NDTV Khabar

National Film Awards: श्रीदेवी का बेस्ट एक्ट्रेस अवॉर्ड लेने पहुंचीं बेटी जाह्नवी, दिव्या और पंकज त्रिपाठी को स्मृति ईरानी से मिला पुरस्कार

राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार समारोह नई दिल्ली स्थित विज्ञान भवन में विजेताओं को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, सूचना एवं प्रसारण मंत्री स्मृति ईरानी और खेल मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौर पुरस्कार वितरित किये.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
National Film Awards: श्रीदेवी का बेस्ट एक्ट्रेस अवॉर्ड लेने पहुंचीं बेटी जाह्नवी, दिव्या और पंकज त्रिपाठी को स्मृति ईरानी से मिला पुरस्कार

बॉलीवुड एक्टर पंकज त्रिपाठी पुरस्कार ग्रहण करते हुए

खास बातें

  1. राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार समारोह वितरित
  2. विनोद खन्ना को दादा साहेब फाल्के पुरस्कार
  3. श्रीदेवी को बेस्ट एक्ट्रेस का अवॉर्ड बेटी जाह्नवी ने लिया
नई दिल्ली:

राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार समारोह नई दिल्ली स्थित विज्ञान भवन में विजेताओं को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, सूचना एवं प्रसारण मंत्री स्मृति ईरानी और खेल मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौर पुरस्कार वितरित किये. राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद सिर्फ 11 विजेताओ को ही सम्मानित किया. इस पुरस्कार समारोह में 137 लोगों को सम्मानित किया जाना था, जिसमें 75 पुरस्कार विजेता राष्ट्रपति द्वारा सम्मानित न किये जाने पर समारोह पर नहीं पहुंचे. विजेताओं में दिवंगत विनोद खन्ना को मिला दादासाहेब फाल्के अवार्ड उनके बेटे अक्षय खन्ना लेने आए तो दिवंगत श्रीदेवी के स्थान पर बोनी अपनी बेटियों जान्हवी और खुशी के साथ पुरस्कार लेने पहुंचे. 

राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार: ऑस्कर विजेता आर्टिस्ट को आया गुस्सा, बोले- 'अगर आप हमें 3 घंटे नहीं दे सकते, तो मत दीजिए नेशनल अवार्ड'


बता दें कि राष्ट्रपति के सिर्फ 11 लोगों को सम्मानित करने को लेकर काफी हंगामा मचा हुआ है और कुछ कलाकारों  ने इसका विरोध किया है. दिव्या दत्ता को 'इरादा' फिल्म के लिए बेस्ट सपोर्टिंग एक्ट्रेस के अवार्ड से नवाजा गया. गणेश आचार्य को 'टॉयलेटः एक प्रेम कथा' के 'गोरी तू लट्ठ मार' के लिए बेस्ट कोरियोग्राफर का पुरस्कार मिला. ये उनका दूसरा राष्ट्रीय पुरस्कार है. पंकज त्रिपाठी को 'न्यूटन' के लिए स्पेशल मेंशन नेशनल अवार्ड मिला. 
 
divya dutt

अपने पिता विनोद खन्ना को मरणोपरांत मिला दादा साहेब फाल्के पुरस्कार ग्रहण करने के लिए आज राष्ट्रीय राजधानी में मौजूद अभिनेता अक्षय खन्ना ने कहा कि यह उनके परिवार के लिए खुशी और गम दोनों का पल है. उन्होंने कहा, ''हम एक परिवार के रूप में बेहद गौरवान्वित महसूस कर रहे हैं. यह हमारे लिए खुशी और गम दोनों का पल है. काश मेरे पिता यह पुरस्कार लेने के लिए यहां होते. मुझे उनकी कमी खल रही है. यह हमारे लिए जज्बातों से भरा दिन है.'' समारोह में 'मॉम' फिल्म के अभिनेता अपनी सौतेली मां कविता दफ्तरी के साथ आए थे.

National Film Awards को लेकर ट्विटर पर निकली भड़ास, डायरेक्टर बोले- राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कारों के इतिहास में काला दिन

विनोद खन्ना का पिछले साल 27 अप्रैल को निधन हो गया था. वह कैंसर से पीड़ित थे. 1968 में आयी फिल्म ‘मन का मीत’ से करियर की शुरूआत करने वाले अभिनेता की आखिरी फिल्म शाहरूख खान अभिनीत ‘दिलवाले’ थी. खन्ना राजनीति में भी सक्रिय थे और चार बार लोकसभा चुनाव जीते थे. वह केंद्रीय मंत्री भी रहे. फिल्म करियर की शुरूआत नकारात्मक भूमिकाओं से करने के बाद खन्ना हिंदी फिल्मों में नायक की भूमिकाओं में नजर आने लगे. 

नायक के रूप में उनकी पहली फिल्म ‘हम तुम और वो’ थी. उनकी प्रमुख फिल्मों में ‘ऐलान’, ‘मेरा गांव मेरा देश’, ‘मेरे अपने’, ‘परवरिश’, ‘जमीर’, ‘अमर अकबर एंथनी’, ‘हेराफेरी ’, ‘खून पसीना’ सहित अन्य शामिल हैं.

टिप्पणियां

(इनपुट भाषा से भी)

 ...और भी हैं बॉलीवुड से जुड़ी ढेरों ख़बरें...


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement