NDTV Khabar

सबसे आखिर में राजस्थान चुनाव क्यों? कांग्रेस नेता सचिन पायलट ने NDTV से कही यह बात...

NDTV से बात करते हुए सचिन पायलट (Sachin Pilot) ने कहा कि अब बीजेपी  को लोग राजस्थान से बेदखल करना चाहते हैं. बदलाव होगा और नई सरकार का गठन होगा. कांग्रेस वहां सरकार बनाएगी.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
सबसे आखिर में राजस्थान चुनाव क्यों? कांग्रेस नेता सचिन पायलट ने NDTV से कही यह बात...

कांग्रेस नेता सचिन पायलट.

खास बातें

  1. सचिन पायलट में राजस्थान में जीत का भरोसा जताया
  2. कांग्रेस नेता ने कहा- जनता अब बदलाव चाहती है
  3. राजस्थान और तेलंगाना में 7 दिसंबर को होगा मतदान
नई दिल्ली: पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान कर दिया गया है. मुख्य चुनाव आयुक्त ने शनिवार को चुनाव ने तिथियों की घोषणा की. चुनाव आयोग ने अनुसार, मध्यप्रदेश  और मिजोरम में 28 नवंबर को चुनाव होंगे. वहीं, छत्तीसगढ़ में दो चरणों में 12 और 20 नवंबर को मतदान होगा. इसके अलावा सबसे आखिर में राजस्थान (Rajasthan Assembly Polls 2018) और तेलंगाना में एक ही दिन 7 दिसंबर को मत डाले जाएंगे. 11 दिसंबर को पांचों राज्यों के चुनाव के नतीजे घोषित किए जाएंगे. इन सबके बीच कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष सचिन पायलट (Sachin Pilot) ने राजस्थान में सबसे आखिर में होने वाले चुनाव के लिए भी मोदी सरकार पर निशाना साधा. सचिन पायलट ने NDTV से बातचीत के दौरान कहा कि यह निर्णय चुनाव आयोग का है, लेकिन हो सकता है कि बीजेपी को राजस्थान सबसे मुश्किल लगता हो और बाकी राज्यों में चुनाव खत्म होने के बाद उनके सारे नेता राजस्थान में डेरा डालना चाहते हों, लेकिन जनता अपना मन बना चुकी हैं और वहां बीजेपी का कुछ होने वाला नहीं है. 

यह भी पढ़ें : बीजेपी की टेंशन बढ़ाने वाला सर्वे: MP, राजस्थान, छत्तीसगढ़ से भाजपा की विदाई, कांग्रेस की हो सकती है सत्ता में वापसी

सचिन पायलट ने कहा कि हमारी पार्टी में सबकुछ ठीक है. हमारी पार्टी मजबूत होते आ रही है. सबसे पहले हमें वहां से वसुंधरा राजे की विदाई करनी है, इसके बाद वहां नेता चुने जाएंगे. सचिन पायलट ने कहा कि चुनाव की तारीखों की घोषणा का मैं स्वागत करता हूं. उन्होंने कहा कि राजनीति में चुनाव लोकतंत्र में एक पर्व है. अब बीजेपी  को लोग वहां से बेदखल करना चाहते हैं. विधानसभा चुनाव में जनता को राहत मिलेगी. बदलाव होगा और नई सरकार का गठन होगा.

यह भी पढ़ें : क्या PM मोदी की रैली की वजह से बदला गया चुनाव आयोग के प्रेस कॉन्फ्रेंस का वक्त

vasundhara raje budget pti

राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे.  (फाइल फोटो)

राजस्थान प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सचिन पायलट ने कहा कि अब जरूरी यह है कि आचार संहिता का पालन हो. मैं बहुत विनम्रता से कह रहा हूं कि हमें लगता है कि राजस्थान में जनता का आशीर्वाद कांग्रेस पार्टी के साथ होगा. मुझे एक बात और अजीब लगा कि चुनाव की तारीख के ऐलान से ठीक आधे घंटे पहले मुख्यमंत्री जी ने कहा कि हम ग्रामीण क्षेत्रों के किसानों को मुफ्त बिजली देंगे. मुझे अजीब लगता है कि पांच साल तक मुख्यमंत्रीजी को किसानों को याद नहीं आई और न कृषि को याद आई. चुनाव से पहले अब एक और जुमला पकड़ा दिया है. यह सिर्फ सरकार की गिरती हुई साख और सरकार को बचाने की कोशिश है, लेकिन जनता बहुत समझदार है. उन्होंने कहा कि वसुंधरा सरकार का जाना तय है और चुनाव तो हम जीतेंगे. 

यह भी पढ़ें :  संघ के स्वयंसेवक और 6 बार बीजेपी विधायक रहे घनश्याम तिवाड़ी राजस्थान में खड़ा करेंगे 'तीसरा दल'

सचिन पायलट ने कहा कि आचार संहिता की घोषणा हो चुकी है. उन्होंने कहा कि अब प्रशासन के दुरुपयोग पर रोक लगाई जाए. उन्होंने निष्पक्ष चुनाव की उम्मीद जताई है. सचिन पायलट ने कहा कि प्रशासन के दुरुपयोग पर रोक लगे और आचार संहिता का पालन हो. 

टिप्पणियां
VIDEO : देखें सचिन पायलट का पूरा इंटरव्यू


बता दें कि इन 5 राज्यों के चुनाव काफी अहम हैं, क्योंकि इसके बाद सीधे लोकसभा चुनाव होने हैं  इसलिए इन विधानसभा चुनावों को लोकसभा चुनाव के सेमीफाइनल की तरह देखा जा रहा है.  


सभी राज्यों की सीटों का ब्योरा

  1. छत्तीसगढ़ में कुल सीटें : 90, एससी के लिए आरक्षित सीटें- 10, एसटी के लिए आरक्षित सीटें- 29
  2. मध्य प्रदेश में कुल सीटें : 230, एससी के लिए आरक्षित सीटें- 35, एसटी के लिए आरक्षित सीटें- 47
  3. राजस्थान में कुल सीटें : 200, एससी के लिए आरक्षित सीटें- 34, एसटी के लिए आरक्षित सीटें- 25
  4. तेलंगाना में कुल सीटें : 119, एससी के लिए आरक्षित सीटें- 19, एसटी के लिए आरक्षित सीटें-12
  5. मिजोरम में कुल सीटें : 40, एससी के लिए आरक्षित सीटें-0, एसटी के लिए आरक्षित सीटें- 39

मतदाताओं की लिस्ट कब होगी जारी
  1. छत्तीसगढ़- 27 अक्टूबर
  2. मध्य प्रदेश- 27 अक्टूबर
  3. मिजोरम- 27 अक्टूबर
  4. राजस्थान- 28 अक्टूबर
  5. तेलंगाना- 12 नवंबर

कितने होंगे पोलिंग स्टेशन
  1. छत्तीसगढ़- 23,632
  2. मध्य प्रदेश- 65,341 
  3. मिजोरम- 1,164
  4. राजस्थान- 51,796 
  5. तेलंगाना- 32,574

छत्तीसगढ़ के पहले चरण की 18 सीटों के लिए कार्यक्रम
  1. अधिसूचना जारी होगी- 16.10.2018
  2. नामांकन की आखिरी दिन - 23.10.2018
  3. नामांकन की जांच- 24.10.2018
  4. नामांकन वापस लेने का आखिरी दिन- 26.10.2018 
  5. मतदान की तारीख- 12.11.2018
  6. नतीजे आएंगे- 11.12.2018 

छत्तीसगढ़ के दूसरे चरण की 72 सीटों के लिए कार्यक्रम
  1. अधिसूचना जारी होगी-26.10.2018
  2. नामांकन की आखिरी दिन- 02.11.2018
  3. नामांकन की जांच-03.11.2018
  4. नामांकन वापस लेने का आखिरी दिन-05.11.2018
  5. मतदान की तारीख-20.11.2018
  6. नतीजे आएंगे-11.12.2018

मध्य प्रदेश का चुनाव कार्यक्रम
  1. अधिसूचना जारी होगी-02.11.2018
  2. नामांकन की आखिरी दिन- 09.11.2018 
  3. नामांकन की जांच- 12.11.2018
  4. नामांकन वापस लेने का आखिरी दिन- 14.11.2018 
  5. मतदान की तारीख- 28.11.2018 
  6. नतीजे आएंगे- 11.12.2018 

राजस्थान का चुनाव कार्यक्रम
  1. अधिसूचना जारी होगी- 12.11.2018 
  2. नामांकन की आखिरी दिन- 19.11.2018 
  3. नामांकन की जांच- 20.11.2018 
  4. नामांकन वापस लेने का आखिरी दिन- 22.11.2018
  5. मतदान की तारीख- 07.12.2018
  6. नतीजे आएंगे- 11.12.2018 

मिजोरम का चुनाव कार्यक्रम
  1. अधिसूचना जारी होगी- 02.11.2018
  2. नामांकन की आखिरी दिन- 09.11.2018
  3. नामांकन की जांच- 12.11.2018
  4. नामांकन वापस लेने का आखिरी दिन- 14.11.2018 
  5. मतदान की तारीख- 28.11.2018
  6. नतीजे आएंगे- 11.12.2018 

तेलंगाना का चुनाव कार्यक्रम
  1. अधिसूचना जारी होगी- 12.11.2018 
  2. नामांकन की आखिरी दिन- 19.11.2018
  3. नामांकन की जांच- 20.11.2018 
  4. नामांकन वापस लेने का आखिरी दिन- 22.11.2018
  5. मतदान की तारीख- 07.12.2018
  6. नतीजे आएंगे- 11.12.2018 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement