NDTV Khabar

क्या है YETI? लोग कहते हैं इसे 'घिनौना Snowman', जानिए इतिहास और इसके बारे में

Yeti: भारतीय सेना ने 'येति' (YETI) के रहस्यमय पैरों के निशान (Yeti Footprints) को देखा है. येति (Abominable Snowman) एक वानर जैसा प्राणी है, जो औसत मानव से बहुत अधिक लंबा और बड़ा है. यह मोटे फर में ढका हुआ होता है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
क्या है YETI? लोग कहते हैं इसे 'घिनौना Snowman', जानिए इतिहास और इसके बारे में

क्या है YETI? लोग कहते हैं इसे 'घिनौना Snowman'

Yeti: भारतीय सेना ने दावा किया है कि एक अभियान दल ने हिमालय के मकालू बेस कैंप (Makalu Base Camp) के पास मायावी हिममानव 'येति' (YETI) के रहस्यमय पैरों के निशान (Yeti Footprints) को देखा है. सेना के अतिरिक्त सूचना महानिदेशालय ने सोमवार को ट्वीट किया, "पहली बार, भारतीय सेना (Indian Army) के पर्वतारोहण अभियान दल ने मकालू बेस कैंप (Makalu Base Camp) के करीब हिममानव 'येति' (Yeti) के रहस्यमयी पैरों के निशान देखे हैं." इसने कहा, "इस मायावी हिममानव (Him Manav Yeti) को इससे पहले सिर्फ मकालू-बरुन नेशनल पार्क (Makalu Barun National Park) में देखा गया है." मकालू-बरुन राष्ट्रीय उद्यान नेपाल (Nepal) के लिंबुवान हिमालय क्षेत्र में स्थित है. यह दुनिया का एकमात्र संरक्षित क्षेत्र है जिसमें 26,000 फुट से अधिक उष्णकटिबंधीय वन के साथ-साथ बर्फ से ढकी चोटियां हैं. 

सेना को हिमालय पर मिले 'हिम मानव' के पदचिन्ह, तो बॉलीवुड एक्ट्रेस ने पोस्ट कर डाला येति का हैरतअंगेज Video

qmig9ek

क्या है येति? (What Is Yeti?)
येति (Abominable Snowman) एक वानर जैसा प्राणी है, जो औसत मानव से बहुत अधिक लंबा और बड़ा है. यह मोटे फर में ढका हुआ होता है और माना जाता है कि यह हिमालय, साइबेरिया, मध्य और पूर्वी एशिया में रहता है. इस प्राणी को आमतौर पर एक किंवदंती के रूप में माना जाता है क्योंकि इसके अस्तित्व का कोई ठोस सबूत नहीं है. येति को लोग घिनौना स्नोमैन भी कहा जाता है. 

भारतीय सेना ने देखे 32x15 इंच वाले रहस्यमयी पंजे! क्या दुनिया में मौजूद है हिममानव

येति के बारे में खास बातें
ऐसा माना जाता है येति पहाड़ी इलाकों में रहता है, जहां इंसान का पहुचना मुश्किल होता है. ये अधिकतर बरफीली जगह पर रहते हैं. अपने बचाव के लिए ये हाथ में पत्थर का औजार रखते हैं और इनकी आवाज भी बड़ी अजीब रहती है. 

कई किस्सों में बताया गया है कि इसे 1920 में हिमालय के पास नेपाल में सबसे पहले देखा गया था. कई लोगों ने येति की खोज करने की कोशिश की. लेकिन वो कामयाब नहीं हो सके. कई सालों से येति को देखे जाने की कहानी सुनी जा चुकी है. लेकिन इसकी कोई तस्वीर अभी तक सामने नहीं आई है. फुटप्रिंट्स और बालों से ही इसका अंदाजा लगाया गया है. 

e979084
टिप्पणियां

येति के हैं कई नाम
हिमाचल की तरफ रहने वाले लोग इस येति या मेह-तेह बुलाते हैं. तिब्बत में इसे 'मिचे' कहा जाता है. जिसका मतलब होता है 'इंसानी भालु'. येति को मिगोई, बन मांची, मिरका और कांग आदमी भी कहा जाता है. 

येति को लेकर वैज्ञानिक अध्ययन
2017 में वैज्ञानिकों ने हिमाचल से येति को कुछ सेंपल कलेक्ट किए थे. लेकिन आखिर में पाया गया था कि ये येति नहीं बल्कि भालु है. 2008 में अमेरिका के दो शख्स ने दावा किया था कि उन्होंने आधे इंसान-आंधे बंदर जैसे शख्स को देखा है. लेकिन बाद में वो रबर का गोर्रिला सूट निकला. 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement