NDTV Khabar

Fanney Khan: एक्टिंग नहीं म्यूजिक के भी शौकीन हैं अनिल कपूर, 12 की उम्र में कर दिखाया था ये कारनामा

अनिल कपूर बेशक 61 साल के हो चुके हैं, लेकिन आज भी उनमें पहले जैसी एनर्जी कायम है. 'रेस 3' में अपनी एक्टिंग का लोहा मनवाने के बाद अनिल कपूर (Anil Kapoor) अब 'फन्ने खां (Fanney Khan)' लेकर आ रहे हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
Fanney Khan: एक्टिंग नहीं म्यूजिक के भी शौकीन हैं अनिल कपूर, 12 की उम्र में कर दिखाया था ये कारनामा

'फन्ने खां' में अनिल कपूर, ऐश्वर्या राय बच्चन और राजकुमार राव हैं लीड रोल में

खास बातें

  1. लीड रोल में हैं अनिल कपूर
  2. ऐश्वर्या राय बच्चन बनीं हैं सिंगर
  3. राजकुमार राव भी आएंगे नजर
नई दिल्ली: अनिल कपूर बेशक 61 साल के हो चुके हैं, लेकिन आज भी उनमें पहले जैसी एनर्जी कायम है. अनिल कपूर बॉलीवुड में पूरी तरह एक्टिव हैं और कमाल के रोल भी कर रहे हैं. 'रेस 3' में अपनी एक्टिंग का लोहा मनवाने के बाद अनिल कपूर (Anil Kapoor) अब 'फन्ने खां (Fanney Khan)' लेकर आ रहे हैं.  'फन्ने खां' में अनिल कपूर ऐसे पिता का किरदार निभा रहे हैं जो अपनी बेटी को सिंगर बनाना चाहता है. फिल्म में उनके साथ ऐश्वर्या राय बच्चन और राजकुमार राव भी हैं. 'फन्ने खां' में अनिल कपूर खुद भी एक सिंगर हैं और वे ट्रम्पेट बजाते नजर भी आ रहे हैं. लेकिन यह पहला मौका नहीं है जब अनिल कपूर किसी म्यूजिकल इंसट्रूमेंट पर हाथ साफ कर रहे हैं.

सपना चौधरी ने बदल डाला रंग-ढंग, पतलून-टॉप में कहर ढाती नजर आई 'हरियाणा की छोरी'- बार-बार देखेंगे Video



कपिल शर्मा की 'वाइफ' पर इस शख्स ने किया बेल्ट से हमला तो उसकी कुछ इस तरह हुई धुनाई, देखें वीडियो

अनिल कपूर ने 1983 में "वो सात दिन" के लिए हारमोनियम सीखकर अपने बॉलीवुड करियर की शुरुवात की थी और अब "फन्ने खां" के लिए अनिल कपूर ने ट्रम्पेट पर हाथ आजमाया है. भले ही इन दोनों फिल्मों के बीच 35 साल का अंतराल हो है लेकिन इंस्ट्रूमेंट सीखने की ललक हमेशा की तरह आज भी बुलंद है. जिस तरह वे हारमोनियम के उस्ताद बन गए थे, उसी तरह वे ट्रम्पेट के भी माहिर हो गए हैं. अनिल कपूर ने  कहा, "कड़ी मेहनत की जरूरत थी. ट्रम्पेट मेरे चरित्र का एक अभिन्न हिस्सा है. यह पूरी फिल्म में मेरे साथ रहता है. मैं नया इंस्ट्रूमेंट सीखने के लिए उत्साहित था और पेशेवर खिलाड़ी रमेश कुमार गुरुंग से इसे बजाना सीखा है."

Sanju Box Office Collection Day 17: 'संजू' के आगे तोड़ा Soorma ने दम, Ant Man भी नहीं टिकी



Rahul Gandhi ने अनुराग कश्यप के 'सैक्रेड गेम्स' पर किया कुछ इस तरह का ट्वीट, बॉलीवुड का यूं आया रिएक्शन

अनिल कपूर अपनी फिल्मों में तरह-तरह के इंस्ट्रूमेंट बजा चुके है, 1971 में आई फिल्म "तू पायल मैं गीत" में बतौर बाल कलाकार वह सितार भी बजा चुके हैं लेकिन इन सब के बीच ट्रम्पेट सीखना उनके लिए सबसे मुश्किल था. उन्होंने बताया, "इसे बजाना और एक्टिंग के साथ इसे बजाना, दो अलग-अलग बातें हैं. इंस्ट्रूमेंट बजाने के समय हावभाव व्यक्त करना चुनौतीपूर्ण था. मेरा किरदार फन्ने जब भी दुःखी या खुश होता है तो वह इसे बजाता है इसिलए मुझे इसे रियल दिखाने की जरूरत थी."

प्रियंका चोपड़ा ने किया न्यूयॉर्क की सड़कों पर डांस, Video देख कहेंगे Wow...

टिप्पणियां

अनिल कपूर ने अकसर संगीत सीखने के लिए किसी चीज को बीच में आने नहीं दिया. सितार सीखने की उनकी कोशिश के दौरान उन्हें रोजाना चेम्बूर से बांद्रा तक सफर करना पड़ता था जबकि उस समय वे सिर्फ 12 वर्ष के थे. "वो सात दिन" के लिए हारमोनियम सीखने के दौरान, अपने किरदार को न्याय देने के लिए अनिल ने अर्द्ध शास्त्रीय संगीत में महारत हासिल की थी. "मैंने उस्ताद इकबाल अहमद खान से हारमोनियम की शिक्षा ग्रहण की थी. संगीत ने मेरे करियर का एक अभिन्न अंग रहा है. मैंने जो किरदार निभाए है उनके जरिये मुझे राग और ताल की समझ आई."

 ...और भी हैं बॉलीवुड से जुड़ी ढेरों ख़बरें...


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement