NDTV Khabar

पीएम मोदी का सोनिया-राहुल पर हमला- जो मां-बेटे रुपयों की हेरा-फेरी पर जमानत पर है वो मुझसे नोटबंदी के फायदे पूछ रहे हैं

मोदी ने कहा, "वे किस प्रकार की योजनाएं थीं, जिससे रुपया पैसे में तब्दील हो गया था? नोटबंदी ने उस पैसे को बाहर निकाला."

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
पीएम मोदी का सोनिया-राहुल पर हमला- जो मां-बेटे रुपयों की हेरा-फेरी पर जमानत पर है वो मुझसे नोटबंदी के फायदे पूछ रहे हैं

पीएम मोदी ने छत्तीसगढ़ के बिलासपुर में रैली की है.

खास बातें

  1. पीएम मोदी का सोनिया और राहुल गांधी पर बड़ा हमला
  2. ' मां-बेटे जमानत पर हैं मुझे प्रमाणपत्र दे रहे हैं'
  3. 'नोटबंदी के चलते ही आपकी कंपनी पकड़ी गई है'
बिलासपुर:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को नोटबंदी पर उनसे सवाल पूछने को लेकर राहुल गांधी पर निशाना साधा और कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष और उनकी मां सोनिया गांधी खुद जमानत पर हैं लेकिन दूसरों को ईमानदारी का प्रमाणपत्र बांट रहे हैं. मोदी ने एक चुनावी जनसभा में कहा, "जो मां-बेटे रुपयों की हेरा-फेरी पर जमानत पर हैं, वो मुझे प्रमाणपत्र दे रहे हैं और मुझसे नोटबंदी के फायदे के बारे में पूछ रहे हैं." उन्होंने कहा, "जो जमानत पर हैं, वे ईमानदारी के प्रमाणपत्र बांट रहे हैं." नेशनल हेराल्ड मामले में सोनिया और राहुल को जमानत मिली हुई है. राहुल गांधी ने नोटबंदी के फायदों को लेकर मोदी से सवाल किया था और प्रधानमंत्री पर मुद्दे को लेकर चुप रहने का आरोप लगाया था. 

छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव 2018 : पहले दौर की वोटिंग जारी, CM सहित कई दिग्गज मैदान में


कांग्रेस अध्यक्ष और संप्रग अध्यक्ष पर निशाना साधते हुए मोदी ने कहा, "नोटबंदी के कारण ही तीन लाख फर्जी कंपनियां बंद हो गईं. यह नोटबंदी का ही नतीजा था कि आपकी कंपनी (नेशनल हेराल्ड) पकड़ी गई और आपको जमानत मांगनी पड़ी." नोटबंदी के फायदे गिनाते हुए प्रधानमंत्री ने कहा, "लोग मुझसे पूछते हैं कि मैंने इतनी सड़कें कैसे बनाईं, घरों तक बिजली कैसे पहुंचाई और रेलवे की बुनियादी सुविधाओं को बेहतर कैसे बनाया. मैं उन्हें बताता हूं कि नोटबंदी से पहले पैसा बिस्तरों और अल्मारियों में छिपा दिया जाता था। लेकिन, नोटबंदी के बाद सारा पैसा बाहर आ गया और उस पैसे से विकास की सभी परियोजनाएं चल रही हैं."

छत्तीसगढ़ के बिलासपुर में बोले पीएम मोदी- उन्होंने बंटवारा चुना, हमने विकास

कांग्रेस अध्यक्ष पर निशाना साधते हुए मोदी ने कहा कि शनिवार को कांग्रेस द्वारा जारी किए गए घोषणापत्र में राज्य के लिए 36 बिंदु हैं. लेकिन जब घोषणापत्र जारी किया जा रहा था, तो नेताओं ने अपने नेता का नाम 150 बार लिया। यह पत्रकारों द्वारा नोट किया गया. मोदी ने कहा, "कांग्रेस की पूरी राजनीति एक परिवार से शुरू होती है और उसी परिवार पर जाकर खत्म होती है. जबकि हमारी (भाजपा) राजनीति गरीब व्यक्ति की झोपड़ी से शुरू होती है. बिना गरीब की जिंदगी बदले, हम नहीं सोएंगे." उन्होंने आरोप लगाया, "कांग्रेस के लिए छत्तीसगढ़ का कल्याण प्राथमिकता नहीं है. उनकी प्राथमिकता एक परिवार की सेवा है." भ्रष्टाचार को लेकर कांग्रेस पर हमला बोलते हुए मोदी ने कहा, "उनकी तीसरी पीढ़ी के प्रधानमंत्री (दिवंगत राजीव गांधी) ने कहा था कि देश में गरीब को केंद्र से भेजे गए एक रुपये में से 15 पैसे मिलते हैं."

छत्तीसगढ़ में चुनाव प्रभावित करने के लिए माओवादियों ने कैसे बिछाया है 'मौत का जाल', देखें- VIDEO

मोदी ने कहा, "वे किस प्रकार की योजनाएं थीं, जिससे रुपया पैसे में तब्दील हो गया था? नोटबंदी ने उस पैसे को बाहर निकाला." मोदी ने कहा कि लोगों को भ्रष्टाचारियों से ज्यादा उम्मीदें नहीं होतीं लेकिन जो भ्रष्ट नहीं है उनसे विकास की उम्मीद होती है.  राज्य में भाजपा सरकार के कार्यो को रेखांकित करते हुए मोदी ने कहा कि डेढ़ लाख लोगों को प्रधानमंत्री आवाज योजना का फायदा हुआ है जबकि आयुष्मान भारत योजना से 42 लाख से ज्यादा लोगों को फायदा होगा.  उन्होंने कहा कि राज्य में बीते चार साल में भाजपा ने जितने मकान बनवाएं हैं, उतने मकान बनवाने में कांग्रेस को करीब 30 साल लगेंगे.  प्रधानमंत्री ने कहा कि भाजपा सरकार ने समाज के सभी वर्गो के लिए योजनाएं बनाकर विकास के अपने ट्रैक रिकॉर्ड को साबित किया है. 

छत्तीसगढ़ के बिलासपुर में पीएम मोदी ने कहा- उन्होंने बंटवारा चुना, हमने विकास​

टिप्पणियां

 

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement