NDTV Khabar

Holi 2018: होली की ऐसी रोमांटिक शायरी जो माहौल को बना देगी और भी रंगीन

रंगों का त्योहार होली के मौके पर लोग अक्सर गानों पर झूमते हुए ही दिखाई देते हैं. कोई पापड़-गुझिया खाना पसंद करता है तो कोई दोस्तों के साथ घूम-घूमकर होली खेलता है.

150 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
Holi 2018: होली की ऐसी रोमांटिक शायरी जो माहौल को बना देगी और भी रंगीन

प्रतीकात्मक तस्वीर

खास बातें

  1. होली पर चुनिंदा रोमांटिक शायरी
  2. मशहूर शायरों ने लिखे ऐसे शेर
  3. होली पर बन जाएगा माहौल
नई दिल्ली: रंगों का त्योहार होली के मौके पर लोग अक्सर गानों पर झूमते हुए ही दिखाई देते हैं. कोई पापड़-गुझिया खाना पसंद करता है तो कोई दोस्तों के साथ घूम-घूमकर होली खेलता है. गली-मोहल्लों में होली के गाने तो सुनने को मिल जाते हैं लेकिन जब बात आती है इससे जुड़ी शेर-ओ-शायरी कि हमें होली पर होने वाले कवि सम्मेलन की तरफ रुख करना होता है. ऐसे में हम आपको बताने वाले हैं मशहूर शायरों की चुनिंदा 5 ऐसी रोमांटिक शायरी जिसे पढ़ने के बाद होली का माहौल और भी रंगीन बना देगा. रेखता की साइट से मिली इन शायरी को आप होली के मौके पर जरूर गुनगुनाना चाहेंगे.

Holi 2018: होली का खुशनुमा माहौल जब तब्दील हो गया डर और खौफ में, रंगों में घुल गया लहू

होली के मौके पर पढ़ें मशहूर शायरों की रोमांटिक शायरी

1.
मौसम-ए-होली है दिन आए हैं रंग और राग के
हम से तुम कुछ मांगने आओ बहाने फाग के
- मुसहफ़ी ग़ुलाम हमदानी

2. 
होली के अब बहाने छिड़का है रंग किस ने
नाम-ए-ख़ुदा तुझ ऊपर इस आन अजब समाँ है
- शैख़ ज़हूरूद्दीन हातिम

3.
डाल कर ग़ुंचों की मुँदरी शाख़-ए-गुल के कान में
अब के होली में बनाना गुल को जोगन ऐ सबा
- मुसहफ़ी ग़ुलाम हमदानी

4.
सजनी की आँखों में छुप कर जब झाँका
बिन होली खेले ही साजन भीग गया
- मुसव्विर सब्ज़वारी

टिप्पणियां
5.
मुहय्या सब है अब अस्बाब-ए-होली
उठो यारो भरो रंगों से झोली
- शैख़ ज़हूरूद्दीन हातिम

 ...और भी हैं बॉलीवुड से जुड़ी ढेरों ख़बरें...


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement