NDTV Khabar

Noblemen Trailer: 'नोबलमेन' का दमदार ट्रेलर हुआ रिलीज, धाकड़ अंदाज नजर आए कुणाल कपूर- देखें Video

कुणाल कपूर (Kunal Kapoor) की फिल्म 'नोबलमेन' (Noblemen) का ट्रेलर रिलीज हो गया. इस जबरदस्त ट्रेलर को बार-बार देखा जा रहा है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
Noblemen Trailer: 'नोबलमेन' का दमदार ट्रेलर हुआ रिलीज, धाकड़ अंदाज नजर आए कुणाल कपूर- देखें Video

कुणाल कपूर (Kunal Kapoor) की फिल्म 'नोबलमेन' का ट्रेलर हुआ रिलीज

खास बातें

  1. कुणाल कपूर की फिल्म 'नोबलमेन' का ट्रेलर हुआ रिलीज
  2. फिल्म में ड्रामा टीचर की भूमिका निभाएंगे कुणाल कपूर
  3. बोर्डिंग स्कूलों में गुंडागर्दी पर आधारित है ये फिल्म
नई दिल्ली:

कुणाल कपूर (Kunal Kapoor) की अपकमिंग फिल्म 'नोबलमेन' (Noblemen) का ट्रेलर रिलीज हो गया. कुणाल कपूर (Kunal Kapoor) अभिनीत इस फिल्म से निर्देशक वंदना कटारिया (Vandana Kataria) अपने निर्देशन करियर की शुरुआत कर रही हैं. ट्रेलर देखकर ऐसा लगता है कि फिल्म की रोचक कहानी दर्शकों को बांधे रखेगी और हर मोड़ पर उन्हें आगे की कहानी का अनुमान लगाने को मजबूर कर देगी. ट्रेलर रहस्यपूर्ण होने का साथ ही प्रासंगिक भी है. एक थ्रिलर मनोवैज्ञानिक ड्रामे के रूप में 'नोबलमेन' (Noblemen) एक बहुत ही अहम मुद्दे, स्कूलों में दादागिरी या गुंडागर्दी को सामने रखती है जिस पर बहुत बात नहीं होतीं लेकिन इसका नौजवानों के दिलो-दिमाग पर गहरा असर होता है.

हैकर से पहले ही इस एक्ट्रेस ने शेयर कर दीं अपनी न्यूड फोटो, ट्विटर पर फैन्स ने यूं किया सपोर्ट


देखें वीडियो:

प्राकृतिक और खूबसूरत शहर मसूरी के एक प्रतिष्ठित बोर्डिंग स्कूल की पृष्ठभूमि में फिल्माई गई नोबलमेन (Noblemen) फिल्म की कहानी एक 15 साल के लड़के शय (अली हाजी) उसके साथियों व शिक्षकों के साथ उसके संबंधों के ईर्द-गिर्द घूमती है, जिनसे वह अपने किशोरावस्था के उतार-चढ़ाव भरे सफर के दौरान रूबरू होता है. स्कूलों, कॉलेजों और यहां तक कि कार्यालयों में दादागिरी से संबंधित मीडिया रिपोर्ट्स में बढ़ोतरी हुई है. इसके मद्देनजर नोबलमेन (Noblemen) इस मुद्दे पर प्रकाश डालती बेहद प्रासंगिक फिल्म है.

अलाया फर्नीचरवाला की सैफ अली खान के साथ फोटो हुई वायरल तो मम्मी पूजा बेदी ने कही ये बात

इस फिल्म में काम करने को लेकर कुणाल कपूर (Noblemen) ने कहा, 'दादागिरी (बदमाशी) और उसके बाद मिला मानसिक, शारीरिक और भावनात्मक आघात एक ऐसा विषय है जिसे हमारी फिल्मों में नहीं दिखाया जाता. हमारी फिल्मों में स्कूल और कॉलेज आमतौर पर परफेक्ट होते हैं. लेकिन असली जीवन में ऐसा नहीं है. यह दुनिया दोषयुक्त है और वही वास्तविक है. यह फिल्म उसी अपूर्ण दुनिया के बारे में है, और उन चुनौतियों के बारे में है जिनका बच्चे स्कूल में हर रोज सामना करते हैं.' बता दें कुणाल कपूर (Kunal Kapoor) की फिल्म 'नोबलमेन' (Noblemen) 28 जून को सिनेमाघरों में रिलीज होने वाली है.  

टिप्पणियां

...और भी हैं बॉलीवुड से जुड़ी ढेरों ख़बरें...



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement