऑफिस के कई कामों में मददगार साबित होगी
  2. अमेरिका की यह पहली कंपनी होगी
  3. इसका आकार चावल के एक दाने जितना होगा
नई दिल्ली: तकनीक कमरे और जेब से होते हुए अब शरीर के अंदर भी जगह बनाने की तैयारी में है. अमेरिका की वेंडिंग मशीन कंपनी थ्री स्क्वायर मार्केट अपने कर्मचारियों के शरीर में एक खास चिप लगाने वाली है. न्यूज एजेंसी एएफपी के मुताबिक यह चिप आइडेंटिटी कार्ड की तरह काम करेगी और कर्मचारियों के लिए ऑफिस के कई कामों में मददगार साबित होगी. अमेरिका की यह पहली कंपनी होगी, जो कर्मचारियों को चिप लगाएगी. विस्कॉनसिन स्थित इस कंपनी के मुताबिक, चिप अगले महीने से लगाई जाएंगी. इसका आकार चावल के एक दाने जितना होगा. इसे कर्मचारी के अंगूठे और अंगुली के बीच त्वचा के नीचे लगाया जाएगा. 

ये भी पढ़ें: ....जब पोटेटो चिप केन से निकला किंग कोबरा

चिप से वेंडिंग मशीन पर भुगतान भी कर सकेंगे: 300 डॉलर (19 हजार रुपए) से अधिक कीमत की इस चिप को लगाने में महज कुछ सेकंड का वक्त लगता है. कंपनी के सीईओ टोड वेस्टबाय ने कहा, 'रेडियो फ्रीक्वेंसी पहचान (आरएफआईडी) आधारित इस चिप से कई कार्यों को अंजाम दिया जा सकेगा. इसकी मदद से कर्मचारी ब्रेकरूम मार्केट में खरीदारी करने से लेकर कार्यालय में आते समय दरवाजे पर पंचिंग भी कर सकेंगे. इसकी मदद से महज हाथ हिलाकर कॉपी मशीन का इस्तेमाल, कंप्यूटर में लॉग इन करना, फोन अनलॉक करना, कई तरह की जानकारियां सहेजना और कंपनी की वेंडिंग मशीन पर भुगतान भी कर सकेंगे.' 

ये भी पढ़ें: ब्‍लॉक हो सकता है आपका डेबिट कार्ड

चिप लगने के बाद हाथ में होगा हल्का दर्द: कंपनी के मुख्यालय पर एक अगस्त को 'चिप पार्टी' की जाएगी, उसी दौरान इच्छुक कर्मचारियों को चिप लगाई जाएगी. कंपनी का कहना है कि इस चिप को लगाते वक्त सिर्फ उतना ही दर्द होगा जितना कोई चोट लगने पर ब्लड निकालने समय होता है. चिप लगने के बाद कुछ दिन तक उस स्थान पर हाथ लगाने पर हल्का दर्द होगा. कंपनी का अनुमान है कि उसके 85 में से 50 कर्मचारी स्वैच्छिक रूप से इसके लिए तैयार हैं. जो कर्मचारी चिप अपने शरीर में नहीं लगवाना चाहेंगे, उन्हें चिप लगे रिस्ट बैंड या अंगूठी का विकल्प भी दिया जाएगा.

वीडियो: चिप से पेट्रोल पंपों में चोरी


इसकी मदद से कर्मचारियों को ट्रैक नहीं किया जाएगा. इसमें कोई जीपीएस सिस्टम नहीं लगा है. इसे हैक भी नहीं किया जा सकता. वेस्टबाय ने कहा कि धीरे-धीरे यह तकनीक कर्मचारियों के लिए पासपोर्ट तक का भी काम कर सकेगी. थ्री स्क्वायर मार्केट ने स्वीडन की कंपनी बायोहेक्स के साथ मिलकर इस चिप को तैयार किया है. 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement